Ad

Category: Economy

शेयर बाज़ार महंगाई से बेअसर ऊंचाईयों की तरफ अग्रसर:७८ अंक ऊपर

शेयर बाजार में आज सोमवार भी तेज़ी के नाम ही रहा |
रिज़र्व बैंक के सीआरआर में चौथाई प्रतिशत की कटौती किए जाने के निर्णय के बीच बैंकिंग+ कैपिटल गुड्स और बिजली शेयरों में लिवाली से सेंसेक्स 78 अंक चढकर बंद हुआ.
बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स आज और 78.04 अंक चढ़कर 18,542.31 अंक पर बंद हुआ| इससे पूर्व यह स्तर पिछले साल जुलाई में देखा गया था |
शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 250 अंक उछलकर दिन के उच्च स्तर 18,715.03 अंक तक को छू गया था|
नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी तेज़ी के साथ 32.35 अंक ऊपर 5,610 अंक पर बंद हुआ| कारोबार के दौरान एक समय यह दिन के उच्च स्तर 5,652.20 अंक पर पहुंच गया था.
शेयर बाजार के निवेशक विशेष तौर पर विमानन क्षेत्र में एफडीआई की नयी पहल सहित अन्य आर्थिक सुधारों में तेजी लाने के सरकार के निर्णय से उत्साहित दिखाई दे रहे हैं|
सेंसेक्स में शामिल 30 में से 18 कंपनियों के शेयरों में तेजी दर्ज की गई

कोयले से मैले हाथों को धो कर साफ़ कर लेंगे:शिंदे

विपक्ष अगर कमजोर हो +घटक घनघोर हों+समर्थक बिनाजोर हों तो सरकार तो जोरावर हो ही जाती है|इसलिए महंगाई से बने फफोलों पर तानों का नमक मलने से भी बाज नहीं आती |कमोबेश ऐसा ही लोक सभा में सरकार के नेता और गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे ने कर दिखाया है|श्री शिंदे ने कीमतों के रोल बैक के शोर में कोयला घोटालों की धूल साफ करते हुए कहा है कि जनता की याददाश्त बेहद कमजोर होती है|इसीलिए कोयले को भी बहुत जल्द भूल जायेगी|
श्री शिंदे अपने गृह प्रदेश पुणे में आयोजित एक एवार्ड समारोह में आये हुए थे|यहाँ उन्होंने कहा कि पूर्व में बोफोर्स और पेट्रोल पम्प एलाटमेंट के घोटालों को जनता भुला चुकी है|अब कोयले से मैले हुए हाथों को धो कर साफ कर लिया जाएगा|इसीलिए जनता इसे भी भूल जायेगी|
गौरतलब है कि वर्तमान के गणित के हिसाब से कांग्रेस के घटक उसके साथ हैं|ममता+मुलायम सिंह सरकार को नहीं गिराने के ब्यान दे चुके हैं|लालू प्रसाद यादव खुल कर ऍफ़ डी आई का समर्थन कर रहे हैं|एन डी ऐ भी इस मामले में एक जुट नहीं है ऐसे में सरकार को कोई खतरा नहीं है बेशक प्रधान मंत्री खामोशी पसंद करते हैं मगर आये दिन महंगाई के बड़े बड़े बमों के धमाके कर रहे हैं|उन्हें मालूम है कि सरकार कहीं जाने वाली नहीं है|तब फिर क्यूं फिसड्डी और दब्बू बन कर रहा जाए शायद इसीलिए अब प्रीमियम पेट्रोल भी सवा छह रूपये लीटर बड़ा दिया गया है|

ऍफ़ डी आई को मंजूरी से तीन एयर लाईन्स की तात्कालिक लाटरी निकली

उड्डयन छेत्र में ऍफ़ डी आई को मंजूरी दिए जाने से नकदी के संकट से जूझ रही कम से कम तीन एयर लाईन्स की तो [पहली नज़र में]लाटरी निकल पड़ी है विदेशी विमानन कंपनियां अब भारत की नागर विमानन सेवा कंपनियों में 49 प्रतिशत तक हिस्सेदारी ले सकती हैं। इससे नकदी के संकट से जूझ रहे विमानन कंपनियों को जबरदस्त प्रोत्साहन मिलने की संभावना है।विमानन क्षेत्र के लिए इस बहुप्रतीक्षित निर्णय की उम्मीद में शुक्रवार को बंबई शेयर बाजार में किंगफिशर का शेयर 7.88 प्रतिशत+ स्पाइसजेट का शेयर 4.39 प्रतिशत और जेट एयरवेज का शेयर 1.97 प्रतिशत की बढ़त लेकर बंद हुआ।
आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने विदेशी एयरलाइंस को घरेलू एयरलाइंस में हिस्सेदारी खरीदने की अनुमति देने के प्रस्ताव को शुक्रवार को मंजूरी दे दी है|
बैठक के बाद नागर विमानन मंत्री चौधरी अजित सिंह ने संवाददाताओं को बताया कि मंत्रिमंडल ने विदेशी एयरलाइंस को भारतीय विमानन कंपनियों में 49 प्रतिशत तक हिस्सेदारी खरीदने की अनुमति देने का प्रस्ताव को मंजूर कर लिया है। वर्तमान एफडीआई नियमों के तहत गैर-विमानन क्षेत्र के विदेशी निवेशकों को भारतीय विमानन कंपनियों में प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से 49 प्रतिशत तक हिस्सेदारी खरीदने की अनुमति है, लेकिन विदेशी एयरलाइंस को घरेलू विमानन कंपनियों में हिस्सेदारी लेने की अनुमति नहीं थी।उल्लेखनीय है कि विमान ईंधन पर अत्यधिक कर+ बढ़ते हवाईअडडा शुल्क+ महंगे ऋण+और गलाकाट प्रतिस्पर्धा के चलते ज्यादातर भारतीय विमानन कंपनियां घाटे में चल रही हैं। इंडिगो को छोड़कर सभी विमानन कंपनियों ने बीते वित्त वर्ष में घाटा दर्ज़ कराया है|

ऍफ़ डी आई को मंजूरी से पी एम् ने फिस्सडी,दब्बू का दाग धोया

भारत सरकार ने आज पावर +उड्डयन+ ब्राडकास्टिंग खुदरा व्यापार में ४९ से लेकर १००% ऍफ़ डी आई को मंजूरी देदी है|
सरकार ने शुक्रवार को सार्वजनिक क्षेत्र की चार कंपनियों हिंदुस्तान कॉपर, आयल इंडिया, एमएमटीसी तथा नाल्को में विनिवेश को भी मंजूरी दे दी है। इससे सरकार को 15,000 करोड़ रुपये जुटाने में मदद मिलेगी।
मंत्रिमंडल की आर्थिक मामलों की समिति (सीसीईए) की बैठक शुक्रवार १४-९-२०१२ को हुई
बताया जा रहा है कि सरकार ने आयल इंडिया में 10 प्रतिशत हिस्सेदारी बिक्री तथा हिंदुस्तान कॉपर लिमिटेड में 9.59 प्रतिशत विनिवेश को मंजूरी दी है। इसके अलावा नाल्को की 12.15 प्रतिशत तथा एमएमटीसी की 9.33 फीसद हिस्सेदारी बिक्री की मंजूरी कंपनी की ओर से बिक्री का प्रस्ताव (ओएफएस) के जरिए करने के प्रस्ताव को मंजूर किया गया है।
वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने पिछले महीने अधिकारियों से विनिवेश की प्रक्रिया तेज करने को कहा था जिससे सरकार को चालू वित्त वर्ष के लिए 30,000 करोड़ रुपये का विनिवेश लक्ष्य हासिल करने में मदद मिले।
राजकोषीय घाटे पर अंकुश के लिए विनिवेश के जरिये धन जुटाने को बेहद जरूरी बताया जा रहा है।
मल्टी ब्रांड खुदरा क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश को अनुमति देने के सरकार के फैसले की घोर आलोचना भी हो रही है| भाजपा[रवि शंकर प्रसाद] ने इसे जल्दबाजी में उठाया गया देश द्रोही कदम बताया है|भाजपा ने कहा कि इससे पांच करोड़ लोगों की रोजी-रोटी खतरे में पड़ जाएगी। सांसद बलबीर पुंज ने कहा है की डाक्टर मनमोहन सिंह अपनी बात से पलट गए हैं|इतना महत्वपूर्ण फैसला लेने से पहले विपक्ष+सहयोगी घटक+और देश को भरोसे में नहीं लिया गया|
एन सी पी ने जहां ऍफ़ डी आई का समर्थ किया है|वहीं टी एम् सी ने सरकार को अल्टीमेटम दे दिया है|
रवि शंकर प्रसाद ने दावा किया है कि विदेशी तत्वों के दबाव में किए गए इस निर्णय का भारत को कोई लाभ नहीं मिलने वाला है। उन्होंने आरोप लगाया कि मनमोहन सिंह सरकार ने भारत के लिए आउटसोसिग के मामले में अमेरिका और यूरोप से कोई पक्की प्रतिबद्धता प्राप्त नहीं कर सकने के बावजूद एफडीआई के द्वार खोल दिए हैं, जिसके देश को विनाशकारी नतीजे भुगतने पड़ेंगे।
भाजपा द्वारा हालांकि नागरिक विमानन क्षेत्र में एफडीआई की अनुमति दिए जाने के फैसले पर कोई टिप्पणी नहीं की गई है|
प्रधान मंत्री डाक्टर मन मोहन सिंह ने ट्वीट किया है की यह देश हित में जरुरी कदम था |
खैर नतीज़ा कुछ भी निकले संसद में कांग्रेस के पास बहुमत है सो सरकार जाने की कोई चिंता नहीं है हाँ इस कदम से विदेशी मीडिया की जुबान जरुर बंद हो जायेगी वोह विदेशी मीडिया जो लगातार पी एम् को फिसड्डी+पपेट+सायलेंट मोड़+दब्बू कह रहा है शायद अब अपनी जुबान बदल कर बोलेगा|

मुद्रास्फीति को बढावा देने वाली डीजल गैस कीमतों में वृद्धि का भाजपा करेगी राष्ट्रीय स्तर पर विरोध

डीजल और एल पी जी की कीमतों में वर्तमान में बडाई गई बेतहाशा बडोत्तरी को किसान और आम आदमी की विरोधी बताते हुए भाजपा ने आज कहा की यह बढोत्तरी प्रपाती और मुद्रास्फीति को बढावा देगी|



भाजपा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष वेंकईया नायडू ने कहा की पावर शार्टेज के कारण महंगे डीजल के पम्पिंग सेट से सींचाई को बाध्य किसानो की आर्थिक हालत पहले से खराब चल रही है डीजल की कीमतों में एक दम ५/= प्रति लीटर बढाने से खेती पर और किसानो पर नकारात्मक प्रभाव पडेगा|अब ट्रेक्टर का किराया भी ज्यादा देना होगा| मौजूदा समय में किसानों का खेती से मोह भंग हो रहा है |बड़ी संख्या में इनका पलायन शहरों की तरफ जारी है| सरकार के इस अदूरदर्शी कदम से पलायन को गति मिलेगी|. उन्होंने बताया की डीजल के दामो में वृद्धि से भाडा बढेगा और आम जन जीवन की उपयोगी वस्तुओं की कीमतें भी प्रभावित होंगी| इसका आम आदमी पर असर पडेगा|
रसोई गैस की सीमा ६ करने से लोअर और लोअर मिडिल क्लास को चोट पहुंचेगी|
भाजपा नेता ने कांग्रेस को निशाना बनाते हुए कहा कीकांग्रेस का कहना है की कांग्रेस का हाथ आम आदमी के साथ मगर अब इसे इस प्रकार बदल देना चाहिए

“कांग्रेस के हाथ आम आदमी के साथ विश्वासघात “

भाजपा ने इस का विरोध करते हुए किसानो+मिडिल+लोअर मिडिल क्लास के नागरिकों को राहत देने के लिए तत्काल रोल बेक की मांग की है |
इसके साथ ही श्री नायडू ने यूं पी ऐ के सहयोगी घटकों से पूछा है की घडियाली आंसू बहाने या लिप सिम्पैथी को छोड़ कर कीमतों के रोल बेक के लिए आम जनता के साथ खड़े होंगे? उन्होंने केन्द्रीय सरकार के इस जनविरोधी कदमका विरोध करने के लिए राष्ट्रीय स्तर पर अभियान छेड़ने की घोषणा भी की

डीजल कीमतों की चिंगारी से देश भर में सियासी तपिश

Demonstration Of BJP Against Price Rise Of Diesel+LPG

Demonstration Against Price Rise

people exhibiting resentments against price rise of inflammable

डीजल और रसोई गैस के दामो में वृद्धि से सोसायटी का विशेष कर लोअर माध्यम वर्गऔर लोअर अपर वर्ग चीत्कार उठा है|इस प्राईस राईस से सभी आवश्यक वस्तुओं में ८-१०% तक दाम बढ सकते हैं| टी वी चेनलों पर सुबह से ही आम आदमी के आक्रोश को दिखाया जा रहा है| यौजना आयोग के मोंटेक सिंह अहलुवालिया और सरकार के प्रवक्ता मनीष तिवारी ने इस बढोत्तरी को मजबूरी में उठाया गया कदम बताया है|श्री सिंह ने भविष्य की बेहतरी के लिए इसे आवश्यक बताया |इस एक कदम से सरकारी खजाने में २५००० करोड़ रूपये आएंगे|
उड़ीसा +पश्चमी बंगालके मुख्यमन्त्रियो के अलावा बाहर से सपोर्ट कर रही सपा और वामपन्थियो ने तत्काल कीमतों में रोल बेक की मांग की है| मुम्बई में सरकार में शामिल घटक एन सी पी के कार्यकर्ता तो मुम्बई में सडकों पर उतर आये हैं| बी जे पी ने पूर्व घोषणा के अनुसार प्रधान मंत्री के पुतले फूंकने शुरू कर दिए हैं|

डीजल ५/= महंगा सातवाँ रसोई गैस सिलेंडर ७५०/=


खामोश प्रधान मंत्री की केन्द्रीय सरकार ने आज महंगाई का जोरदार धमाका किया |इससे मध्यम वर्गीय परिवार के साथ विपक्ष भी चीत्कार उठा है|
सी सी पी ऐ की बैठक खत्म होने के बाद आज डीजल के दामो में ५/=प्रति लीटर की बढोत्तरी की घोषणा कर दी गई है|यह बढोत्तरी आज १३-९-२०१२ की रात्रि से लागू कर दी जायेगी|नए रेट्स के अनुसार डीजल अब दिल्ली में ४६.३२ रुपये और मुम्बई में ५१.२५ रुपये प्रति लीटर मिलेगा |बात यहीं खत्म नहीं हुई रसोई गैस पर भी मर पडी है अब प्रति परिवार को साल में मात्र ६ सिलेंडर गैस ही पुराने[सब्सिदाईज] रेट्स पर मिलेगी इस के अलावा गैस लेने पर बाज़ार भाव पर गैस लेना होगी जोकि ७५०/= होगी|
डीजल की कीमतें बढाने पर माल भाडा बढाना पड़ेगा|इससे हर तरफ महंगी बढनी लाजमी है| लेफ्टिस्ट नेता सडकों पर उतरने की बात करने लगे हैं| भाजपा ने इसे खुली लूट बताया है| मंत्री जय पाल रेड्डी द्वारा बार बार कीमतें बढाने से गुरेज करते रहे मगर आज रेट्स बड़ा कर अपनी और सरकार की मंशा साफ़ कर दी है|कहा जा रहा है कीतेल कम्पनियाँ घटे में जा रहे है मगर जानकारों ने घाटे की परिभाषा पर सवाल उठाने शुरू कर दिए हैं|

सेंसेक्स ने पार किया १८००० का आंकड़ा निफ्टी भी ५४०० लांघा

आज गुरुवार१३-९-२०१२ को भारतीय शेयर बाजार तेजी के बीच बंद होने में कामयाब रहा। आज भी सेंसेक्स 18000 के ऊपर ही रहा। निफ्टी भी 5400 के स्तर के ऊपर बंद हुआ। सेंसेक्स 21 अंक चढ़कर 18021 पर और निफ्टी 2 अंक चढ़कर 5433 पर बंद हुआ।
दिग्गजों के मुकाबले छोटे और मझौले शेयरों में ज्यादा बिकवाली नजर आई। निफ्टी मिडकैप 1 फीसदी से ज्यादा टूटा। बीएसई स्मॉलकैप में 0.3 फीसदी कमजोरी आई।

भ्रष्टों का कार्टून बनाना देशद्रोह है

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

एक कार्टूनिस्ट

ओये झल्लेया ये क्या जुल्म हो रहा है|ओये हम अगर कहते हैं कि संसद से लेकर चिन्हों तक हसाड़े राष्ट्रीय प्रतीक निशानों का दुरूपयोग किया जा रहा हैतो हमें देश द्रोही करार दे कर जेल में डाल दिया जाता है|ये पालिटिकल पार्टियां इधर उधर से अपना पार्टी फंड बढाए जा रही हैं | पार्टी फंड दाताओं को लाभ पहुंचाने के लिए लगातार आरोप प्रत्यारोप लगाए जा रहे हैं|
लोक तंत्र के सबसे बड़े मंदिर में पैसे लेकर सवाल पूछते हैं| अपनी हठधर्मी के चलते संसद के सत्र के सत्र बर्बाद कर रहे हैं|ओये अब तो ये सारे आपस में ही संवैधानिक संस्थाओं का चीर हरण करने पर तुल गए हैं| सुप्रीम कोर्ट+सी ऐ जी+पी एम्+
संसद सदस्यों का सभी अपने हित साधने के चक्कर में कार्टून बनाये जा रहे हैं| इन्हें कोई नहीं पूछता|अब देखो
ऐ डी आर नेशनल इलेक्शन वाच कि रिपोर्ट में बताया गया है कि पिछले सात सालों में ४६६२ करोड़ चंदे के रूप में पार्टियों को दिए गए हैं|
[१]कांग्रेस =२००८.७२ करोड़

[२]भाजपा=९९४.७७ करोड़ ]एशिया नेट टी वी
[३]बसपा= ४८४.२९ करोड़
[४]सीपीआईएम्=४१७.२६ करोड़ वेदांता पब्लिक & पालिटिकल एवेयर नेस सेंटर
[५]सपा=२७८.५६ करोड़
[६]एन सी पी १६०.८२ करोड़ भारती इलेक्टोरल ट्रस्ट आफ एयर टेल
नॅशनल कांफ्रेंस +टी एम् सी +इंडियन नेशनल लोक दल अपने खाते खोलने को तैयार नहीं हो रहे|
पार्टी फंड में दान करने वालों का पता है कौन कौन महारथी हैं अदानी एंटरप्राईज़ एवेय[ख]जिंदल स्टील
विडिओकोन
एशिया नेट टी वीटाटा इलेक्टोरल ट्रस्टटोरेंट पावर लिमिटेड [
आई टी सी+
स्टार लाईट इंडस्ट्रीज
आदित्य बिरला जनरल इलेक्शन ट्रस्टलिटिकल+

झल्ला

ओये कार्टूना गल ये है कि कांग्रेस का हाजमा मजबूत है इसी लिए पहले नंबर पर है|भाजपा को पञ्च सालों में ही जुलाब लग गए|बसपा से सपा इसीलिए पीछे है क्योंकि अभी चुनावों में खर्च हुआ है|अब एन सी पी को तो फिसड्डी रहना ही है क्योंकि इनके प्रफुल्ल जहाज़ उड़ाते उड़ाते खुद ही सबसे अमीर नेता बन गएऔर कमाल देख इनका नाम कैग में भी नहीं आया |बाकी ने तो अभी शुरुआत ही की है| वैसे यार इसपर भी कोई कार्टून मत बना देना वरना समझले चढ़ जाएगा सूली+फांसी+////////////////////////////////////

इसरो ने उपग्रह प्रक्षेपण का सैंकड़ा जड़ा= पी एम् ने बधाई दी

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन[इसरो ] ने सबसे वजनी विदेशी उपग्रह के रूप में अपना 100वां फ्रांसीसी उपग्रह स्पॉट-6 को सफलता पूर्वक प्रक्षेपित कर दिया है।
इस मौके पर देश के पीएम डाक्टर मनमोहन सिंह भी वहां मौजूद थे। मिशन अपने तय समय पर ही हुआ। इस लॉन्च के साथ भारत फ्रांस और जापान के दो उपग्रह भी स्पेस में भेजे ।
आन्ध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र के पहले लॉन्च पैड से आज रविवार सुबह 9 बजकर 51 मिनट पर यह इतिहास रचा गया है| इसमें फ्रांसीसी उपग्रह के साथ एक 15 किलोग्राम वजनी छोटा सेटेलाईट भी भेजा गया है।
यह अब तक का सबसे वजनी विदेशी उपग्रह है इसका वजन 715 किलोग्राम बताया गया है| इसरो के अनुसार 62 उपग्रह और 37 राकेट का निर्माण किया जा चुका है।
भारत के सबसे पहले आर्यभट्ट उपग्रह और राकेट उपग्रह प्रक्षेपण यान (एसएलवी) का निर्माण से अब तक अंतरिक्ष के लिए 99 प्रयास किए जा चुके हैं। गौरतलब है कि भारत ने अंतरिक्ष यात्रा की शुरुआत 1975 में शुरू की थी।
और मात्र ३७ सालों में सैंकड़ा पार करने में सफलता प्राप्त कर ली है| चन्द्रमा के ऑर्बिट के बाद अब मंगल गृह अभियान की तैयारियों के लिए हरी झंडी मिल गई है|