Ad

Category: Travel

Afghan Nationals Asked to Travel to India only on e-Visa

(New Delhi)Afghan Nationals Asked to Travel to India only on e-Visa

Keeping in view some reports that certain passports of Afghan nationals have been misplaced, previously issued visas to all Afghan nationals, who are presently not in India, stand invalidated with immediate effect.  Afghan nationals wishing to travel to India may apply for e-Visa

अक्सर ठप्प संसद भवन भी किराए पर उठा दें तो अच्छी खासी कमाई हो जाएगी

                                                       झल्लीगल्ला

भाजपाइचिंतक

ओए झल्लेया!मुबारकां!! ओए अब हसाडा मुल्क फिर से कहलायेगा “सोने की चिड़िया”

हसाडी होनहार वित्तमंत्री श्रीमती निर्मला सीतारामन जी ने  उपयोग में नही आ रही सम्पत्तियों को किराए पर उठाने का निर्णय ले लिया है।पहले चरण में रेलवे+ स्टेडियम+ऊर्जा+सड़कों को किराए पर दिया जाएगा।ओए हसाडी जनसेवा को  समर्पित सरकार ने जनसेवा के लिए छह लाख करोड़ ₹जुटाने को कमर कस ली है।अब तो भारत का बुनियादी ढांचा मजबूत होवे हीहोवे

झल्ला

हाँ जी

अब सरकारी सम्पत्तियों पर कब्जे के डर से निजात मिल जाएगी।किरायेदार जाने और जाने आंदोलनकारी

वैसे झल्लानुसार अगर अक्सर ठप्प रहने वाले संसद (पुराना)भवन को भी किराए पर उठा दिया जाए तो यहां शादी ब्याह+पार्टी+मीटिंग्स से अच्छी खासी कमाई हो सकती है।

रजिस्ट्रेशन प्लेट आई नही,फ्री की सर्विस से फ्री करो (व्यंग)

(#व्यंग) महान मुल्क भारत में बेशक 80 करोड़ लोग मुफ्त के सरकारी राशन को मोहताज़ है लेकिन अच्छी कंडीशन की महज महीने में 20 किलोमीटर चलने वाली पेंशनर की स्कूटी महज 15 वर्ष पुरानी होने पर वाहनकमेले में भिजवा कर हुकूमतें विकासविकास का गान कर गौरान्वित होती है।

व्यंग

व्यंग

अब हमारी स्कूटी किसी आंदोलनरत किसान  के ट्रेक्टर सरीखा तो है नही सो अभयदान का पात्र नही है।इसी अपमानजनक तमगे से निजात दिलाने को श्रीमती जी ने 83 हजार ₹ की नई स्कूटी का वरदान दे दिया।अब चुनांचे नोटबन्दी के पश्चात सब कुछ चल रहा है सो डेबिट कार्ड से भुगतान करने पर 1 %अतिरिक्त का भुगतान लाजमी है।

नए का पूरा सम्मान है।सो कुर्सी और दीवान के मध्य स्थान है।पेट्रोल 100 के पार है सो हौंसले की दरकार है

ईमानदार शासन और प्रशासन को भी सलाम है इसीलिए एक माह से रजिस्ट्रेशन नंबर और प्लेट का धैर्य से इन्तेजार है।वाहन कंपनी की पिल रही है इसीलिए या तो रजिस्ट्रेशन के बगैर वाहन चलाओ और चलान कटवाओ ।और  तो और 15 दिन में गाड़ी चलाओ या ना चलाओ शुरू की फ्री सर्विस से फ्री होना लाजमी है

Vikas

Vikas

जहां तक विकास की बात है तो वाकई में विकास के दावों कोझुटलाया नही जा सकता।मैंने जब सरकारी नॉकरी शुरू की टाओ दूसरी तनख्वाह पर ही एक  साईकल (बिना घण्टी+लाइट) ले पाया था, सुपरनुअशन तक महज साईकल से लूना,स्कूटर,स्कूटी तक ही पहुंच पाया। ।पिछले  दिनों उसी (जो कभी अपना था)विभाग की रिहायशी कॉलोनी में जाने का अवसर मिला तो देखा कि जितने फ्लैट्स हैं उनके सामने उससे ज्यादा चौपहिया खड़े हैं।

मोदीभापे !बेशक ट्रस्ट को ना निकाल,बैनामे के आरोप सिरे से अनसुने तो न कर

#मोदीभापे
अयोध्या में श्रीराम की मर्यादा का मामला है,अनदेखा मत कर
न्यास को ना निकाल,लगे आरोप भी सिरे से अनसुने तो न कर
www.jamosnews.com
#कम्पेनसशन/#रिहैबिलिटेशन क्लेम की सरकारी लूट
#PMOPG/E/2016/0125052

Capt Govt Hikes Charges for Life Saving Oxygen’s Transportation

(Chd,Pb)Capt Govt Hikes Charges for Life Saving Oxygen’s Transportation
As per Chief Secretary Vini Mahajan it was decided that Punjab shall increase the transportation rates as per the present market trend.
It is also decided that a LMO storage tank at Government Medical College (GMC) in Amritsar will be set up forthwith.
File Photo;Vini Mahajan

अमेरिका ने अपने नागरिकों को जल्द भारत छोड़ने की सलाह दी;कोविड

(वाशिंगटन, 29,अप्रैल) अमेरिका ने अपने नागरिकों को जल्द भारत छोड़ने की सलाह दी;कोविड
यह ऐसा किया गया है क्योंकि भारत में कोविड-19 के मामले बढ़ने के बीच सभी तरह की चिकित्सीय देखभाल के संसाधन सीमित हो गए हैं।
अमेरिका ने भारत पर चौथे चरण का यात्रा परामर्श जारी किया है जो विदेश विभाग द्वारा जारी किए जाने वाला सबसे अधिक स्तर का परामर्श होता है।
विदेश विभाग ने ट्वीट किया, ‘‘भारत में कोविड-19 के मामलों के कारण चिकित्सीय देखभाल के संसाधन बेहद सीमित हैं। भारत छोड़ने की इच्छा रखने वाले अमेरिकी नागरिकों को अभी उपलब्ध वाणिज्यिक विकल्पों का इस्तेमाल करना चाहिए। अमेरिका के लिए रोज चलने वाली उड़ानें और पेरिस तथा फ्रैंकफर्ट से होकर आने वाली उड़ानें उपलब्ध हैं।’’
भारत मे दूतावास ने एक बयान में कहा, ‘‘भारत में कोविड-19 के नए मामले और मौत की संख्या रिकॉर्ड स्तर तक बढ़ गई है। कई स्थानों पर कोविड-19 जांच का बुनियादी ढांचा बाधित हो गया है।’’
इसमें कहा गया है, ‘‘अस्पतालों में कोविड-19 और गैर कोविड-19 मरीजों के लिए चिकित्सा सामान, ऑक्सीजन और बिस्तरों की कमी हो गई है। कुछ शहरों में जगह न होने के कारण अमेरिकी नागरिकों को अस्पतालों में भर्ती करने से इनकार करने की खबरें हैं। कुछ राज्यों में कर्फ्यू और अन्य पाबंदियां हैं जिससे गैर आवश्यक कारोबारों का संचालन रुक गया है और आवाजाही सीमित हो गई है।’’

यूपी को बिना मांगे मिलेंगे 800 बिस्तर क्षमता वाले 50 कोच:कोविड:रेल मंत्रालय

[नई दिल्ली ]यू पी को बिना मांगे मिलेंगे 800 बिस्तर क्षमता 50 कोच:रेल मंत्रालय
उत्तर प्रदेश में, भले ही राज्य सरकार ने कोचों की मांग नहीं की है, लेकिन फैजाबाद, भदोही, वाराणसी, बरेली और नजीबाबाद में कुल 800 बिस्तर क्षमता (50 कोच) वाले 10-10 कोच तैनात किये जा चुके हैं।
देश भर में 64,000 कोविड देखभाल बिस्तर वाले 4,000 कोविड देखभाल कोच का प्रावधान किया गया है
रेल मंत्रालय कोविड महामारी की इस दूसरी लहर के दौरान अपने 64,000 बिस्तर क्षमता वाले 4,000 कोचों (आइसोलेशन यूनिट के रूप में तैयार) के माध्यम से राज्य सरकारों की तरफ से मिल रही कोविड देखभाल कोचों की मांग तेजी से पूरा कर रहा है। वर्तमान में उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार, इन कोविड देखभाल कोचों में 81 कोविड मरीजों का प्रवेश और इसी क्रम में 22 मरीजों का डिस्चार्ज देखने को मिल रहा है। किसी भी कोविड देखभाल सुविधा में कोई मौत दर्ज नहीं की गई है।
दिल्ली में, रेलवे ने राज्य सरकार की 1,200 बिस्तर क्षमता वाले 75 कोविड देखभाल कोचों की मांग पूरी की है।
इनमें से 50 कोच शकूरबस्ती में खड़े हैं और 25 कोच आनंद विहार स्टेशन पर हैं।
वर्तमान में, शकूरबस्ती पर 5 मरीज भर्ती कराए गए थे और एक मरीज को डिस्चार्ज कर दिया गया है।
बीते साल (2020) में पहली कोविड लहर में, शकूरबस्ती केन्द्र पर 857 मरीज भर्ती और डिस्चार्ज हुए थे।
भोपाल (मध्य प्रदेश) में, रेलवे ने 292 बिस्तर क्षमता वाले 20 आइसोलेशन कोच तैनात किए हैं।
इनमें 3 मरीज भर्ती कराए गए थे और वे वर्तमान में इस सुविधा का इस्तेमाल कर रहे हैं।
नंदरूबार (महाराष्ट्र) में, 292 बिस्तर क्षमता वाले 24 आइसोलेशन कोच तैनात किए गए हैं।
इस केन्द्र में अभी तक 73 लोग भर्ती कराए गए हैं। वर्तमान कोविड लहर में भर्ती हुए 55 मरीजों में से 7 मरीज डिस्चार्ज हो गए हैं।
आज (26.04.2021) को 4 नए मरीज भर्ती हुए। इस यूनिट में 326 बिस्तर अभी तक कोविड मरीजों के लिए उपलब्ध हैं

MoRTH Achieves Record ;Daily Construction of Highways 37 Kms

(New Delhi) MoRTH Achieves Record-Breaking Milestone of Daily Construction of Highways
Tremendous progress has been achieved in building of National Highways across the country in the last few years by the Ministry of Road Transport and Highways. The Ministry has achieved the record-breaking milestone of constructing 37 kilometres highways per day in year 2020-21, which is unprecedented. Minister for Road Transport & Highways and MSME,
Average annual construction (average annual construction length) during FY2015 to FY2021 has increased by 83% compared to FY2010 to FY2014
Cumulative cost of ongoing project works has increased by 54% at the end of Financial Year 2021 compared to Financial Year 2020 (as on March 31st)

बल्ले बल्ले ! ट्रम्प ने एच वन बी वीजा पर लगाई थी रोक,बिडेन ने फतेह पाई

झल्लीगल्लां
एनआरआई

H1B Visa

H1B Visa

ओए झल्लेया! मुबारकां
ओये जो बिडेन ने ट्रम्प पर फतेह पा ली।ओए रिपब्लिकन डोनाल्ड जे ट्रम्प ने हम लोगों के वर्तमान और भविष्य को अंधकार में धकेलने के लिए एच 1 बी वीजा पर 31 मार्च तक रोक लगा दी थी।शुक्र है कि अब डेमोक्रेट बिडेन ने इस रोक को आगे नही बढाया।अब हमें अमेरिका को अपना मुल्क में कर इसके विकास में काम करने के अवसर मिलेंगे।
झल्ला
काका जी!
झल्लाबल्ले बल्ले ! ट्रम्प ने एच वन बी वीजा पर लगाई रोक,बिडेन ने इस पर फतेह पाई
प्रेजिडेंट बिडेन ने अपना चुनावी वायदा अपने ही अंदाज़ में पूरा कर दिया।लेकिन यूएस की दिल्ली में एम्बेसी में तो स्टूडेंट वीजा एप्लीकेशन रिजेक्ट कर दी जाती है और इसके साथ ही आवेदक का टूरिस्ट वीजा भी क्यूँ कैंसिल कर दिया जाता है।

महाकुंभ स्नान के प्राचीन अमृत ज्ञान संग आधुनिक कोरोना विज्ञान का भी सहारा जरूरी

झल्लीगल्लां
आस्थावानहिन्दू

Mahakumbh

Mahakumbh

ओए झल्लेया मुबारकां! ओये आज के पवित्र ध्याड़े हरिद्वार में महाकुंभ मेला शुरू होने जा रहा है।ओये तुझे मलूम है कि अब की बार बारह के बजाय ग्यारह बरस में ही यह पवित्र मेला शुरू हो रहा है।यहां हसाडी प्राचीन संस्कृति की भव्यता के दर्शन और स्नान लाभ मिल सकेंगे। ओये हरिद्वार में ही कल्याणकारी अमृत की बूंदे गिरी थी ।यहीं देवताओं ने कुम्भ घटक दबाया हुआ है ।ओए कुम्भ स्नान से हसाडा जीवन सफल हो जाणा है
झल्ला
झल्लाभापा जी! आस्था के इस महाकुंभ की आप जी को भी लख लख वधाइयाँ। वैसे तो व्यवस्थापक आज कल कोरोना महामारी की आपदा में भी अवसर बनाने पर तुले हैं लेकिन आम नागरिक इन अवसरों में आपदा लेकर घरों को लौटते हैं इसीलिए झल्लेविचारानुसार प्राचीन अमृत ज्ञान के साथ साथ आधुनिक कोरोना विज्ञान का पालन करते हुए ही अवसरों का लाभ लेने को कदम बढाने चहिए इसीलिए कोरोना प्रोटोकॉल जरूरी है