Ad

Category: Economy

मुंशी प्रेम चंद साहित्य को बेचने उतरा इस्कान

जमीन से जुड़े भारतिओं के जीवन के निचोड़ को शब्दों में पिरो कर लिखी गई मुंशी प्रेम चंद की अमर कहानियों को आम पाठकों तक पहुंचाने के लिए इस्कान ने कृष्ण भक्ति के चुम्बकीय तरंगे उछाली |
मेरठ के चेतन काम्प्लेक्स में निम्बस बुक स्टाल पर मुंशी प्रेम चंद साहित्य मेले का आयोजन हुआ \ बुधवार को कमिश्नर मृत्युंजय कुमार नारायण ने फीता काट कर इसका उदघाटन किया इस अवसर पर इस्कान ने हरिनाम संकीर्तन भी किया

घरेलू गैस सिलेंडर हुआ ६/= महँगा

तेल कम्पनियों ने राज्य में सीधे पेट्रोल+डीजल+घरेलू गैस के दाम बड़ा दिए हैं|
गैस सिलेंडर में ६/= का इजाफा किया गया है| नई दरें अब इस प्रकार होंगी

पुराने रेट्स नए रेट्स
पेट्रोल ७३.४५ ७४.१५
डीजल ४३.३० ४३.९४
घरेलू गैस का सिलेंडर ३९९/= ४०५/=

भारतीय रुपया और सेंसेक्स दोनों गिरे

भारतीय रुपया आज अमेरिकी डालर के मुकाबिले १८ पैसे डाउन हो गया अब एक अमेरिकी डालर के लिए ५६.२९ देय होंगे|यूरो के मुकनिले डोलर की मजबूती का असर भारतीय रुपये पर भी पड़ रहा है|बी एस ई बेंच मार्क के अनुसार सेंसेक्स में भी ०.४3% की गिरावट दर्ज़ की गई है

भारतीय रूपया १३ पैसे लुड़का

आज सेंसेक्स के उठने के बावजूद भारतीय रुपया अमेरिकी डालर के मुकाबिले १३ पैसे लुडक गया|ऐसा ऑयल कंपनियों द्वारा डालर की मांग बढाने के कारण हुआ है

विशाखापट्नम में स्टील प्लांट के विकेन्द्रीयकरण के विरोध में हड़ताल

केंद्र सरकार की विकेन्द्रीयकरण की निति के विरुद्ध आज विशाखापट्नम में राष्ट्रीय इस्पात निगम के हज़ारों कर्मचारियों ने २४ घंटे की[आज सुबह ६ बजे से ] हड़ताल की है|इस प्लांट के १४००० स्थाई कर्मिओं के साथ २०००० अस्थाई कर्मिओं ने भी आज गैर हाज़िर रह कर हड़ताल का समर्थन किया यदपि वहां धारा १४४ लगी गई है मगर हड़ताल शांतिपूर्ण ढंग से चल रही है|इस हड़ताल से उत्पादन में ५० करोड़ रुपयों की हानि होने की संभावना जताई जा रही है| विकेंद्रीकरण के उद्देश्य से निगम के १०% इक्वेटी बेचने के लिए शेयर एनलिस्ट कराये जा रहे हैं\
इससे पूर्व इसी प्रकार वी एस पी के निजीकरण के समय १९७० में हक्कू एजिटेशन में लगभग ३२ लोग मारे गए थे| अब यहाँ भी असंतोष पनपने लग गया है

.

पेट्रोल के दाम ७० पैसे प्रति लीटर बड़े =आज रात से लागू

पेट्रोल के दामों में ७० पैसे प्रति लीटर बड़ा दिया गया है\ २३-०७-२०१२ की रात बारह बजे से नए रेट्स लागू होंगे| इसके लिए अन्तराष्ट्रीय बाज़ार में तेल के दामो बढोत्तरी को आधार बनाया गया है| राष्ट्रपति के चुनावों के ठीक बाद यह बढोत्तरी जनता के विशवास के साथ धौका बताया जा रहा है\ लेफ्टिस्ट मोहम्मद सलीम ने इसके लिए सरकार की नीतियों को दोषी बताया है|

प्रधान मंत्री कार्यालय[पी एम् ओ] से आज देश में सूखे पर खतरे की घंटी बजा दी गई है

प्रधान मंत्री कार्यालय[पी एम् ओ] से आज देश में सूखे पर खतरे की घंटी बजा दी गई है|मौसम की बेरुखी पर चिन्ताव्य्क्त करते हुए पी एम् ओ कार्यालय से बताया गया है कि पूरे देश में केवल २२% बारिश हुई है और बारिश के पानी का संग्रह भी बेहद कम हुआ है इससे राजस्थान ,कर्णाटक,पंजाब ,हरियाणा में स्थिति गंभीर स्वीकार कर ली गई है|दाल और धान पर इसका अधिक असर होने की संभावना जताई जा रही है
उल्लेखनीय है कि केन्द्रीय [अनुभवी]कृषि मंत्री शरद पवार भी विद्रोह की राह पर चल रहे हैं श्री पवार ने बीते सप्ताह के अंतिम दिनों में इस्तीफा नुमा पर भी पी एम् को भेज दिया है उस समय से श्री पवार और उनके दल के मंत्री सरकारी कार्यों में रूचि नहीं ले रहे हैं|लाल बत्ती वाली गाड़ियों के बजाय अपनी गाड़ियों का प्रयोग कर रहे हैं |यह ही आरोप लगाए जा रहे हैं कि शरद पवार केंद्र सरकार को ब्लैक मेल कर रहे हैं|
देश में सूखे के हालात हैं + कृषिमंत्री हैं नहीं और दिगज्जों में सत्ता के बटवारे की रेस लगी है | वाकई हालात गंभीर होते जा रहे हैं|Permalink: http://jamosnews.com/

खुदरा व्यापार में विदेशी निवेश के विरोध में सपा भी आई

राष्ट्रपति चुनावों में कंधे से कन्धा मिला कर चल रहे सपा +वाम दल और जे डी[एस] ने अब चुनावो के पश्चात विदेशी निवेश पर यूं पी ऐ को ठेंगा दिखा दिया है\
मल्टी ब्रांड रिटेल में विदेशी निवेश का विरोध करने के लिए सपा भी अब छटक कर अलग जा खड़ी हुई है\सपा ने सरकार को चेतावनी दी है की बिना व्यापक सहमति के इस मुद्दे पर कोई निर्णय नहीं लिया जाए|कृषि के बाद खुदरा व्यापार में सबसे ज्यादा रोज़गार के अवसर हैं ऐसे में इसे भी विदेशी हाथों में सौंपे जाने से पूर्व व्यापक सहमती बनाने की मांग की गई है|
मुलायम सिंह यादव[सपा]प्रकाश करात[माँ का पा]एस सुधाकर रेड्डी[भा का पा]देवव्रत बिश्वास[फारवर्ड ब्लाक]दानिश अली[जे डी एस]अम्ब्नी रॉय[आर एस पी]द्वारा संयुक्त रूप से प्रधान मंत्री को विरोध खत लिखा गया है|

रिटायरमेंट के बाद जनरल वी के सिंह किसानो की एक जुटता को गरजे

सेना में कई भ्रष्ट अधिकारिओं को बाहर करके चर्चा में आये थल सेना अध्यक्ष जनरल वी के सिंह ने सेवानिवर्ती के पश्चात कल गजरौला में किसानो को अन्याय के विरुद्ध लड़ने को प्रेरित किया|
शिव इंटर कालेज में आयोजित किसानो की महापंचायत में जनरल सिंह ने कहा की जब तक किसान एक जुट नहें होगा उसका उत्पीडन नहीं रुकेगा|इसीलिए किसानो को संगठित हो कर अपने अधिकारों के लिए लड़ना होगा|इस अवसर पर राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष वी एम् सिंह ने तलवार भेंट करके जनरल सिंह को सम्मानित भी किया|