Ad

Category: Environment

धरती बचाओ वरना लैब ऑक्सीजन के लिए भी पॉलिटिक्स होती रहेगी;अर्थ डे

झल्लीगल्लां
पर्यावरणविद
ओए झल्लेया!आज धरती दिवस है।आओ सभी रल मिल पौधे रोम्पे+साक्षरता फैलाएं और अपनी स्वर्ग से सुंदर धरती को बचाने में योगदान दें
झल्ला
भापा जी !
धरती को बचाने के लिए पर्यावरण में स्वच्छता जरूरी है।इसके लिए गैसों के उत्सर्जन को रोकने के लिए दूसरों की तरफ तकते रहने के बजाय स्वयम पौधा लगाएं+प्लास्टिक को ना कहें+प्राकृतिक संसाधनों के अंधाधुंध दोहन के मोह को त्यागें क्योंकि धरती गोल है और ऑक्सीजन का साइंन (o) भी लगभग गोल ही है।वरना तो कोरोना जैसी महामारी में भी लैब में बनी ऑक्सीजन के लिए हमेशा पॉलिटिक्स होती रहेगी।

होली और शबेरात में घुस आई बुराईयों से निजात पाने को दुआ करें

झल्लीगल्लां
आमनागरिक

झल्ला

झल्ला

ओए झल्लेया!होली दियां लख लख वधाइयाँ!ओए आज एक साथ दो दो मुकद्दस ध्याड़े हैं!होली पर बुराईयों का अंत करने के लिए होलिका को जलाया जाता है तो गुनाह माफ करवाने के लिए अल्लाह की इबादत करते हुए शबे रात मनाने का चलन है।
झल्लाझल्ला खैर मुबारक जी!वाकई ये दोनों त्यौहार ईमानदारी से मनाए जाएं तो हसाडा भारत स्वर्ग बण जाए।दुर्भाग्य से होली पर रंग फैंकने में बदनीयत और आतिशबाजों के साथ स्टंट बाज समाज के दूसरे वर्गों में जो ख़ौफ़ पैदा करते है उससे त्यौहार के रंग फीके हो जाते हैं ।आओ इन बुराईयों से निजात पाने को दुआ करें

पोलिटिकल होलिकाएँ जनता रूपी प्रह्लाद को फूंक कर बच निकलने में माहिर

झल्लीगल्लां
उत्सवप्रेमी
Holiओए झल्लेया!फाल्गुनी शुक्लपक्ष में हर तरफ होली की मस्ती छाई है।मन हुआ मृदंग ,कामदेव ठोक रहा ताल
हर तरफ मस्ती छाई है।ओए होलिका दहन की तैयारी कर लो। प्रह्लाद को बचाने के लिए होलिका को फूंकना जरूरी है।सुना है इस त्यौहार से वातावरण में बैक्टेरिया को समाप्त हो जाते हैं।ओए कोरोनासुरों का भी नाश हो जाना है

होली

होली

झल्ला आजकल तो गूलर+दार+पलाश+खैर+पीपल+शमी+दूबकी लकड़ी छोड़ो कुश भी नही नसीब होता।ये सभी देसी घी और उपलों संग जल कर बैकटीरिया नष्ट करते हैं।अब तो जो मिला उसी से ही ओपचारिकता निभा ली जाती है।वैसे विष्णु जी झूठ ना बुलवाएं।आजकल की होलिकाएँ भी राजनीति सीख गई हैं इन्हें जनता रूपी प्रह्लाद को फूंक कर बच निकलने में महारथ हासिल है

सांसद राजेन्द्रअग्रवाल लोकसभा के प्रश्नकाल में प्रदूषित “कालिंदी” पर चूके

(नई दिल्ली) सांसद राजेन्द्रअग्रवाल लोकसभा में प्रश्नकाल में प्रदूषित कालिंदी पर निशाना लगाने से चुके
मेरठ से भजपा सांसद #राजेन्द्रअग्रवाल ने #लोकसभा मे कालिंदी नदी के शुद्धिकरण में हो रहे विलंभ पर सवाल उठाया लेकिन प्रश्नकाल के दौरान मूलप्रश्न यमुना नदी था सो जलशक्ति राज्य मंत्री रतन लाल कठेरिया ने इसका जवाब नही दिया।इस पर बागपत से भाजपा के ही सांसद डॉ सत्यपाल सिंह ने पुनः मंत्री को घेरते हुए बताया कि यमुना संग दूसरी नदियां भी यूपी से बहती हैं। और कालिंदी को गंगा की एक सहायक नदी बताते हुए बागपत में यमुना पर प्रस्तावित/लम्बित रिवर फ्रंट से जोड़ते हुए प्रश्न उठाया।इसके उत्तर में मंत्री ने बताया कि 2022 तक कालिंदी का प्रोजेक्ट पूर्ण हो जाएगा। मंत्री की इस नासमझी पर मंत्री के पीछे बैठे मेरठ के सांसद व्यंगात्मक रूप से हंसते दिखाई दिए।इस दृश्य से भाजपा में गुटबाजी के भी संकेत दृष्टिगोचर हुए।
मालूम हो कि कालिंदी मेरठ से बहती हुई गंगा में जाकर मिलती है
मेरठ से कालिंदी(काली) नदी होकर गुजरती है जो सहारनपुर से चलती है और आगे जा कर गंगा में मिल जाती है इसीलिए यह गंगा की सहायक नदी है और यह देश की सर्वाधिक प्रदूषित नदियों में से भी है जिसके किनारों पर बसे निकट ही मेरठ के ऐसे गावँ हैं जो विषाक्त हो गए हैं, पानी की दृष्टि से जिससे हेपेटाइटिस बी और कैंसर जैसेजानलेवा रोग हो रहे हैं। इसके पानी को शुद्ध करने के लिए मार्च 2018 में नमामि गंगे योजना मंजूर हुई थी, परंतु इसका कार्य इतने धीरे से चल रहा है की नदी अभी भी प्रदूषित है।
उत्तर प्रदेश में 12 नदियां प्रदूषित स्वीकारी जा चुकी है
Hindon, Kalinadi, Varuna, Yamuna, Gomti, Ganga, Ramganga, Betwa, Ghaghara, Rapti, Sai, Saryu

मेरठ का1वाहन कमेला तो कंट्रोल नही हो रहा,देश भर में कमेले खोलने चले

झल्लीगल्लां
व्यंगकार
 ओए झल्लेया !ये क्या हो रहा है? ओए मोदी सरकार स्क्रैप पालिसी थोप कर पुरानी एंटीक गाड़ियों के दर्शन दुर्लभ करने जा रही है।ओए अब एंटीक गाड़ियों का प्रदर्शन/रेस नही होगी । वाहन निर्माता भी अपने वाहन की लंबी लाइफ का दावा नही कर पाएंगे
झल्ला
झल्ला भापा जी!मेरठ का1वाहन कमेला तो कंट्रोल नही हो रहा,देश भर में कमेले खोलने चले
मेरठ के सोतीगंज में एक वाहन कमेला लखनऊ से लेकर दिल्ली के शासन+प्रशासन के काबू नही आ रहा और ये परिवहन मंत्री नितिन गडकरी पूरे देश मे वाहन कमेले खोलने जा रहे हैं और उम्मीद है कि इन कमेलों को पर्यटन केंद्र बना कर प्रवेश टिकट भी लगा दिया जाएगा

गडकरी जी !वाहन कमेले और स्क्रैप पालिसी राष्ट्र में लागू हो पाएगी?

झल्लीगल्लां
भजपाईचेयरलीडर
ओए झल्लेया! मुबारकां!!ओए हसाडे मुल्क में चमचमाती साफ सुथरी सड़कों पर नई नवेली गाड़ियां ही फर्राटा भरेंगी।हसाडे कर्मयोगी परिवहन मंत्री नितिन गडकरी जी ने पार्लियामेंट में एलानिया कह दिया है किपुरानेवाहनों का बोझ अब राष्ट्र सहन नही करेगा। उन्होंने पूरे देश मे स्क्रैप पालिसी की भी बात कह दी है।अब 15-20 ,साल पुराने वाहन स्वेच्छा से कटवाएँ जाएंगे।इससे नॉकरियाँ मिलेंगी+इकॉनमी तो दौड़ेगी साथ ही पर्यावरण भी सुधरेगा।
झल्ला चतुर सेठ जी! ठीक ही है।पूरे राष्ट्र में वाहन कमेले खुलने से शायद चोरी चकारी के वाहनों का गैरकानूनी कटान रुक जाए लेकिन झल्लेविचारानुसार एआप लोग किसानों के पुराने ट्रैक्टर ट्रालियों पर तो यू टर्न ले लेते हो ऐसे में पूरे राष्ट्र में इस पालिसी को लागू करने की बात क्यूँ करते हो

डीएम के बालाजी ने अधीनस्थों को ध्रूमपान ना करने की शपथ दिलाई ;नो स्मोकिंग डे

(मेरठ,यूपी)डीएम के बालाजी ने अधीनस्थों को ध्रूमपान ना करने की शपथ दिलाई ;नो स्मोकिंग डे
मेरठ के जिलाधिकारी के0 बालाजी द्वारा अपने कार्यालय में नो स्मोकिंग डे के अवसर पर कलेक्ट्रेट के अधिकारियों व कर्मचारियो को शपथ दिलायी गयी।
शपथ इस प्रकार है-मैं शपथ लेता हूॅ/लेती हॅू कि अपने कार्यालय/विद्यालय/गांव/शहर को धू्रमपान एवं तम्बाकू मुक्त बनाये रखने के महा अभियान में सच्चे मन के साथ सक्रिय रूप से भाग लूंगा/लूंगी व व्यक्तिगत स्वास्थ्य एवं जन स्वास्थ्य की दीृष्टि से मैं स्वयं तम्बाकू का सेवन नहीं करूंगा/करूंगी तथा समाज के सभी लोगो को तम्बाकू न सेवन करने के लिए प्रेरित करूंगा/करूंगी तथा भविष्य में अपने विद्यालय/कार्यालय/गांव/शहर को धू्रमपान एवं तम्बाकू मुक्त बनाये रखने के लिए किये जा रहे प्रयासो को अनवरत रूप से जारी रखने की दिषा में सामुदायिक सहभागिता के लिए सदैव संकल्पबद्ध रहूंगा/रहूंगी।
इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी प्रषासन मदन सिंह गब्र्याल, अपर जिलाधिकारी वित्त सुभाष चन्द्र प्रजापति सहित कलेक्टेªट के अन्य अधिकारी व कर्मचारीगण उपस्थित रहें।

राकेश टिकैत कहीं भावनाओं में बह कर कुल्हाड़ी पर ही पैर ना मार बैठें

झल्लीगल्लां
चिंतितदिल्लीवासी
ओए झल्लेया! ये क्या रोज नई मुसीबत गले पड़ रही है।ओए किसान नेता राकेश टिकैत अपनी मांगों को मनवाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्रमोदी के खिलाफ मोर्चा खोले हैं लेकिन हमारी ऐसी की तैसी करने पर तुले हुए है।गाजीपुर पर धरना तो दिया ही हुआ है अब दिल्ली में 4000000 ट्रैक्टर लाने की धमकी दे रहे हैं।ओए 26 जनवरी को हुए राष्ट्र के अपमान से इनका दिल नही भरा जो अब ये नया शगूफा ले आये
झल्ला
भापा जी! चो महेंद्रसिंह टिकैत के नक्शे कदम पर चलते हुए उनके फरजंद राकेश की 26 जनवरी को लालकिले की तरफ कुल्हाड़ी चल गई थी।लाल किला चूंकि बाबरी मस्जिद की तरह ही मुगलों की शान है
इसीलिए वहां हुई तोड़फोड़ पर केसरी सरकार चुप्पी साध गई।मगर अब तो ये महानुभाव भावनाओं में बह कर भारत की संसद को ही कब्जाने की धमकी देने लग गए।इसे तो राष्ट्रवाद की माला जपने वाली सरकार सहज पचा नही पाएगी सो बाबा टिकैत के जानशीं कुल्हाड़ी पर ही पैर मारने को उतारू हो रहे है ।ईश्वर इनका भला करे।

गडकरी जी!सीएनजी वाले पर्यावरण मित्र ट्रैक्टरों को लालकिले ले जाने दोगे?

भजपाईचेयरलीडर
CNG Tractorओएझल्लेया !मुबारकां
ओए हसाडे कर्मठ नितिन गडकरी साहिब ने पर्यावरण सरंक्षण और किसान हिताय नया ट्रेक्टर लांच कर दिया है।ये ट्रैक्टर प्रदूषण फैलाने वाले डीजल के बजाय पर्यावरण मित्र सीएनजी से चलेगा।ओए इस नए ट्रैक्टर से किसान+ खेत+समाज के स्वास्थ्य का भला होगा।इसके अलावा गरीब किसान को प्रतिवर्ष एक लाख ₹ की बचत भी होगी
झल्ला
झल्ला गडकरी जी!सीएनजी वाले पर्यावरण मित्र ट्रैक्टरों को लालकिले ले जाने दोगे?
चतुर सुजाण जी!क्या अब गरीब आंदोलनकारी किसान को, प्रदर्शन के लिए,
इन पर्यावरण मित्र और आपके अपने ट्रैक्टरों को लालकिले ले जाने दोगे???

Sewers Took Lives of 340 Cleaners in Last Five Yrs

(New Delhi)Sewers Took Lives of 340 Cleaners in Last Five Yrs
Social Justice and Empowerment Minister Ramdas Athawale Responding to a question in the Lok Sabha,shared data on the number of such deaths reported by states and UTs in the last five years.
According to the data, the highest number of deaths have been reported from
Uttar Pradesh at 52 followed by
Tamil Nadu at 43,
Delhi at 36,
Maharashtra at 34 and
Gujarat and Haryana each at 31.