Ad

Category: Environment

AAI Shelves Sea Plane Project in Chilika Lake

[Bhubaneswar]AAI Shelves Water Aerodrome Project in Chilika Lake
The Airports Authority of India (AAI) has dropped the proposed water aerodrome project at Chilika Lake in Odisha,
Susanta Nanda, Chief Executive, Environmentalists and Chilika Development Authority (CDA),are opposing this project

PM “Modi”Pitches for Investments in e-Vehicles Manufacturing

[New Delhi]PM “Modi”Pitches for Investments in e-Vehicles Manufacturing
Prime Minister of India Narendra Modi unveiled a mobility road map that seeks investments in manufacturing electric vehicles and increased use of public transport for travel,
Speaking at the Global Mobility Summit ‘MOVE’,PM said congestion-free mobility is critical to check economic and environmental costs of congestion.
“My vision for the future of mobility in India is based on 7 Cs:
common,
connected,
convenient,
congestion-free,
charged,
clean,
cutting-edge,

E Charging Charging Stns for 400 Rickshaws In Dwarka

[New Delhi] E Charging Stns for 400 Rickshaws In Dwarka
Union Minister of Heavy Industries & Public Enterprises,Anant G. Geete inauguratedCharging Infrastructurein the premises of Dwarka metro station in New Delhi today.
This Infrastructure has been developed by Rajasthan Electronics & Instruments Ltd. (REIL) having 18 charging stations. Speaking on the occasion the Minster said 400 e-rickshaws may be charged from these stations free of cost.
REIL has already set up 45 charging stations till date in different cities.

बारिश के बाद फिर ऍनसीआर की कई सड़कों पर हुआ जलजमाव

[दिल्ली,मेरठ]बारिश के बाद फिर ऍनसीआर की कई सड़कों पर हुआ जलजमाव
ऍनसीआर के अनेकों शहरों में भारी बारिश के बाद आज राष्ट्रीय राजधानी के कई इलाकों में जलजमाव हो गया।
भैरों मार्ग पर रेलवे पुल,
रिंग रोड पर हनुमान सेतु,
गीता कॉलोनी में नाला रोड पर डीएम ऑफिस के नजदीक सड़कों पर जलजमाव हो गया।
यातायत पोलिस के अनुसार
ओखला सब्जी मंडी,
नेताजी सुभाष मार्ग,
भैरों मार्ग,
रोहिणी जैसे अन्य इलाकों में भी जलजमाव की खबर है।
पिछले 24 घंटे में दिल्ली में 24.6 मिलीमीटर बारिश हुयी है और मौसमविद ने पूरे दिन भर लगातार बारिश होने का अनुमान व्यक्त किया है।
jal bharav + jaamदिल्ली यातायात पुलिस ने मार्गों से बचने के लिए लोगों को सूचना देने के वास्ते अपने ट्विटर हैंडल से अलर्ट जारी किया है।
मेरठ में भी सुबह से ही हल्की बारिश हो रही हैं |गड्डोंमें बनी सडकों पर जलजमाव से वाहन सवार और पैदल दोनों को परेशानियों का सामना करना पढ़ रहा है
फाइल फोटो

स्मार्ट सिटी के दावेदार “मेरठ” में कचरा प्रबंधन निरंतर बदबूदार हुआ

[मेरठ,यूपी] स्मार्ट सिटी के दावेदार “मेरठ” में कचरा प्रबंधन निरंतर बदबूदार हुआ
यूपी विशेषकर स्मार्ट सिटी के दावेदार मेरठ में हाल निरंतर बदबूदार होता जा रहा है| यहाँ तत्काल कुछ ठोस सकारात्मक क़दमों की आवश्यकता है |ऐसा प्रदेश की विधान सभा और मेरठ के नगरायुक्त के दरबार में ब्यान किया गया है
लेकिन दुर्भाग्य से इस दिशा में कोई तात्कालिक कार्यवाही होती नहीं दिख रही | कचरा प्रबंधन को लेकर ग्रामीणों और प्रशासन में असहयोग को समाप्त करने के लिए वर्तमान न्रेतत्व भी आगे आता नहीं दिख रहा |इसीलिए माननीय सर्वोत्तम न्यायालय के अनुसार यहाँ भी नए निर्माण पर रोक लगा देनी चाहिए
उच्चतम न्यायालय ने द्वारा महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड और चंडीगढ़ सहित कुछ राज्यों तथा केन्द्र शासित प्रदेशों में ठोस कचरा प्रबंधन नीति तैयार नहीं करने पर उन्हें आड़े हाथ लिया है
इन राज्यों में यह नीति तैयार होने तक निर्माण कार्यों पर रोक लगा दी।
न्यायमूर्ति मदन बी लोकूर और न्यायमूर्ति एस अब्दुल नजीर की पीठ ने कुछ राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों पर उनके इस रवैये को लेकर जुर्माना भी लगाया। पीठ ने कहा, ‘‘यदि वे चाहते हैं कि लोग गंदगी और कूड़े कचरे के बीच रहे तो फिर क्या किया जा सकता है। ’माननीय यूपी विशेषकर दावेदार मेरठ का हाल निरंतर बदबूदार होता जा रहा है कुछ कीजिये
राजधानी में 2015 में डेंगू से ग्रस्त सात साल के बच्चे की दर्दनाक मृत्यु की खबर का न्यायालय ने स्वत: संज्ञान लिया था और इस मामले की सुनवाई के दौरान कचरे के प्रबंधन का मुद्दा प्रमुखता से सामने आया था।
इसके बाद से न्यायालय ठोस कचरा प्रबंधन के मामले पर भी गौर कर रहा है।
पीठ ने कचरा नीति तैयार नहीं करने और न्यायालय के निर्देशों का पालन नहीं करने के कारण मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, उत्तराखंड और केन्द्र शासित चंडीगढ़ पर भी तीन तीन लाख रूपए का जुर्माना किया।
न्यायालय इस मामले में अब नौ सितंबर को आगे सुनवाई करेगा।

कर्णाटक के मंत्री को बाढ़ में भी पूर्व सैनिकों के बजाय मीडिया में ज्यादा रूचि

[नई दिल्ली ]कर्णाटक के मंत्री को बाढ़ में भी पूर्व सैनिकों के बजाय मीडिया में ज्यादा रूचि, सो इस मोह में केंद्रीय रक्षा मंत्री निर्मला सीथारमन और राज्य सभा का अपमान करने से भी नहीं चुके |
प्राप्त जानकारी के अनुसार बाढ़ की समीक्षा के लिए कोडागु जिले में आई रक्षा मंत्री को कोडागु जिले के प्रभारी मंत्री सा रा महेश ने अपशब्द कहे |
घटनाओं का विस्तृत क्रमवार ब्यौरा इस प्रकार बताया गया है :
रक्षा मंत्री के दौरे के कार्यक्रम को जन प्रतिनिधियों के परामर्श से कोडागु के जिला प्रशासन द्वारा अंतिम रूप दिया गया जिसमे जिला प्रशासन के आग्रह पर कुछ पूर्व सैनिकों को भी शामिल किया गया।
कार्यक्रम के अनुरुप रक्षा मंत्री बाढ़ से बुरी तरह प्रभावित पूर्व सैनिकों के साथ बातचीत कर रही थीं,जिस पर जिले के प्रभारी मंत्री ने आपत्ति जताई और जोर देकर कहा कि पहले अधिकारियों के साथ बैठक आयोजित की जाए। रक्षा मंत्री ने स्पष्ट किया कि पूर्व सैनिकों का कल्याण रक्षा मंत्री का एक अनिवार्य हिस्सा है और इसका विवरण कार्यक्रम में भी है। तथापि, जिला मंत्री ने जोर दिया कि माननीया रक्षा मंत्री तत्काल बातचीत बंद करें एवं अधिकारियों के साथ बैठक करने के लिए वहां से रवाना हों।
रक्षा मंत्री ने तत्काल यह बैठक स्थगित की और अधिकारियों के साथ बैठक करने के लिए रवाना हो गईं। मीडिया के लोगों की उपस्थिति में आयोजित इस बैठक के बाद रक्षा मंत्री ने पूर्व सैनिकों की समस्याएं सुनीं।

Haryana Announces Rs 10 Cr Aid for Kerala:PM Review Situation

[Chd,Haryana]Haryana Announces Rs 10 Cr Aid for Flood Hit Kerala
Haryana Chief Minister Manohar Lal Khattar today said that the state government would provide financial assistance of Rs 10 crore to flood affected people and for rescue operations in Kerala.
He said that the people of Kerala had been facing heavy losses of life and property due to severe floods, and Haryana is with Kerala in this hour of need.
Punjab+Delhi+Andhra Pradesh+Maharashtra+Tamil Nadu
have already announced aid for flood-ravaged Kerala. Prime Minister Narendra Modi today announced an immediate financial assistance of Rs 500 crore to the state, after reviewing the flood situation there.
As many as 194 people have lost their lives and 36 are missing in Kerala since August 8 due to rains and landslides, while over 3.14 lakh people have been moved to relief camps.
The southern state is facing its worst flood in 100 years with 80 dams opened and all rivers in spate.
Photo caption
The Prime Minister, Shri Narendra Modi conducting an aerial survey of flood affected areas, in Kerala on August 18, 2018.

नॉएडा में चिन्हित 74 अवैध बिल्डरों के खिलाफ केस दर्ज

[नोएडा,यूपी]नॉएडा में चिन्हित 74 अवैध बिल्डरों के खिलाफ बिसरख में केस दर्ज
बिसरख थाना क्षेत्र के शाहबेरी गांव में छह मंजिला इमारत गिरने की घटना के बाद ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने इस गांव में इमारत बना रहे 74 बिल्डरों के खिलाफ अवैध रूप से भवन निर्माण का मामला दर्ज कराया हैं।
17 जुलाई को शाहबेरी गांव में छह मंजिला इमारत गिरने से नौ लोगों की मौत हो गई थी।
इस मामले में 24 लोगों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या सहित विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज हुआ है।
देव शर्मा+सुबोध नागर+अमित कुमार+सत्यवीर सिंह+डॉक्टर के के शर्मा+आभा शर्मा+अरविंद कुमार बत्स+शिव नरेश समेत 74 लोगों को नामित करते हुए धारा 228, 26,व 26 ए के तहत मामला दर्ज कराया गया है

मेरठ में वर्षा के कहर से ६ मरे :प्रदेश में मरने वालों की संख्या ४९

[लखनऊ,यूपी] वर्षा के कहर से यूपी में मरने वालों की संख्या 49 पर पहुंची| बृहस्पति वार से शुरू हुआ यह मौसमी कहर ४९ नागरिकों के जीवन को लील चूका है | शहरी और ग्रामीण इलाकों में जलभराव की चिंताजनक स्थिति से लोग जूझ रहे हैं|मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा राहत कार्यों के लिए आदेश जारी कर दिए गए हैं| मेरठ में शास्त्री नगर+कंकर खेड़ा+थापर नगर+गंगानगर+ग्लोबल सिटी आदि में जलभराव से सम्पत्तियों को नुकसान पहुँचने की सम्भावनाये व्यक्त जा रही है
प्राप्त जानकारी के अनुसार सहारनपुर में मौतों का आंकड़ा ११ पर पहुँच चुका है| मेरठ और आगरा में मरने वालों की संख्या [६+६]१२ बताई जा रही है| इसके अलावा मैनपुरी+कासगंज+बरैली+बागपत+कानपूर+मथुरा+ग़ाज़िआबाद+हापुड़ +राय बरैली+ अमेठी+ आदि से भी दुखद समाचार आ रहे हैं|

Soni Directs to Clear Loopholes Of 2 Industrial Units of Dera Bassi

[Chd,Pb]Environment Minister Soni Directs to Clear Al Loopholes Of 2 Industrial Units of Dera Bassi within 10 Days
The Punjab Environment Minister Om Prakash Soni inspected two main industrial units Federal Agro Private Industries Limited and Nectar Life Science Limited in Dera Bassi. and found some loopholes in the functioning of Effluents Treatment Plants (ETPs) of these industrial units. Minister asked the owners of these units to fullfill all the norms within 10-day. After that necessary actions being taken against them.
Mr. Soni directed the officers of the Environment Department and Pollution Control Board (PPCB) to keep a close tab on the industries in a bid to check the contamination of natural water resources. He said that if any industry does not follow governmental norms and continues to spill out contaminated water into river then strict action would be taken against erring unit.
He also Expressed grave concern over contaminated and untreated water being thrown by the industries of Chandigarh and Haryana into Ghaggar River,
On this occasion Chairman of Punjab Pollution Control Board (PPCB) Pro. Satwinder Singh Marwaha and Chief Environmental Engineer Mr. Gulshan Rai were also present.