Ad

Category: Environment

नॉएडा में चिन्हित 74 अवैध बिल्डरों के खिलाफ केस दर्ज

[नोएडा,यूपी]नॉएडा में चिन्हित 74 अवैध बिल्डरों के खिलाफ बिसरख में केस दर्ज
बिसरख थाना क्षेत्र के शाहबेरी गांव में छह मंजिला इमारत गिरने की घटना के बाद ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने इस गांव में इमारत बना रहे 74 बिल्डरों के खिलाफ अवैध रूप से भवन निर्माण का मामला दर्ज कराया हैं।
17 जुलाई को शाहबेरी गांव में छह मंजिला इमारत गिरने से नौ लोगों की मौत हो गई थी।
इस मामले में 24 लोगों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या सहित विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज हुआ है।
देव शर्मा+सुबोध नागर+अमित कुमार+सत्यवीर सिंह+डॉक्टर के के शर्मा+आभा शर्मा+अरविंद कुमार बत्स+शिव नरेश समेत 74 लोगों को नामित करते हुए धारा 228, 26,व 26 ए के तहत मामला दर्ज कराया गया है

मेरठ में वर्षा के कहर से ६ मरे :प्रदेश में मरने वालों की संख्या ४९

[लखनऊ,यूपी] वर्षा के कहर से यूपी में मरने वालों की संख्या 49 पर पहुंची| बृहस्पति वार से शुरू हुआ यह मौसमी कहर ४९ नागरिकों के जीवन को लील चूका है | शहरी और ग्रामीण इलाकों में जलभराव की चिंताजनक स्थिति से लोग जूझ रहे हैं|मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा राहत कार्यों के लिए आदेश जारी कर दिए गए हैं| मेरठ में शास्त्री नगर+कंकर खेड़ा+थापर नगर+गंगानगर+ग्लोबल सिटी आदि में जलभराव से सम्पत्तियों को नुकसान पहुँचने की सम्भावनाये व्यक्त जा रही है
प्राप्त जानकारी के अनुसार सहारनपुर में मौतों का आंकड़ा ११ पर पहुँच चुका है| मेरठ और आगरा में मरने वालों की संख्या [६+६]१२ बताई जा रही है| इसके अलावा मैनपुरी+कासगंज+बरैली+बागपत+कानपूर+मथुरा+ग़ाज़िआबाद+हापुड़ +राय बरैली+ अमेठी+ आदि से भी दुखद समाचार आ रहे हैं|

Soni Directs to Clear Loopholes Of 2 Industrial Units of Dera Bassi

[Chd,Pb]Environment Minister Soni Directs to Clear Al Loopholes Of 2 Industrial Units of Dera Bassi within 10 Days
The Punjab Environment Minister Om Prakash Soni inspected two main industrial units Federal Agro Private Industries Limited and Nectar Life Science Limited in Dera Bassi. and found some loopholes in the functioning of Effluents Treatment Plants (ETPs) of these industrial units. Minister asked the owners of these units to fullfill all the norms within 10-day. After that necessary actions being taken against them.
Mr. Soni directed the officers of the Environment Department and Pollution Control Board (PPCB) to keep a close tab on the industries in a bid to check the contamination of natural water resources. He said that if any industry does not follow governmental norms and continues to spill out contaminated water into river then strict action would be taken against erring unit.
He also Expressed grave concern over contaminated and untreated water being thrown by the industries of Chandigarh and Haryana into Ghaggar River,
On this occasion Chairman of Punjab Pollution Control Board (PPCB) Pro. Satwinder Singh Marwaha and Chief Environmental Engineer Mr. Gulshan Rai were also present.

NGT Gets “3rd” Chairperson In Justice AK Goel

[New Delhi] NGT Gets New Chairperson In Justice [Retd]AK Goel
Justice Adarsh Kumar Goel today assumed charge as chairperson of the National Green Tribunal (NGT).
Justice Goel, who retired as a Supreme Court judge on July 6, has been appointed for five years.
He is the third chairperson in the NGT since its inception in 2010.
The first chairperson was Justice Lokeshwar Singh Panta, who relinquished his post after being appointed lokayukta of Himachal Pradesh in 2011, and the second was Justice Swatanter Kumar, who retired in December last year after completing a five-year tenure.
Justice Goel was appointed Supreme Court judge in July 2014.
The post of NGT chairperson was lying vacant for more than six months, since Justice Swatanter Kumar’s retirement on December 20 last year.
After Justice Kumar’s retirement, Justice Umesh Dattatraya Salvi was made acting chairperson. He retired on February 13.
After him, Justice Jawad Rahim was appointed acting chairperson.
At present, there is only one functional court at the principal bench in the national capital. It comprises Justice Rahim and Justices R S Rathore and S S Garbyal.
Various important matters such as air pollution, rejuvenation of the Ganga and Yamuna rivers, challenge to various redevelopments projects in Delhi and the Volkswagen emission fiasco are pending before the tribunal.
The NGT’s functioning has been hit by vacancies with the apex environment watchdog left with less than one-third of its sanctioned strength of 20 officials.
The NGT was established on October 18, 2010 under the National Green Tribunal Act for effective and expeditious disposal of cases relating to environmental protection and conservation of forests and other natural resources.
The tribunal’s principal bench is in New Delhi while its zonal benches are in Bhopal, Pune, Kolkata and Chennai and its circuit benches are in Shimla, Shillong, Jodhpur and Kochi.

नीम+जामुन के पौधारोपण से टूथपेस्ट+मधुमेह के व्यवसाईयों की शामत

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

भाजपाई चेयर लीडर

औए झल्लेया मुबारकां! औए अब बहुत जल्द दिल्ली ऍन सी आर में पर्यावरण शुद्ध होने जा रहा है |औए हर तरफ पौधारोपण शुरू कराया जा रहा है|हसाडी सोनी राजधानी को धुल भरी आँधियों से बचाने के लिए ३० लाख देसी पौधे लगाए जायेंगे १५ सितम्बर से ५० किस्म के पौधे लगाए जायेंगे| सीआईएसऑफ ने तो लाखों पौधे लगा भी दिए हैं |औए अब दिल्ली का पर्यावरण हो जाना है शुद्ध |

झल्ला

ओ मेरे चतुर सेठ जी |हो सकता है पेड़ों को कटवाने से आपकी धूमिल हो रही छवि को इससे कुछ सुधार मिल जाय लेकिन एक बात तो जरूर है के आप लोग नीम और जामुन और आवला के भी पौधे लगाने जा रहे हैं | यदि घोषित संख्या के आधे पौधे भी जीवित रह गए तो टूथ पेस्ट +टूथ ब्रश और शुगर की दवाइयां बेचने वाले सौदागरों की शामत आ जाएगी |नहीं समझे ? अरे भाई नीम के दातुन की बहार जा जाएगी | रोजाना सुबह दातुन करते लोग दिखाई देने लग जायेंगे |अब जब दातुन तोड़ेंगे तो मुफ्त में जामुन तोड़ने का सौभाग्य कौन छोड़ेगा ??? अब ये मत कहना के जामुन और नीम का मधुमेह और दांतों से क्या सम्बन्ध है ?
फोटो कैप्शन
सेना की भूमि पर पेड़ कटाई

कैप्टेन साहिब! अगर पानी मिलता तो आपका किसान पानी की चोरी ही क्यूँ करता

[चंडीगढ़,पंजाब] कैप्टेन साहिब! अगर पानी मिलता तो आपका किसान पानी की चोरी ही क्यूँ करता
पंजाब सरकार धान और अन्य खरीफ फसलों के लिए नहर के पानी की पर्याप्त आपूर्ति का आश्वासन लगातार देती आ रही है लेकिन प्रदेश में नहर से पानी चोरी के 191 मामला दर्ज हो चुके है |
प्राप्त जानकारी के अनुसार जल संसाधन विभाग ने वर्तमान धान मौसम में पिछले तीन सप्ताह के दौरान पानी चोरी के 191 मामले दर्ज किए हैं। फिरोजपुर नहर क्षेत्र में ही पानी चोरी के करीब 118 मामला दर्ज किये गये है ।
जल संसाधन मंत्री सुखबिंदर सिंह सरकरिया के अनुसार पानी की किसी भी तरह की चोरी को रोकने के लिए नहरों की लगातार निगरानी की जाएगी और अगर कोई दोषी पाया जाता है तो उसे बख्शा नहीं जाएगा।
सरकरिया ने किसानों को धान और अन्य खरीफ फसलों के लिए नहर के पानी की पर्याप्त आपूर्ति का आश्वासन दिया।
उन्होंने किसानों से भूजल पर निर्भरता घटाने और ऐसा फसल उगाने की अपील की जो जल्दी तैयार होती हो और जिसमें कम पानी की जरूरत पड़ती है।

Rains Delay Commencement of Holi Cave”Amaranth” Yatra

[Srinagar]Rains Delay Commencement of Holi Cave”Amaranth” Yatra
Heavy rainfall today delayed commencement of annual Amaranth Yatra to the cave shrine in south Kashmir Himalayas from Pahalgam and Baltal base camps.
“The yatra has not commenced yet from either Baltal or Pahalgam base camps due to rain,” a spokesman of the Shri Amarnath Shrine Board (SASB) said.
Amid tight security, the first batch of nearly 3,000 Amarnath pilgrims from Jammu reached the twin base camps at Baltal and Pahalgam in Kashmir last evening.
Of this group of pilgrims,
1,904 have opted for traditional Pahalgam route while
1,091 choose the Baltal route to reach the Himalayan cave shrine in south Kashmir.
The batch comprises of 2,334 men, 520 women, 21 children and 120 Sadhus,
Security forces has dotted the 400-km road length from Jammu to Baltal and Pahalgam.
The government is for the first time using radio frequency (RF) tags to track Amarnath-bound vehicles
CRPF has introduced motorcycle squads with cameras and various life-saving equipment.
Around 40,000 security personnel from the Jammu and Kashmir Police, paramilitary, National Disaster Response Force and the Army, have been deployed for this year’s pilgrimage.
A total of 2.60 lakh pilgrims offered prayers at the shrine last year.
SASB has decided to allow 7, 500 pilgrims on each route daily.

पंजाब के ३ स्मार्ट सिटी में “स्वछता” की कसौटी पर एक भी सिटी खरी नहीं

[चंडीगढ़,पंजाब]पंजाब के ३ स्मार्ट सिटी में “स्वछता” की कसौटी पर एक भी सिटी खरी नहीं
खुशहाल पंजाब के अमृतसर+लुधियाना+जालंधर को बहु प्रचारित स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में शामिल किया गया है लेकिन इनमे से एक भी सिटी स्वच्छ सर्वेक्षण में टॉप १०० स्वच्छ शहरों में स्थान नहीं प्राप्त कर सकी|
केंद्र के हाउसिंग एंड अर्बन अफेयर के मंत्रालय की रिपोर्ट के अनुसार एक लाख से अधिक की आबादी वाले ४८५ शहरों में स्वच्छ सर्वेक्षण कराया गया था|इनमे से पंजाब के १७ शहरों को शामिल किया गया|दुर्भाग्य से इनमे से एक शहर भी टॉप १०० में स्थान प्राप्त नहीं कर सका|
लुधियाना को १३७ रैंकिंग दी गई है
अमृतसर ने २०८ रैंकिंग हासिल की
जबकि जालंधर को २१५ पर संतोष करना पढ़ा है |बेशक ये रैंकिंग पिछले वर्ष की तुलना में बढ़ी है लेकिन स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में आने के बावजूद टॉप १०० में भी स्थान ना पाने के कारण प्रदेश में कांग्रेस और केंद्र में भाजपा की सरकार की कार्यप्राणाली पर प्रश्न चिन्ह लगाने स्वाभाविक ही है

Akalis Start Mining Cong Govt on Menace Of Illegal Mining

[Chd,Pb]Akalis Start Mining Congress Govt on Menace Of Illegal Mining
Opposition party Shiromani Akali Dal (SAD) today lashed out at the Congress government for its alleged failure to end the menace of illegal mining in Punjab.
SAD MP and party’s senior leader Prem Singh Chandumajra said the environment and people of Punjab were under a “big threat”due to the “illegal mining in the state”.
As per rules digging cannot go beyond the 10 feet limit as it could harm the balance of ecology. But 30-40 feet deep ditches at the mining sites are seen across Punjab.
The SAD leader said it has started to take toll on everything — from fertile land and bridges to people’s houses.
The Lok Sabha MP from Anandpur Sahib said soil erosion had become a major problem, besides bridge collapses and cracking of house walls in the areas where illegal mining was “rampant”.
“Rupnagar and Mohali districts are the biggest sufferers as the consequences of illegal mining are being faced by them on a large-scale with incidents of bridge collapse and damages to houses have been increasing sharply,” he added.
Law Maker said “If the Congress government fails to contain illegal mining activities in next few days, we will approach the Union environment minister and ask him to intervene in safeguarding the interests of the state and the people,”

सीएम की दूर की नजर,स्थानीय नेताओं की नजदीक की कमजोर है:२१ बस टर्मिनल

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

भाजपाई चेयर लीडर

झल्लेया मुबारकां! औए हसाड़े धाकड़ मुख्य मंत्री महंत आदित्यनाथ योगी जी ने प्रदेश में अंतराष्ट्रीय स्तर के २१ नए बस अड्डों को हरी झंडी दे दी है|औए अब वातानुकूलित बाजारों में मौज शॉपिंग करो और मस्ती से सफर करो

झल्ला

मेरे भोले सेठ जी! लगता है आपके सीएम साहिब की दूर की नजर और स्थानीय सांसद+विधायकों की नजदीक की नजर कमजोर है तभी ये लोग प्रस्तावित बस अड्डों की वस्तुस्थिति से अज्ञान है|इन २१ बस अड्डों में मेरठ के दो बस अड्डे भी शामिल हैं और दुर्भाग्य से ये दोनों बस अड्डे दशकों से कानूनी पचड़ों में फंसे हुए हैं | स्वयंसेवी संगठनों ने भी कोर्ट में जाने की धमकी दे राखी है