Ad

Tag: BlackFlagsShownToAzamKhan

मेरठ प्रशासन ने समाजवादी “हरे और लाल” रंगों से किया “आज़म खान” का स्वागत

मेरठ प्रशासन ने समाजवादी "हरे और लाल" रंगों से किया "आज़म खान" का स्वागत

मेरठ प्रशासन ने समाजवादी “हरे और लाल” रंगों से किया “आज़म खान” का स्वागत

[मेरठ.यूपी]प्रदेश में सरकार के बदलने पर स्थानीय प्रशासन की निष्ठां भी बदल जाती है यकीन नहीं आया तो इन फोटुओं को देखिये |
यूपी में समाजवादी पार्टी की सरकार है जिसके कद्दावर मंत्री ,और भाजपाई अमित शाह के अनुसार आधे सीएम, आज़म खान मेरठ में सरकारी कार्यक्रम में पधारे |डूडा ने उनके करकमलों से १६१ ई रिक्शा वितरित करवाए |इस वितरण में हमेशा की तरह धांधली के आरोप लगे +हंगामा हुआ+काले झंडे भी दिखलाये गए + राजनीती भी हुई|कैंसर पीड़िता को सहायता का आश्वासन भी गया |इन सबके अलावा हमेशा की तरह प्रशासन ने मंत्री जी को अपनी निष्ठां दिखाने में कोई कसर नही छोड़ी |
बांटे गए ई रिक्शा एक कतार में खडे किये गए थे जिन्हें हरे और लाल रंगों में रंगा गया था |गौरतलब हे के समाजवादी पार्टी के झंडे का रंग भी हरा और लाल ही है| इसके आलावा स्वागत बोर्ड+मंच पर भी यही रंगों की भरमार थी|रोज इफ़्तारी में भाग लेना और समारोह के मंचों पर समाजवादी छुटभैयों का जमावड़ा तो आम बात हो चली है

आज़म खान साहब मेरठ में कमेले की जमीन पर स्कूल के शिलान्यास समारोह में धर्म के साथ राजनीती निरपेक्षता भी दिखा देते तो हो जाती बल्ले बल्ले

झल्ले दी झल्लियां गल्लां

सपाई चीयर लीडर

Azam Khan In Meerut

Azam Khan In Meerut

ओये झल्लेया देखी हसाडे जनाब आज़म खान साहब की दरियादिली| ओये एक झटके में उन्होंने मेरठ में कट्टर मुस्लिमों के कब्जे में कमेले के नासूर को नेस्तनाबूत करके वहाँ कन्यायों के लिए कॉलेज का शिलान्यास कर ही दिया |ओये हसाडे पवित्र कुरआन का पहला अक्षर है “इकरा” जिसका मतलब होता है “पढ़ो ” कुरआन का पालन करने के लिए लड़कियों को शिक्षित करने में यह कालेज अहम् भूमिका निभाएगाअब मानता है ना हसाडे आजम खान को धर्मनिरपेक्ष?
झल्ला

Black Flags Shown To Azam Khan In Meerut

Black Flags Shown To Azam Khan In Meerut

भापा जी बात तो आप ठीक ही कह रहे हो लेकिन आँखों देखी है कि मेरठ में आज़म खान साहब को कुछ लोगों ने काले झंडे भी दिखाए लेकिन आप लोगों ने उनपर लाठियां बरसवाई |अब काले झंडो के प्रदर्शन से ज्यादा पोलिसीआई लाठी चार्ज को कवरेज मिला |रास्ते में ट्रैफिक रोक कर घंटों के जाम लगवा दिए | आम जनता को परेशानी हुई | भापा जी धर्म निरपेक्षता के साथ साथ राजनीती निरपेक्षता भी दिखा देते तो हो जाती बल्ले बल्ले