Ad

Archive for: October 2013

Dr Man mohan Singh Expressed Deep Sorrow Over the Loss of lives in Mehabub nagar Bus Inferno

Dr Man mohan Singh Has Expressed Deep Sorrow over the loss of lives in the Mehabubnagar bus Inferno
The Prime Minister has expressed sorrow over the loss of lives in the bus accident today in Mehabubnagar, Andhra Pradesh.
He has extended his heartfelt condolences to the bereaved families and has wished a speedy recovery to those injured .
Forty persons were charred to death as the private luxury bus they were travelling in burst into flames after its fuel tank caught fire in Palem village in Mahbubnagar district in the wee hours today.
As Per The Sources ILL Fated Passengers were apparently asleep when the tank exploded around 100km from Hyderabad and were trapped inside the bus.Seven persons Including driver and conductor manage to escape .

चुनावी मौसम में मोदी को एस पी जी सुरक्षा देने का मतलब है कांग्रेसी भैंस गई पानी में

झल्ले दी झल्लियां गल्लां

निराश भाजपाई

ओये झल्लेया ये कांग्रेसी तो एकदम नंगई पर उतर आये हैं देख तो इनके शहजादे राहुल गांधी कहते फिर रहे हैं कि उनकी जान को खतरा है लेकिन जेड पलस सुरक्षा वाले हसाडे नरेंद्र मोदी की तो पूरी रैली को ही उड़ाने के प्रयास बिहार में हो चुके है इस पर भी गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे ने मोदी जी को एस पी जी सिक्यूरिटी मुहैय्याकरवाने से साफ़ इंकार कर दिया |

झल्ला

ओहो सेठ जी आप बार बार ये भूल जाते हो कि ये कांग्रेसी सदियों पुरानी पार्टी है इसमें घाट घाट से पानी लाकर नेताओं को तैयार किया जाता है| इसीलिए इन्हे मालूम है कि अगर इस स्टेज पर मोदी को प्रधान मंत्री को मिलने वाली एस पी जी सुरक्षा दे दी गई तो समझो कांग्रेस ने मोदी को दे दिया विजयी भव का वरदान

भाजपाई “कमल” पर लक्ष्मी की सुनामी लाने का वायदा कर रहे हैं ऐसे में इसी “कमल” से वोट निकालने का कांग्रेसी हक़ तो बनता है

झल्ले दी झल्लियां गल्लां

आक्रोशित भाजपाई

ओये झल्लेया कांग्रेसियों को अपनी हार पच नहीं रही है देख तो मध्य प्रदेश में कांग्रेसियों को तालाबों में खिले नयनाभिराम कमल भी फूटी आँख नहीं भा रहे | इनका बावला पण तो देखोतलब के कमल को भाजपा के चुनावी कमल बता रहे हैं | मालवा+बुंदेल खंड और महा कौशल में तालाबों को ढकवाने के लिए पर्यावरण विरोधी कदम उठाने को चुनाव आयोग के तरले करने पर जुटे हैं| ओये हमने भी कह दिया है कि पर्यावरण के विनाश के लिए अगर तालाबों को ढका जाएगा तो हमने भी इनके शरीर पर लगे हाथों [कांग्रेसी चुनाव चिन्ह]को ढके जाने की मांग कर देनी है

|
झल्ला

अरे सेठ जी आप लोग चुनावी मौसम में पूरे देश में कमल के फूल पर लक्ष्मी की सुनामी लाने का आश्वासन देते नहीं थक रहे ऐसे में कमल से वोट निकालने का हक़ तो कांग्रेसियों का बनता ही है|हाँ अगर तालाब ही ढके जायेंगे तो लक्ष्मी और वोट दोनों रुष्ठ हो सकते हैं|सो सोच लो

पहलवानों को सी बी आई के पंजो से आजाद करवाने का खामियाजा तो “बेचारों” को भुगतना ही होगा

झल्ले दी झल्लियां गल्लां

आजम गढ़ से सपाई चीयर लीडर

ओये झल्लेया देखा हसाडे पहलवान मुलायम सिंह यादव जी का दांव|ओये आजम गढ़ की रैली में माननीय मुलायम सिंह यादव जी ने पार्टी की कमान फिर से सम्भाल लीओये उन्होंने तो पकिस्तान के खिलाफ प्रधान मंत्री डॉ मन मोहन सिंह को बेचारा बनाने केलिए कांग्रेस को भी कटघरे में खड़ा कर दिया है| बेचारे डॉ मन मोहन सिंह कोई फैंसला कड़ाई से नहीं ले पा रहे हैं| ओये २०१४ के चुनावों में कांग्रेस का सूपड़ा साफ करके ही अब हम मानेंगे

झल्ला

छोटे पहलवान जी बेचारे मन मोहने पी एम् ने कड़ाई से एक फैंसला करा कर आप जी के पहलवान जी को सी बी आई के पंजो से आजाद करवा कर जो गलती की है उसका खामियाजा अभी तक भुगत रहे हैं

सरदार पटेल की विरासत को लेकर डॉ मन मोहन सिंह और नरेंदर मोदी भिड़े

जैसी कि आशंका थी ,लौहपुरुष वल्लभ भाई पटेल की विरासत पर आज दो सरदार भिड़ ही गए | स्टेज था अहमदाबाद में सरदार पटेल संग्रहालय के उद्घाटन समारोह का और पात्र थे प्रधान मंत्री डॉ मन मोहन सिंह और गुजरात के मुख्य मंत्री नरेंदर मोदी|
नरेंदर मोदी ने अपनी विशिष्ठ शैली में केंद्र में सत्ता रुड कांग्रेस और प्रधानमंत्री पर व्यंग बाण चलाये जिसके जवाब में सदा शांत स्व्भाव वाले मन मोहन सिंह ने भी उसी भाषा में जवाब दिया|
अहमदाबाद में सरदार पटेल स्मारक के कार्यक्रम में प्रधानमंत्री एक घंटे देर से पहुंचे। पहले वह राजीव गांधी भवन में कांग्रेसियों के पास गए थे। कार्यक्रम शुरू होते ही नरेंदर मोदी ने पटेल पर राजीव गांधी को वरीयता देने पर प्रधानमंत्री पर तंज कसा। साथ ही कहा किजवाहर लाल नेहरू के बजाय सरदार वल्ल्भ भाई पटेल देश के पहले प्रधानमंत्री बनते तो देश के हालात कुछ और ही होते |
इसके आलावा मोदी लागातार गुजरात के विकास का भी उल्लेख करते गए गौरतलब है कि गुजरात का विकास मॉडल लागातार केंद्रीय नेताओं के निशाने पर रहा है मोदी ने बताया कि केंद्र सरकार ने देश में सबसे ज्यादा 90 बार सुशासन के लिए गुजरात सरकार को पुरस्कार दिए हैं।
डॉ मन मोहन सिंह ने अपने सम्बोधन में सरदार वल्ल्भ भाई पटेल की विरासत पर अपनी पार्टी के कॉपी राइट्स का दावा प्रस्तुत करते हुए मोदी के तमाम दावों को ध्वस्त करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी के सरदार पटेल भारत के महान सपूत थे। उन्होंने देश की एकता-अखंडता के लिए पूरा जीवन समर्पित कर दिया। पांच सौ से ज्यादा रजवाड़े एक किए।पीएम ने कहा कि दोनों के बीच गहरा सम्मान और भरोसा था। पटेल वाली कांग्रेस से में[मन मोहन सिंह] भी जुड़ा हूँ| उन्होंने कहा “सरदार साहब हमारे देश के सबसे बड़े नेताओं में से एक माने जाते हैं। उन्होंने आज़ादी की लड़ाई में एक महत्वपूर्ण भूमिका अदा की और आज़ादी के बाद भारत के उप प्रधान मंत्री के रूप में राजाओं और नवाबों की 500 से अधिक रियासतों को भारत में शामिल करने के काम का नेतृत्व किया। यह कहना ग़लत नहीं होगा कि आज दुनिया जिस एक और अखंड भारत को जानती है उसकी बुनियाद रखने में सरदार वल्लभ भाई पटेल का बहुत बड़ा योगदान था। उनकी इच्छा शक्ति और शासन क्षमता अनोखी थीं और इसीलिए उन्हें लौह पुरुष के नाम से जाना जाता है।
सरदार पटेल जी का नज़रिया पूरी तरह से धर्मनि‍र्पेक्ष था। उन्हें भारत की अखंडता में गहरा विश्वास था। उन्होंने कहा था कि पूरा भारत उनका गांव है और सभी संप्रदाय के लोग उनके दोस्त और रिश्तेदार हैं।

The Prime Minister, Dr. Manmohan Singh inaugurated the Sardar Vallabhbhai Patel Museum, in Ahmedabad on October 29, 2013. The Governor of Gujarat, Smt. Kamla Beniwal, the Chief Minister of Gujarat, Shri Narendra Modi and the Union Minister for Mines, Shri Dinsha J. Patel are also seen.

The Prime Minister, Dr. Manmohan Singh inaugurated the Sardar Vallabhbhai Patel Museum, in Ahmedabad on October 29, 2013.
The Governor of Gujarat, Smt. Kamla Beniwal, the Chief Minister of Gujarat, Shri Narendra Modi and the Union Minister for Mines, Shri Dinsha J. Patel are also seen.


सरदार पटेल जी एक जमीन से जुड़े हुए नेता थे। उनका जन्म गुजरात के एक ग्रामीण इलाके में हुआ उन्होंने हमेशा सामाजिक और आर्थिक रूप से पिछड़े हुए लोगों और ख़ास तौर पर किसानों की भलाई के लिए उम्रभर काम किया। खेड़ा, बलसाड़ और बारदोली के किसानों को उन्होंने जिस तरह से संगठित करके सवि‍नय अवज्ञा आंदोलन में शामिल किया उसे आज भी याद किया जाता है।”
उन्होंने बताया” इस संग्रहालय में सरदार पटेल और आज़ादी की लड़ाई से संबंधित लगभग 1000 से ज्यादा फोटो, सरदार पटेल के भाषण, उनके पत्र और उनके व्यक्तिगत उपयोग में आई वस्तुएं उपलब्ध रहेंगे। अब से इस राष्ट्रीय स्मारक में भारत के स्वतंत्रता संग्राम पर एक 3D साउंड एण्‍ड लाईट कार्यक्रम का आयोजन भी हुआ करेगा।”
पी एम् ने कहा “मैं अपनी बात खत्म करने से पहले सरदार पटेल के महात्मा गांधी और पंडित जवाहरलाल नेहरू के साथ किस प्रकार के संबंध थे इसका ज़िक्र करना चाहूंगा। सरदार पटेल जी का मानना था कि महात्मा गांधी उनको उसी तरह का प्यार देते हैं जैसे उन्हें अपने पिता से मिलता। और गांधी जी भी सरदार पटेल को अपने बेटे की तरह मानते थे। दोनों नेताओं ने यरवदा जेल में 1930 के दशक में 16 महीने साथ गुज़ारे। सरदार पटेल का कहना था कि यह 16 महीने बापू के साथ की वजह से बहुत खुशी में गुज़रे।” “कई बार दोनों के बीच मतभेदों का ज़िक्र आता है। लेकिन यह याद रखना बहुत ज़रूरी है कि दोनों के बीच सहमति के विषय कहीं ज़्यादा थे और दोनों नेता एक दूसरे के विचारों का बहुत सम्मान करते थे।
photo caption
[1]” The Prime Minister, Dr. Manmohan Singh unveiling the plaque to inaugurate the statue of Sardar Vallabhbhai Patel, at the inauguration of the Sardar Vallabhbhai Patel Museum, in Ahmedabad on October 29, 2013.
The Governor of Gujarat, Smt. Kamla Beniwal, the Chief Minister of Gujarat, Shri Narendra Modi and the Union Minister for Heavy Industries and Public Enterprises, Shri Praful Patel are also seen.

अमेरिकन यंग एडल्ट्स मात्र ५० $s में मेडिकल हेल्थ इन्शुरन्स का लाभ उठा सकते हैं

ओबामा केअर के सौजन्य से अब अमेरिकन यंग एडल्ट्स मात्र ५० $s में मेडिकल हेल्थ इन्शुरन्स का लाभ उठा सकते हैं | प्रेसिडेंट ओबामा के एक सहायक डेविड सिमस के अनुसार पहली अक्टूबर से प्रारम्भ हुए अफोर्डेबल केअर एक्ट यंग जेनेरेशन के लिए बेहद लाभ कारी साबित हो रहा है | हेल्थ &ह्यूमन सर्विस रिपोर्ट में बताया गया है कि हेल्थ इन्शुरन्स मार्किट प्लेस के आधे यंग एडल्ट लाभार्थियों को मात्र प्रति माह ५० $ का भुगतान ही करना होगा| एडवोकेसी ग्रुप [Jesse Lee ] जेस्सी ली ने अपने ब्लॉग में यह दावा किया है कि यंग अमेरिकन्स बड़ी संख्या में अफोर्डेबल केअर एक्ट के समर्थन में आ गए हैं|जनरेशन प्रोग्रेस की ऐनी जॉनसन [ Anne Johnson ] का दावा है कि यह स्कीम और अफोर्डेबल हो सकेगी|

डौडि़याखेड़ा की १२ दिन की खुदाई में १००० टन सोने की चमक आज भी दिखाई नहीं दी

[नई दिल्ली]डौडि़याखेड़ा, संग्रामपुर-जिला उन्नाव (उत्तर प्रदेश) की १२ दिन की खुदाई में १००० टन सोने की चमक आज भी दिखाई नहीं दी|
18.10.2013 से 29.10.2013 डौडि़याखेड़ा, संग्रामपुर-जिला उन्नाव (उत्तर प्रदेश)के राव राम बक्श सिंह के किले में खुदाई की ताजा स्थिति इस प्रकार रही।
18.10.2013 से वाईवीआई के वृत के चतुर्थ भाग के तीसरे हिस्से में खुदाई का काम शुरु हुआ। ईट की दो समानांतर दीवारों (3.00 मीटर x 2.50 मीटर) तक की बीच की दूरी तक खुदाई सीमित रही। यह सतह से 4.80 मीटर की गहराई तक जारी रही और खाई के कंकड़ पत्थर वाले स्तर तक पहुंची। अब इस ट्रैंच का मानचित्रण और फोटोग्राफी की तैयारी प्रगति पर है। भारत के पुरात्व सर्वेक्षण के महानिदेशक ने आज मीडिया को बताया कि दीवार के ढ़ाचे को खत्म करके खुदाई का क्षेत्र बढ़ाना चाहते हैं।
उन्होंने बताया कि सतह संख्या 9 से प्रारम्भिक एतिहासिक काल के नमूने मिले हैं।
[I] इस ट्रैंच से निम्न प्राचीनकालीन वस्तुएं मिलीः१. शीशे की चुड़ियां[२]. लौह नख[३]. कूदने की सामग्री[४]. शेर के आकार के विखरे पत्थर
[५] सुपारी के आकार के मनके
[II ]जले ईंट के आकार[१]. लखौरी-ईंट की दीवार (खाई का दक्षिण पश्चिम कोना)(14 कोर्स)[२]. जली ईंट की दीवार (पूर्व की तरफ का) भाग-1.46 मीटर लंबा (केवल एक कोर्स)-ईंट का आकार 47x24x6.75 सेंटीमीटर
[III] सिगड़ी (०२) संख्यास्थल पर एएसआई के अधिकारियों की सलाह से जीएसआई की टीम ने गंगा नदी से सटे स्थल पर अन्य खोज में परिक्षण के तौर पर खुदाई का सुझाव दिया है। सतह की समुचित साफ-सफाई के बाद एक्सए 2 बिछाया गया है और खुदाई का काम कल शुरु होगा।
उत्तर प्रदेश के पुरातत्व के प्रतिनिधि, उन्नाव जिले के बारा के एसडीएम लाईजनिंग अधिकारी के तौर पर देख रेख कर रहे हैं।

Air Marshal Arup Raha will be the next Chief Of The Air Staff on December 31 Of This Year

Air Marshal Arup Raha will be the next Chief Air Staff
The Government has decided to appoint Air Marshal Arup Raha, PVSM, AVSM, VM, ADC, at present the Vice Chief of Air Staff, as the next Chief of the Air Staff after the retirement of Air Chief Marshal NAK Browne, PVSM, AVSM, VM, ADC on December 31, 2013.
Air Marshal Raha was commissioned into the IAF on December 14, 1974 in the Fighter Stream of the Flying Branch.
During a career spanning over nearly 39 years, he has held various command, staff and instructional appointments. He has served as Air Attache at the Embassy of India, Ukraine. Besides various technical courses, Air Marshal Raha has done National Defence College, Staff College, Strategic Nuclear Orientation Course and Junior Commanders’ Course. He has commanded Central Air Command and Western Air Command. He is one of the Honorary ADCs to the Supreme Commander.

खाद्य प्रदार्थों के लिए गए ५८% नमूनो में मिलावट मिली:चांदी के वर्क और हींग में शत प्रतिशत मिलावट

मेरठ जिले में खाद्य प्रदार्थों के लिए गए ५८% नमूनो में मिलावट पाई गई है|
५० छात्रों ने लगातार १५ दिन घूम घूम के ४१३ सैम्पल्स इकट्ठे किये जिनमे से २४१ नमूनो में मिलावट पाई गई| १० अक्टूबर से प्रारम्भ आर जी कालेज के फ़ूड एंड क्वालिटी विभाग + प्रगृति विज्ञान +जिला विज्ञान +के संयुक्त अभियान में १५ आइटम्स के ४१३ सैम्पल्स लिए गए|इनमे मिर्च मसाले+ पनीर +कॉफ़ी आदि मुख्य हैं| काली मिर्च के मुकाबिले लाल मिर्च में मिलावट ज्यादा पाया गया |
काली मिर्च के २२ नमूनों में से ५ नमूने फ़ैल हुए जबकि लाल मिर्च के ४० में से ३३ नमूने फेल साबित हुए|
चांदी के वर्क में तो शत प्रतिशत मिलावट पाई गई इसके १४ में से १४ नमूने मिलावटी पाये गए|
हल्दी के पाउडरके ५३ में से ४६ नमूने मिलावटी पाये गए|
दूध के १६ में से ७ में मिलावट पाई गई
कॉफ़ी के ३२ में से ९ नमूने फ़ैल हुए
चाय के १४ में से ११ नमूने मिलावटी पाये गए
हींग के तो १६ में से १६ नमूनो में मिलावट पाई गई
लोंग के ३६ में से २३ सैम्पल्स फेल हुए
बेसन के २७ में से २४ सैम्पल्स फेल हुए
पनीर के ६ में से ५ नमूने मिलावटी पाये गए
मावा के ५ में से ३ नमूने फेल हुए
जिला विज्ञानं कल्ब के दीपक शर्मा ने बताया कि त्योहारों के मध्य नजर जनता को जागरूक करने के लिए ये अभियान चलाया गया |

“आप” पार्टी ने सुल्तानपुर और कस्तूरबा नगर के लिए दस सम्भावित प्रत्याशियों की लिस्ट जारी की

आम आदमी पार्टी[आप ] ने आज दिल्ली के सुल्तान पुर और कस्तूरबा नगर विधान सभा छेत्रों के लिए दस सम्भावित प्रत्याशियों की लिस्ट जारी की इनमे दो महिलायें हैं|
[अ] सुल्तानपुर माजरा से 5 जारी संभावित प्रत्याशिओं की लिस्ट निम्न है: :
[1]नाम- मंजू
शिक्षा-एम.फिल, बीएड।
खाली समय में गरीब बच्चों को ट्यूशन पढ़ाया ।
[2]नाम- संदीप कुमार
शिक्षा- विधि स्नातक।
वाल्मिीकि समाज़ के लिए हर कार्य करने को सदैव तत्पर रहते हैं।
[3]नाम- सुरेंदर कुमार
शिक्षा : छठी पास
सुरेन्द्र कुमार भारतीय बाल्मीकि जन कल्याण महासंघ के उत्तर-पश्चिमी छेत्र के अध्यक्ष है.
[4]नाम- जितेंद्र
शिक्षा- स्नातक।
परिवर्तन एक जुनून संगठन के 2 वर्ष अध्यक्ष रहे।
[5] नाम- मांगे राम निम्मल
[आ] कस्तूरबा नगर विधानसभा से 5 संभावित उम्मीदवारों सूची निम्न है.
१]. नाम-कैलाश चंद्र जैन
पता-ईस्ट ऑफ कैलाश, नई दिल्ली
शिक्षा-बी.कॉम, (चार्टेड एकाउंटेंट)
झुग्गी बस्ती में सेवा भारती के साथ मिलकर प्रत्येक सप्ताह चिकित्सा कैंपों का आयोजन करते हैं।
२]. नाम – मंजू दत्ता
पता-गढ़ी, नई दिल्ली।
शिक्षा- एम.कॉम ।
अपने क्षेत्र में गरीबों, निरक्षरों को अपने अधिकारों के प्रति जागरूक करने के अभियान पर लम्बे समय से हैं।
३]. नाम- निपुन विज़
पता- साउथ एक्सटेंशन पार्ट-1, नई दिल्ली-49.
शिक्षा- पीजीडीएम, आईआईएम-कलकत्ता।
पिछले 2 वर्षो से सप्ताह के अंतिम दिनों में अपने माता-पिता के साथ सफदरजंग अस्पताल में जाकर इन जरूरतमंदों की सेवा करते हैं।
४]. नाम – रवि बजाज
पता- मुबारक पुर, नई दिल्ली।
शिक्षा- एमएससी -भूगोल।
कांग्रेस की पृष्ठ भूमि के कारण राजनीति की अच्छी समझ रखने की बात करते हैं।
५]. नाम -मदन लाल
पता-कोटला
शिक्षा – एम.ए.एल.एल.बी.
समाज के पिछड़े, लाचार, अनुसूचित जाति के विकास हेतु प्रयासरत हैं. बार एसोसिएशन साकेत कोर्ट के संस्थापक अध्य़क्ष रहे.