Ad

Archive for: March 2013

प्रभु यीशु मुर्दों में जी उठा : हैप्पी ईस्टर

:

प्रभु यीशु मुर्दों में जी उठा : हैप्पी ईस्टर

प्रभु यीशु मुर्दों में जी उठा : हैप्पी ईस्टर

प्रभु यीशु मुर्दों में जी उठा |प्रभु के पुनर्जन्म लेने का पर्व ईस्टर आज ३१ मार्च रविवार को श्रधा भाव से से मनाया गया। गिरजाघरों में विशेष प्रार्थना सभाएं हुई। प्रभु यीशु को मानने वालों ने बाइबिल का पाठ कर प्रभु के फिर से जीवित होने की खुशियां मनाई।चर्चो में विशेष प्रार्थना की गई। यीशु के बताए प्रेम और सेवा के मार्ग पर चलने का संकल्प दिलाया गया |
गौरतलब है कि प्रभु यीशु को गुड फ्राइडे पर सलीब पर लटकाया गया था इसके बाद आज ईस्टर पर वह पुन: जीवित हो उठे थे,|यह पवित्र दिन होता है।
मान्यता नुसार पूर्वजों की कब्र पर श्रद्धांजलि अर्पित की गई । ।मोमबत्ती जलाकर उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की गई ।

७ लाख प्रोटेस्ट लेटर डिलीवर करने जाने वाले आप के कार्यकर्ताओं को रोका गया तो वही बैठ जायेंगे:अरविन्द केजरीवाल

आप के कार्यकर्ताओं को रोका गया तो वही बैठ जायेंगे:अरविन्द केजरीवाल

आप के कार्यकर्ताओं को रोका गया तो वही बैठ जायेंगे:अरविन्द केजरीवाल

अरविन्द केजरीवाल ने दिल्ली सरकार को चेतावनी दी है के ७ लाख प्रोटेस्ट लेटर डिलीवर करने जाने वाले आप के कार्यकर्ताओं को रोका गया तो जहाँ उन्हें रोक जाएगा सारे वहीं बैठ जायेंगे |:अरविन्द केजरीवाल आम आदमी पार्टी [आप]द्वारा चलाये जा रहे सविनय अवज्ञा आन्दोलन [असहयोग ] के समर्थन में आये असहयोगियों से प्राप्त प्रोटेस्ट पत्रों को सोमवार को दिल्ली की मुख्य मंत्री श्रीमती शीला दीक्षित के निवास पर डिलीवर किया जाएगा| इस अवसर पर अरविन्द केजरीवाल ने दिल्ली सरकार को चेतावनी दी है के ७ लाख प्रोटेस्ट लेटर डिलीवर करने जाने वाले आप के कार्यकर्ताओं के ग्रुप को रोका नहीं जाना चाहिए |
पार्टी प्रवक्ता अस्वती मुरलीधरन के अनुसार एक अप्रैल को २७२ के ग्रुप में कार्यकर्ता शीला दीक्षित के निवास पर जायेंगे और ७ लाख प्रोटेस्ट लेटर्स डिलीवर किये जायेंगे| दिल्ली पोलिस को पार्टी द्वारा इन्फॉर्म किया गया है के सोमवार को सुबह साड़े दस बजेसुन्दर नगरी से कार्यकर्ताओं का जत्था शांति पूर्वक रिक्शा +ऑटो में मार्च करेगा|पोलिस द्वारा इसमें एतराज किया जा रहा है| इस पर अरविन्द केजरीवाल ने व्यंग करते हुए कहा है के अगर दिल्ली पोलिस को हमारे शान्ति पूर्वक मार्च पर ऐतराज है तो कहीं न कहीं शीला दीक्षित को परेशानी जरुर हो रही है| उन्होंने शीला दीक्षित को चेतावनी देते हुए कहा है के अगर उनके जत्थे को बल पूर्वक रोक गया तो जहां रोक जाएगा वहीं बैठ जायेंगे|
उपवास के ९वे दिन अरविन्द केजरीवाल की हेल्थ स्थिर बताई जा रही है[१]|ब्लड प्रेशर =१०९/७२[२]पल्स= ७२[३] शुगर =११२[४]केटोने=३+है

नई कार्यकारिणी में नरेन्द्र मोदी को सुरक्षा कवच और वरुण गाँधी को उत्तर प्रदेश में नया चैलेन्ज मिला

भाजपा ने २०१४ के लोक सभा के चुनावों में विजय निर्माण के लिए अपने राजनीतिक अभियंताओं के दल की घोषणा कर दी है|इस में विशेष तौर से आज केवल दो तीन नामो पर चर्चा किया जाना श्रेयकर रहेगा|
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष राज नाथ सिंह के लिए घोषित टीम में गुजरात के मुख्य मंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ उनके विशेष सिपाहसालार अमित शाह और उत्तर प्रदेश में सांसद वरुण गांधी को राष्ट्रीय टीम में शामिल किया गया है|इससे कई निशाने साधने के प्रयास किये गए हैं|
नरेन्द्र मोदी अभी तक विरोधियों के अलावा अनेकों एन जी ओ के निशाने पर रहे हैं| मोदी के अलावा गुजरात के ही अमित शाह भी आरोपों में घिरे हैं|यहाँ तक की उन्हें जमानत पर छोड़ा गया है| तमाम विरोधों के बावजूद पहले अमित शाह को राज्य की मुख्य राजनीतिक धारा में लाया गया और अब अमित को राष्ट्रीय धारा में शामिल किया गया है|इसका एक प्रभाव तो यह हुआ है के आज नरेन्द्र मोदी से ज्यादा अमित शाह की आलोचना होने लग गई है| विरोध के स्वरों का लक्ष्य बदलने लग गया है|नरेन्द्र मोदी की कम और अमित शाह की आलोचना ज्यादा हो रही है|अमित के अपराधिक और साम्प्रदाईक दंगों के रिपोर्ट कार्ड को आगे लाया जा रहा है| गुजरात में विपक्षी और भाजपा में अपने नेताओं के सुरों में अमित गूंजने लगा है| आजकल नरेन्द्र मोदी अमेरिका की प्रशंसा पाने के लिए जरुरत से ज्यादा व्यस्त दिखाई देते हैं लेकिन इसके साथ ही केंद्र में भी मोदी की ढाल के रूप में अमित शाह को इंट्रोड्यूस कर दिया गया है|शायद यही पार्टी का उद्देश्य भी हो सकता है|
इसके अलावा युवा सांसद वरुण गाँधी को महासचिव के पद पर प्रोमोट किया गया है|उत्तर प्रदेश से सांसद वरुण को उत्तर प्रदेश में बड़ी भूमिका दी जा सकती है|वरुण के चचेरे बड़े भाई राहुल गांधी के मुकाबिले भाजपा को प्रभावी चेहरे की तलाश थी जो अब दूर हो सकती है| पिली भीत में दिए अपने विवादित बयानों से वरुण गांधी ने एक विशेष तबके को अपनी तरफ आकर्षित किया है|यह उनकी उपलब्धि साबित हो सकती है|इसके अलावा यह कहना अनुचित नहीं होगा के कांग्रेस के राहुल गांधी भरसक प्रयासों के बावजूद भी कांग्रेस को उत्तर प्रदेश में कुछ ख़ास मुकाम नहीं दिला सके अब यदि वरुण गांधी यहाँ हिट हो जाते हैं तो स्वाभाविक रूप से दोनों भाईयों में तुलना शुरू हो जायेगी और इसका लाभ वरुण को राष्ट्रीय स्तर पर जरुर मिलेगा

भाजपा ने १६ वी लोक सभा के चुनावों में विजयश्री इंजीनियर करने के लिए नई टीम का ऐलान किया

भारतीय जनता पार्टी [भाजपा]की नई केन्द्रीय टीम का आज ऐलान कर दिया गया है| यह टीम 2014 लोकसभा चुनावों में पार्टी के लिए विजयश्री को इंजीनियर करेगी|
उम्मीदों के मुताबिक गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी को पार्टी के संसदीय बोर्ड में शामिल कर लिया गया है. इसके अलावा सचिव वरुण गांधी को प्रोमोट करके महासचिव बनाया गया है|लेकिन इस टीम में बेल पर छूटे गुजरात के विवादित नेता अमित शाह को भी शामिल किया गया है|
इस नयी टीम के अनुसार शीर्ष नीति निर्धारक इकाई केंद्रीय संसदीय बोर्ड में मोदी सहित 12 लोगों को शामिल किया गया है.नये संसदीय बोर्ड के सदस्य हैं- [१]राजनाथ सिंह[२] अस्वस्थ्य चल रहे अटल बिहारी वाजपेयी[३] लालकृष्ण आडवाणी, [४]मुरली मनोहर जोशी[५] एम वैंकेया नायडू[६]नितिन [७] सुषमा स्वराज[८] अरुण जेटली[९]नरेंद्र मोदी[१०]अनंत कुमार[११] थावर चंद्र गहलोत [१२] राम लाल.
दस सदस्यीय महासचिव मंडल में वरुण गांधी और अमित शाह को जगह दी गई है. इन महासचिवों में अनंत कुमार, जे पी नड्डा, अमित शाह, वरुण गांधी, राजीव प्रताप रुडी, को भी शामिल किया गया हैं.
पार्टी के 15 सदस्यीय सचिव मंडल में श्याम जाजू, भूपेंद्र यादव, कृष्णा दास ,अनिल जैन, विनोद पांडे, त्रिवेंद्र रावत, रामेश्वर चौरसिया, श्रीमती आरती मेहरा, श्रीमती रेणु कुशवाहा, श्रीमती सुधा यादव, श्रीमती सुधा मालवीय, श्रीमती पूनम महाजन, श्रीमती लुई मरांडी, श्रीमती तमिल इसाई और सुश्री वाणि त्रिपाठी शामिल

भाजपा ने १६ वी लोक सभा के चुनावों में विजयश्री इंजीनियर करने के लिए नई टीम का ऐलान किया

भाजपा ने १६ वी लोक सभा के चुनावों में विजयश्री इंजीनियर करने के लिए नई टीम का ऐलान किया


हैं.भाजपा की वेबसाइट पर दर्शाई जा रही कार्यकारिणी इस प्रकार है|

पार्टी अध्यक्ष

Shri Rajnath Singh, MP

उपाध्यक्ष

1 Shri Sadananda Gauda
2 Shri Mukhtar Abbas Naqvi
3 Shri Dr C. P. Thakur
4 Shri Jual Urao
5 Shri S. S. Ahluwalia
6 Shri Balbir Punj
7 Shri Satpal Malik
8 Shri Prabhat Jha
9 Sushri Uma Bharti
10 Smt. Bijyo Chakravarti
11 Smt. Lakxmikanta Chawla
12 Smt. Kiran Maheshwari
13 Smt. Smriti Irani

मुख्य सचिव

1 Shri Ananth Kumar
2 Shri Thawarchand Gehlot
3 Shri J. P. Naddha
4 Shri Dharmendra Pradhan
5 Shri Tapir Gaon
6 Shri Amit Shah
7 Shri Varun Gandhi
8 Shri Rajeev Pratap Rudy
9 Shri Murlidhar Rao
10 Shri Ramlal (GS Org.)

संयुक्त महासचिव

1 Shri V. Satish
2 Shri Soudan Singh

सचिव

1 Shri Shyam Jaju
2 Shri Bhupendra Yadav
3 Shri Krishna Das
4 Dr. Anil Jain
5 Shri Vinod Pandey
6 Shri Trivendra Rawat
7 Shri Rameshwar Chaurasiya
8 Smt. Aarti Mehra
9 Smt. Renu Kushwaha
10 Smt. Sudha Yadav
11 Smt. Sudha Malaiya
12 Smt. Poonam Mahajan
13 Smt. Luies Marandi
14 Smt. Dr. Tamil Isai
15 Sushree Vani Tripathi

कोषाध्यक्ष

Shri Piyush Goyel

मुख्यालय प्रभारी

Shri O. P. Kohli

कार्यालय सचिव संसदीय पार्टी

Dr. Ramkripal Sinha, Ex-MP

संसदीय दल

संयुक्त कार्यालय सचिव

Shri Shanmuknathan

प्रवक्ता पार्टी

1 Shri Prakash Jawdekar
2 Shri Shaha Nawaj Hussain
3 Smt. Nirmla Sitaraman
4 Shri Vijay Sonkar Shashtri
5 Dr. Sudhanshu Trivedi
6 Smt. Meenakshi Lekhi
7 Capt. Abhimanyu

मोर्चा अध्यक्ष

1 Mahila Morcha Sushri Saroj Pandey
2 Yuva Morcha Shri Anurag Thakur
3 SC Morcha Shri Dr. Sanjay Paswan
4 ST Morcha Shri Faggan Singh Kulaste
5 Minority Morcha Shri Abdul rashid
6 Kisan Morcha Shri Om Prakash Dhankar

केन्द्रीय संसदीय बोर्ड

1 Shri Rajnath Singh (President)
2 Shri Atal Bihari Vajpayee
3 Shri Lal Krishna Advani
4 Shri Dr. Murli Manohar Joshi
5 Shri M. Venkeya Naidu
6 Shri Nitin Gadkari
7 Smt. Sushma Swaraj
8 Shri Arun Jaitely
9 Shri Narendra Modi
10 Shri Anant Kumar
11 Shri Thawar Chand Gehlot
12 Shri Ram Lal (G.S. Org.)

. केन्द्रीय चुनाव कमेटी

1 Shri Rajnath Singh (President)
2 Shri Atal Bihari Vajpayee
3 Shri Lal Krishna Advani
4 Shri Dr. Murli Manohar Joshi
5 Shri M. Venkeya Naidu
6 Shri Nitin Gadkari
7 Smt. Sushma Swaraj
8 Shri Arun Jaitely
9 Shri Narendra Modi
10 Shri Anant Kumar
11 Shri Thawar Chand Gehlot
12 Shri Ram Lal (G.S. Org.)
13 Shri Gopinath Mundey
14 Shri Jual Oran
15 Shri Sayyeb Shahnawaj Hussain
16 Shri Vinay Katiyar
17 Shri J.P. Nadda
18 Dr. Harshwardhan
19 Sushree Saroj Pandey (Ex-Officio)

.

केन्द्रीय अनुशासन समिति

1 Shri Radha Mohan Singh (President)
2 Shri jagdeesh Mukhi (Secretary)
3 Shri L.Ganeshan (Member)
4 Shri Hari Babu (Member)
5 Shri Shyam Nandan Singh (Member)

१६ वी लोक सभा के लिए चुनाव आ पहुंचे हैं:एयर इंडिया में कटौती के लिए प्रो ढोलकिया के सुझाव क्या लागू होंगे

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

सिविल एविएशन मिनिस्ट्री का एक चीयर लीडर

ओये झल्लेया देखा अब हसाडी एयर इंडिया की उड़ान सातवें आसमान पर होगी|जस्टिस धर्माधिकारी के बाद अब प्रो आर एच ढोलकिया कमेटी ने भी अपनी रिपोर्ट दे दी है| ओये एयर इंडिया को अपनी बचत बढ़ाने और खर्चों में कटौती के लिए कई तरह के उपदेश दिए गए हैं |ओये अब रोजाना १४ करोड़ रुपयों के नुक्सान से छुटकारा मिलेगा|प्रो ढोलकिया ने तो ४६ प्रबंध मन्त्र दिए हैं|
एयर इंडिया के कर्मचारियों के 26,000 के विशाल बेड़े को तर्कसंगत बनाने के लिए तकनीकी क्षमता ऑडिट कराने का सुझाव आ गया है अब तय हो जाएगा कि किसको स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना (वीआरएस) दी जाए या किसे इधर से उधर एडजस्ट किया जाए | इस बेड़े के जम्बो साईज में भी कटौती करना आसान हो जाएगा|टैक्स फ्री बांड्स के माध्यम से रकम इकट्ठा करके महंगे ब्याज वाले कर्जे चुकताये जा सकेंगे|
घाटे वाले रूट्स पर एयर इंडिया की उड़ानें खत्म करके प्राईवेट वालों को लगाया जा सकेगा|
ओये यात्री एजेंटों से टिकट खरीदते हैं और एजेंटों को कमीशन एयर इंडिया को देनी पड़ती हैं अब ऐसा नहीं चलेगा |अगर एजेंटों को कमीशन लेना हो तो भैया सीधे यात्रियों से वसूलो | भी अगर ये सब हो गया तो १०००० करोड़ का महंगे ब्याज वाले लोन से छुट्टी मिलेगी औरइसके अलावा १००० करोड़ का अतिरिक्त खर्चा भी कम होगा|

 १६ वी लोक सभा के लिए चुनाव सर पर आ पहुंचे हैं:एयर इंडिया में सुधारों के नाम पर कटौती के सुझाव क्या लागू होंगे

१६ वी लोक सभा के लिए चुनाव सर पर आ पहुंचे हैं:एयर इंडिया में सुधारों के नाम पर कटौती के सुझाव क्या लागू होंगे


झल्ला

चतुर सुजाण जी ये सारी बातें सुनने में वाकई बहुत सुहावनी लग रही हैं मगर ये सारी दिल को बहलाने वाली ही हैं क्योंकि इससे कर्मचारियों की छटनी होगी जिससे कर्मचारियों में असंतोष बढेगा |यात्रियों को सर्विस चार्ज भी देनी पडेगा उनके झटके भी झेलने को तैयार रहना पडेगा|शायद इसीलिए अभी तक जस्टिस धर्माधिकारी की छटनी वाली रिपोर्ट बाहर नहीं निकाली गई है | आप की कार्यप्रणाली के विषय में नवीनतम दो उदहारण दिए जा सकते हैं[१]आपके कर्मचारी के जेब से कोलकत्ता में ६०० बोर्डिंग पास मिले हैं |[२] आपके नियामक को ठेंगा दिखाते हुए एक निजी एयर लाइन्स ने नए पायलट्स भर्ती करने का एलान कर दिया है|इसके अलावा झ्ल्लेविचारानुसार अब क्योंकि १६ वी लोक सभा के लिए चुनाव सर पर आ पहुंचे हैं ऐसे में श्रीमती सोनिया गांधी की टीम किसी भी प्रकार के नए प्रोग का रिस्क लेने से बचेगी|

अल्प संख्यक महिला की गला रेत कर ह्त्या :४ पड़ोसियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज़

अल्प संख्यक महिला की गला रेत कर ह्त्या :४ पड़ोसियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज़

अल्प संख्यक महिला की गला रेत कर ह्त्या :४ पड़ोसियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज़

[मेरठ]ऊंचा सद्दीक नगर गूलर वाली गली निवासी ३२ वर्षीय श्रीमती नजरीन उर्फ नाज की गला रेत कर हत्या कर दी गई| नाज़ अपने तीन बच्चों के साथ रहती थी।| उसका पति अमजद पिछले 22 महीने से बुलंदशहर जेल में बंद है। प्राप्त जानकारी के अनुसार शक की सुई पड़ोसी युवकों की तरफ घूम रही है|ये लोग कई दिन से नाज़ पर बुरी नज़र रखते थे।इन्होने उसका घर से निकलना मुश्किल कर रखा था।
नाज़ ने करीब दस दिन पहले इन युवकों की शिकायत एसएसपी दफ्तर में भी की थी। पुलिस कार्रवाई न होने से आरोपियों का हौसला और बढ़ गया। इस पर बृहस्पतिवार को लिसाड़ी गेट थाने में भी आरोपियों के खिलाफ लिखित शिकायत की गई| आरोप लगाया जा रहा है कि पड़ोसी मोहसिन, सलीम, बिलाल और भूरा ने शुक्रवार रात घर में घुसकर नजरीन की धारदार हथियार से हत्या कर दी। शनिवार को इन चारों के खिलाफ केस दर्ज कराया गया है ।शनिवार सुबह जब नाजरीन के बच्चों की आंख खुली तो उन्हें मां का लहूलुहान शव वहीं कमरे में पड़ा मिला। बच्चों ने पड़ोसियों को सूचना दी। हत्या की खबर पूरे मोहल्ले में फैल गई और लोगों का जमावड़ा लग गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार घर के मेन गेट का दरवाजा वारदात के समय अंदर से बंद था और संभवत: हत्यारे छत के रास्ते से मकान में घुसे थे। वारदात के बाद हत्यारे वहीं से फरार भी हुए।
जिस मकान में नाजरीन अपने बच्चों के साथ रह रही थी, वह एक साल पूर्व ही उसे ससुराल वालों ने दिया है। मकान की हालत काफी खराब है और यहां बिजली भी नहीं है
नाजरीन और अमजद के तीन बेटे हैं। सबसे बड़ा बेटा सिब्बन(6), अदनान(4) और सबसे छोटा बेटा अलतमस दो वर्ष का है। अमजद पिछले 22 माह से जेल में है और तीनों बच्चों की परवरिश मां नाजरीन ही कर रही थी। तीनों बच्चों को मृतका के परिजन अपने साथ ले गए अभी तक पोलिस की गिरफ्त से सभी आरोपी दूर हैं|

जो कुछ किया साहिब किया , ता तें भया कबीर

संत कबीर दास हरी की महिमा का वर्णन करते हुए फरमाते हैं

हुए ना कुछ किया न करि सका , ना करने जोग सरीर ।
जो कुछ किया साहिब किया , ता तें भया कबीर ।

भावर्थ

जो कुछ किया साहिब किया , ता तें भया कबीर

जो कुछ किया साहिब किया , ता तें भया कबीर

जब कबीर साहब काशी में प्रकट हुए , तो पंडित और काज़ी , दोनों विरोधी हो गए क्योंकि उनका मार्ग कुछ और था । जब बातचीत और वाद-विवाद में पूरे न उतर और सके , तो उनको एक शरारत सूझी । कबीर साहब सचखंड से आए थे और ये पंडित और काज़ी बाहर (इन्द्रियों के घाट पर) बैठे थे । मुकाबले में पूरे कैसे उतरते ? उन्होंने बाहर दूर -दूर तक पत्र भेज दिए कि काशी में एक सेठ कबीर साहब हैं , उनके घर अमुक तारीख़ को यज्ञ है , जहाँ तक हो सके जरुर आएँ । जब वह तारीख़ आई , तो लोग हजारों की संख्या में आ गए और पूछने लगे कि सेठ कबीर साहब का घर कहाँ है ? कबीर साहब तो एक साधारण जुलाहे थे , यह सुनकर झाड़ियों में जा छिपे । उधर मालिक (प्रभु) ने कबीर का रूप धर कर सारा सामान तैयार किया । सारी दुनिया खा गई । सभी जाते हुए कहते जाते कि ‘ धन्य है कबीर ।’ जब कबीर साहब को पता लगा , तो कहते हैं –
ना कुछ किया न करि सका , ना करने जोग सरीर ।
जो कुछ किया साहिब किया , ता तें भया कबीर ।
वे अपना नाम ही नहीं रखते हैं , बल्कि कहते हैं कि जो कुछ किया उस हरि ने किया है । जो सब कुछ वाहेगुरु को कुर्बान कर देता है , वाहेगुरु भी उसके सभी काम स्वयं करता है ।
संत कबीर दास जी की वाणी ,
साम्प्रादाईक सौहार्द ,
प्रस्तुति राकेश खुराना

श्र्धांजलि [हिंदुस्तान]गैस एजेंसी ने सब्सिडी वाले सिलेंडर तो दिए नहीं उलटे उपभोक्ताओं से दुर्व्यवहार भी किया

श्र्धांजलि [हिंदुस्तान]गैस एजेंसी ने सब्सिडी वाले सिलेंडर तो दिए नहीं उलटे उपभोक्ताओं से दुर्व्यवहार भी किया

श्र्धांजलि [हिंदुस्तान]गैस एजेंसी ने सब्सिडी वाले सिलेंडर तो दिए नहीं उलटे उपभोक्ताओं से दुर्व्यवहार भी किया

वित्तीय वर्ष की समाप्ति पर भी सब्सिडी वाला सिलेंडर नही दिया गया उलटे उपभोक्ताओं से बदसलूकी भी की गई| श्र्धांजलि गेस एजेंसी पर हिंदुस्तान[नीला सिलेंडर] कंपनी की गैस का वितरण होता है| यहाँ आज सुबह से ही उपभोक्ताओं की लम्बी कतारें लगनी शुरू हो गई थी |इन्हें सिलेंडर देना तो दूर उलटे उपभोक्ताओं के साथ दुर्व्यवहार भी किया गया|
लीन में लगे उपभोक्ताओं का कहना है के एजेंसी एक विकलांग आर्मी आफिसर के नाम है यहाँ से गैस की होम डिलीवरी नहीं की जाती अक्सर लाईन लगवा कर कार्यालय या फिर गोदाम से ही गैस लेनी पड़ती है| अब तो हद ही हो गई है | बताया जा रहा है के सब्सिडी के सिलेंडरों के लिए ३१ मार्च ही आखिरी तारीख है लेकिन पर्याप्त समय पूर्व बुकिंग कराये जाने के उपरांत भी यहाँ सिलेंडर नहीं दिए जा रहे|बकाया सिलेंडरों को अगले वितीय वर्ष में समायोजित भी नहीं किया जा रहा|उपभोक्ताओं का आरोप है के नंबर पर देने के बजाय यहाँ से अक्सर गैस ब्लैक की जाती है |और स्टाफ के दुर्व्यवहार की भी अनेको शिकायतें हैं|बाते जा रहा है के मेरठ की एनेकों गैस एजेंसियों पर ऐसे ही हालात देखे गए और लोग व्यवस्था को कोसते गए| सूत्रों की माने तो सब्सिडी वाले ७५ – ८० हज़ार सिलेंडरों का सुपात्रों को वितरण नहीं किया गया है

छेड़ खानी की शिकायत कर्ता नर्स और आरोपी नेता के समर्थन में कर्मचारी संघ आमने सामने आये

छेड़ खानी की शिकायत कर्ता नर्स और आरोपी नेता के समर्थन में कर्मचारी संघ आमने सामने आये

छेड़ खानी की शिकायत कर्ता नर्स और आरोपी नेता के समर्थन में कर्मचारी संघ आमने सामने आये

र आज भी प्रदर्शन हुए|नर्स एसोसिएशन ने आज भी प्राचार्य का घेराव किया और नारे बाज़ी की| मेट्रन सिस्टर एलिजाबेथ के न्रेतत्व में नर्सिंग स्टाफ ने आज सुबह कार्य का बहिष्कार किया| गौरतलब है की इससे पूर्व प्रसाशन ने २४ घंटे में कार्यवाही का आश्वासन दिया था मगर यह अवधि बीत जाने पर भी कुछ नहीं किया गया|अब पुनः चेतावनी दी गई है कि यदि शीघ्र पीडिता को न्याय नहीं दिलाया गया तो पुनः कार्य का बहिष्कार किया जाएगा| उधर आरोपी नेता के समर्थन में भी कर्मचारी आ गए हैं ||बताते चलें कि पिछले दिनों परिसर में एक पेड़ गिरने से फार्मेसिस्ट की मृत्यु हुई थी उसके बाद यह नर्स के साथ छेड़ खानी का आरोप लगा है |बताया जा रहा है कि निकट भविष्य में वहां चुनाव होने हैं संभवत इसी कारण किसी भी असंतोष को शांत नहीं होने दिया जा रहा|जूनियर डाक्टरों ने भी प्रवेश परीक्षा को लेकर दो दिन तक कार्य बाधित किया था
चित्र [१]शिकायत करता नर्स बब्बन मेस्सी के समर्थक
चित्र [२]कर्मचारी नेता विपिन त्यागी के समर्थक

मेरठ में एयर पोर्ट के लिए केन्द्रीय मंत्रालय और प्रदेश सरकार में अहम् लड़ाई की समाप्ति के लिए पी एम् आगे आएं

मेरठ में एयर पोर्ट के लिए केन्द्रीय मंत्रालय और प्रदेश सरकार में अहम् लड़ाई की समाप्ति के लिए पी एम् आगे आएं

मेरठ में एयर पोर्ट के लिए केन्द्रीय मंत्रालय और प्रदेश सरकार में अहम् लड़ाई की समाप्ति के लिए पी एम् आगे आएं

भाजपा के सांसद राजेंद्र अग्रवाल ने मेरठ एयर पोर्ट के लिए सेंट्रल सिविल एविएशन मंत्री और उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री अखिलेश यादव में चल रही अहम् की लड़ाई समाप्त करवाने के लिए प्रधान मंत्री डाक्टर मन मोहन सिंह को बीते सप्ताह पत्र लिखा है|
मेरठ से सांसद राजेंद्र अग्रवाल ने बताया कि केन्द्रीय मंत्री चौधरी अजित सिंह और उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री में इगो प्राब्लम के चलते मेरठ में एयर पोर्ट का निर्माण अधर में अटका हुआ है जिसके फलस्वरूप छेत्र का विकास भी रुका हुआ है|सांसद ने बताया कि पार्लियामेंट सेशन में उन्होंने मेरठ में एयर पोर्ट के लिए तीन बार आवाज उठाई थी और सोभाग्य से स्पीकर महोदय ने उसे स्वीकार भी कर लिया था लेकिन उस अवधि में लगातार सांसद की कार्यवाही बाधित की जाती रही इसीलिए अब पी एम् को पत्र लिख कर एयर पोर्ट के निर्माण के लिए दखल देने का आग्रह किया है|गौर तलब है कि सिविल एविएशन मंत्रीराष्ट्रीय लोक दल [रालोद]के सुप्रीमो हैं और मुख्य मंत्री समाजवादी पार्टी से हैं|रालोद सरकर को भीतर से और समाजवादी बाहर से समर्थन दे रही है|इसके उपरान्त भीयहाँ उपलब्ध हवाई पट्टी [डा. भीम राव आम्बेडकर ] का विस्तार करके एयर पोर्ट का निर्माण नहीं किया जा रहा |विकास की यह बाल एक दूसरे की कोर्ट में जान बूझ कर धकेली जा रही है|
सांसद ने अपने छेत्र में एयर पोर्ट के लिए इस प्रकार कि टाल मटोली पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि मेरठ के विकास के लिए यहाँ एयर पोर्ट बनाया जाना बेहद जरुरी है|इस गतिरोध को दूर करने के लिए विकास के हिमायती प्रधान मंत्री को प्रभावी कदम उठाने चाहिए |