Ad

Tag: UPAssembly

भाजपा मंत्री खन्ना ने सपा विधायक की चोरी हुई रकम बरामद कराने का आश्वासन दिया

[लखनऊ,यूपी ]भाजपा मंत्री खन्ना ने सपा विधायक की चोरी हुई रकम बरामद कराने का आश्वासन दिया
आजमगढ़ के मेहनगर से सपा विधायक कल्पनाथ पासवान ने शून्यकाल के दौरान भावुक हो कर अपने दस लाख रूपये चोरी होजाने का दुखड़ा रोया और उपेक्षा पर आत्महत्या की धमकी भी दी
पासवान ने कहा, ‘मैं सदन में हाथ जोड़कर विनती कर रहा हूं । अगर मुझे यहां न्याय नहीं मिला तो कहां जाऊं । मैं मर जाउंगा … मैं बहुत गरीब हूं … अगर मेरी धनराशि वापस ना मिली तो मैं आत्महत्या कर लूंगा ।’
विधायक ने बताया कि आजमगढ़ के एक होटल से चोरी हुए दस लाख रूपये की कोई प्राथमिकी तक नहीं लिखी गयी ।
संसदीय कार्य मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने कहा कि वह मामले की रिपोर्ट मंगाएंगे और न्याय सुनिश्चित होगा ।
उन्होंने कहा कि अगर विधायक चाहते हैं तो प्राथमिकी दर्ज की जाएगी । जब विधायक ने उनसे संपर्क किया था तो उन्होंने गृह विभाग और संबंधित अधिकारियों को मामले का हल करने को कहा था

यूपी में एक साल में १५२ को नौकरियां,कांग्रेस का सदन से वाकआउट

[लखनऊ,यूपी] यूपी में एक साल में १५२ युवाओं को नौकरियां मिली लेकिन एक लाख ८९ हजार को स्वरोजगार के लिए प्रशिक्षित किया गया
जिसे लेकर कांग्रेस सदस्यों ने आज विधानसभा से वाकआउट किया।
कांग्रेस नेता अजय कुमार लल्लू ने प्रश्नकाल के दौरान सरकार से जानना चाहा कि पिछले वित्त वर्ष में सरकार ने युवाओं को कितनी नौकरियां दीं।
श्रम मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने बताया कि
2017—18 में 63, 152 युवाओं को रोजगार मेलों के जरिए निजी क्षेत्र में नौकरियां उपलब्ध करायी गयीं।
कौशल विकास मिशन के तहत एक लाख 89 हजार 936 लोगों को प्रशिक्षित किया गया। इनमें से 67, 003 रोजगार कर रहे हैं।
मौर्य ने बताया कि 60 हजार करोड़ रूपये की परियोजनाओं की ग्राउण्ड ब्रेकिंग सेरेमनी हो चुकी हे और इन परियोजनाओं से रोजगार के बड़े अवसर पैदा होंगे।
उन्होंने कहा कि सरकार शिक्षकों और पुलिसकर्मियों की भी व्यापक पैमाने पर भर्ती करने जा रही है। मंत्री के जवाब से असंतुष्ट कांग्रेस सदस्य सदन से वाकआउट कर गये

यूपी में डूबी “सपा” ने दुबारा तैरने के लिए बजटसत्र का सहारा लिया

[लखनऊ,यूपी] यूपी में डूबी “सपा” ने दुबारा तैरने के लिए बजटसत्र का सहारा लिया
प्रदेश में डूबी “सपा” ने आज बजटसत्र की असेंबली में गवर्नर के अभिभाषण का सहारा लिया |सदन में लाल टोपियां चमकी,कागज़ के गोले चले ,तख्तियों के साथ ही जुबानी नारे भी गूंजे यहाँ तक के समाजवादियों ने वेल में जाकर ॐ के उच्चारण भी किये ,लेकिन इस सब हंगामे के बावजूद राज्यपाल राम नाइक ने अपने भाषण में भूमाफिआ+ जारी रखा ,उन्होंने विपक्ष को नसीहत जरूर दे डाली| विधान सभा भवन के बाहर चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा के नीचे भी धरना प्रदर्शन हुआ|यहाँ कासगंज को लेकर मुसलमानों पर अत्याचार+आलू किसान+फर्जी एनकाउंटर + को मुद्दा बनाने का पर्यास किया गया

यूपी विधान परिषद् के शीतकालीन सत्र की शुरुआत में स्थगन

[लखनऊ,यूपी]यूपी विधान परिषद् के शीतकालीन सत्र की शुरुआत में स्थगन|कांग्रेस और सपा के हंगामे ने आधे घंटे के लिए सदन को स्थगित कराया
उत्तर प्रदेश विधान परिषद में शीतकालीन सत्र की शुरुआत आज हंगामे भरी रही।
कानून व्यवस्था तथा कई अन्य मुद्दों को लेकर विपक्षी सदस्यों की नारेबाजी और शोरशराबे के कारण सदन की कार्यवाही आधे घंटे के लिए स्थगित कर दी गयी।
सदन की कार्यवाही शुरू होते ही सपा तथा कांग्रेस सदस्य कानून व्यवस्था, किसानों को खाद एवं बीज की किल्लत तथा इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन के विरोध समेत विभिन्न मुद्दों को लेकर सरकार विरोधी नारेबाजी करते हुए सदन के बीचोबीच आ गये।
सपा सदस्य नारे लिखी टोपियां पहने तथा बैनर लिए थे।
इसके अलावा बसपा सदस्य भी अपने स्थान पर खड़े होकर नारेबाजी करने लगे।
सभापति रमेश यादव ने हंगामा थमता नहीं देख सदन की कार्यवाही आधे घंटे के लिए स्थगित कर दी

विकास का दम भरने वाली सपा सरकार आज असेंबली में बेदम हो गई

लखनउ,यूपी]विकास का दम भरने वाली सपा सरकार आज असेंबली में बेदम हो गई |उत्तर प्रदेश विधान सभा का प्रश्न काल हंगामे की भेंट चढ़ गया
काबीना मंत्री आजम खां के इस्तीफे की मांग को लेकर भाजपा सदस्यों के और कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर बसपा सदस्यों के हंगामे की वजह से विधानसभा में आज प्रश्नकाल नहीं हो सका।बुलंदशहर सामूहिक बलात्कार कांड मामले में विवादास्पद बयान देने पर आजम खान के विरुद्ध अदालत में केस भी दर्ज करे जा चूका है |
भाजपा और बसपा के सदस्य अलग-अलग मांगों को लेकर सदन के बीचोंबीच आकर नारेबाजी करने लगे।
बसपा सदस्यों ने हाथों में ‘भ्रष्टाचारी और किसान विरोधी सरकार’ के नारे लिखी नीली तख्तियां ले रखी थीं और वे राज्य की कानून-व्यवस्था के खराब होने के आरोप लगाकर नारेबाजी कर रहे थे। वहीं, भाजपा सदस्य आजम खां के इस्तीफे की मांग कर रहे थे।
विधानसभा अध्यक्ष माता प्रसाद पांडेय ने शोरगुल और हंगामा थमते नहीं देख समूचे प्रश्नकाल की कार्यवाही स्थगित कर दी।
भाजपा विधानमंडल दल के नेता सुरेश कुमार खन्ना के अनुसार बुलंदशहर बलात्कार मामले को लेकर आजम खां की टिप्पणी बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है और इसके लिये उन्हें उच्चतम न्यायालय में माफी तक मांगनी पड़ी।
उन्होंने कहा ‘‘आजम खां को सदन में बैठने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है। हमारी मांग है कि वह इस्तीफा दें

बसपा के दिनकर ने मौर्य का लिया स्थान :स्पीकर ने सौंपा नेता प्रतिपक्ष नियुक्ति का पत्र

[लखनऊ,यूपी] बसपा के दिनकर ने मौर्य का लिया स्थान :स्पीकर ने सौंपा नेता प्रतिपक्ष नियुक्ति का पत्र
गयाचरण दिनकर को आज ओपचारिक रूप से लीडर ऑफ़ अपोज़ीशन घोषित किया गया
स्वामी प्रसाद मौर्य के इस्तीफे के कारण यह रिक्ति हुई थी|
बसपा के विधायकों ने शनिवार को गयाचरण दिनकर को अपना नेता चुन लिया|बसप के ८० विधायक हैं और हाउस में सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी हैं |
जिसके फलस्वरूप असेम्ब्ली में स्पीकर माता प्रसाद पांडेय ने आज दिनकर को नेता प्रतिपक्ष का नियुक्ति पत्र सौंपा|
नसीमुद्दीन सिद्दिकी और सतीश मिश्र उपस्थित थे |दिनकर नारायणी बांदा से विधायक है |

बसपा के मजबूत स्थम्भ ‘मौर्य’ने पार्टी छोड़ी,माया ने कहा- धन्यवाद

[लखनऊ,यूपी] बहुजन समाज पार्टी [बीएसपी]के मजबूत स्थम्भ मौर्य ने पार्टी छोड़ी ,माया ने पार्टी छोड़ कर जाने के लिए धन्यवाद कहा |मौर्य ने मायावती पर टिकटों की नीलामी का आरोप लगाते हुए दौलत की बेटी कहा तो मायावती ने भी प्रेस कांफ्रेंस करके कहा के मौर्य पूरे परिवार के लिए टिकट चाहते थे |
चुनावी मोड में आ चुके यूपी में बसपा के लिए यह बढ़ा झटका हो सकता है |पार्टी के वरिष्ठ लीडर स्वामी प्रसाद मौर्या ने पार्टी में टिकटों की नीलामी का आरोप लगाते हुए पार्टी छोड़ने का एलान किया| मौर्य ने पार्टी सुप्रीमो मायावती पर टिकटों की नीलामी का आरोप लगाते हुए कहा के पार्टी में उनका दम घुट रहा है |मौर्य एसेंबली में नेता प्रतिपक्ष हैं |मंत्रीमंडल में होने जा रहे ७ वे विस्तार के मद्देनजर अब मौर्य के सत्तारूढ़ सपा में जाने की सुगबुहाट शुरू हो गई है|प्रेस कांफ्रेंस में असंतुष्ट नेता ने कहा के आगामी चुनावों के लिए मायावती द्वारा खुले रूप से टिकटों की बिक्री नहीं वरन नीलामी की जा रही है जिसके फलस्वरूप उचित उम्मीदवारों का चयन नहीं हो पा रहा

उत्तर प्रदेश असेंबली में प्रश्नकाल हंगामे की भेंट चढ़ा

[लखनऊ,यूपी]उत्तर प्रदेश असेंबली में प्रश्न काल हंगामे की भेंट चढ़ा| व्यापारियों के विरुद्ध सत्ता पक्ष द्वारा कहे गए अपशब्दों के विरोध में भाजपा विधायकों ने जमकर हंगामा किया |भाजपा के सदस्य वरिष्ठ मंत्री की बर्खास्तगीकी मांग करते हुए वेल में आ गए| विरोधियों का आरोप था के वरिष्ठ मंत्री ने बीते दिन बजट सेशन के दौरान व्यापारी समुदाय के लिए अपशब्द कहे थे|भाजपा के नेता सुरेश कुमार खन्ना ने मामला उठाते हुए मंत्री की बर्खास्तगी की मांग कीजिसकी प्रतिक्रिया में पार्लियामेंट्री अफेयर्स मिनिस्टर आज़म खान ने प्रधान मंत्री के बिहार और दिल्ली में स्टेटमेंट का हवाला दिया|स्पीकर माता प्रसाद पाण्डेय ने मामले को देखने का आश्वासन दिया |इस पर भी हनगाम जारी रहा और सदन को दो बार स्थगित किया गया और क्वेश्चन ऑवर बर्बाद हो गया

उप्र में पिता[मुलायम]पुत्र[अखिलेश]की सरकारों में मंत्री रहे कैलाश यादव का निधन

[लखनउ,यूपी]उत्तर प्रदेश में पिता[मुलायम] पुत्र[अखिलेश] की सरकारों में मंत्री रहे कैलाश यादव का निधन
उत्तर प्रदेश के पंचायती राज मंत्री कैलाश यादव का गुडगांव में इलाज के दौरान दिमाग की नस फटने से आज निधन हो गया।
समाजवादी पार्टी के सूत्रों के अनुसार तीन बार के विधायक 65 वर्षीय यादव को मस्तिष्क घात [Brain Hemorrhage]हुआ था, जिसके बाद उन्हें रविवार को गुडगांव के अस्पताल में दाखिल कराया गया आज दोपहर वहीं उन्होंने अंतिम सांस ली।
मंत्री के निधन का समाचार मिलते ही उत्तर प्रदेश विधानसभा की कार्यवाही स्थगित कर दी गयी। अब अगली बैठक 11 फरवरी को होगी।
संसदीय कार्य मंत्री मोहम्मद आजम खां ने सदन को यादव के निधन की सूचना दी। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शोक संदेश पढा।
इस बीच सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव ने बयान जारी कर कैलाश यादव के निधन पर दुख प्रकट किया। उन्होंने इसे व्यक्तिगत क्षति बताया।
सपा मुखिया ने कहा कि कैलाश लोकप्रिय नेता थे, विशेषकर पूर्वी क्षेत्र में लोग उन्हें बहुत मानते थे। उन्होंने समाजवादी आंदोलन को गति प्रदान की थी।
कैलाश मुलायम सिंह यादव सरकार में भी मंत्री थे।

यूंपी असेंबली में कांग्रेस+बसपा+रालोद ने हंगामा किया तो भाजपा+सपा रहेशांत:गवर्नर भाषण बाधित

[लखनउ यूपी]यूंपी असेंबली में कांग्रेस+बसपा+रालोद ने हंगामा किया तो भाजपा+सपा रहे शांत:गवर्नर का भाषण हुआ बाधित|
जैसी की आशंका व्यक्त की जा रही थी विधानमण्डल के बजट सत्र की शुरुआत हंगामेदार हुई।सदन में सदस्यों के नारेबाजी की वजह से राज्यपाल अपना अभिभाषण पूरा नहीं कर पाये
राज्यपाल राम नाईक संयुक्त सदन में जैसे ही अपना अभिभाषण करने के लिये खड़े हुए,तो बसपा सदस्यों ने राज्यपाल वापस जाओ’ के नारे लगाते हुए वेल में प्रवेश किया ।बसपा को कांग्रेस +रालोद के सदस्यों का साथ मिला| ये सभी हाथों में प्रदेश सरकार विरोधी नारे लिखे बैनर लहराते रहे
आश्चर्यजनक रूप से कांग्रेस के सदस्य राहुल गांधी की तस्वीर छपी टोपी लगाये थे।
सत्र की इस हंगामाखेज शुरुआत के दौरान सत्तारूढ़ सपा के साथ-साथ भाजपा के सदस्य भी अपने-अपने स्थान पर बैठे रहे।
राज्यपाल ने लगभग 20 मिनट तक अपना अभिभाषण पढ़ा,लेकिन 109 पृष्ठ के अभिभाषण को वह पूरा नहीं कर सके। उन्होंने अपने अभिभाषण में सरकार की उपलब्धियों और कामकाज का जिक्र किया और भावी योजनाओं की रूपरेखा प्रस्तुत करने की परम्परा का निर्वाह किया