Ad

Tag: UPGOVT

कुख्यात अपराधी विकास दुबे पुलिस एनकाउंटर में ढेर

(कानपुर,यूपी) कुख्यात अपराधी विकास दुबे पुलिस एनकाउंटर में ढेर
कुख्यात अपराधी एवं कानपुर के बिकरू गांव में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के मामले का मुख्य आरोपी विकास दुबे शुक्रवार सुबह कानपुर के भौती इलाके में पुलिस मुठभेड़ मे मारा गया।
कानपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार के अनुसार‘‘ तेज बारिश हो रही थी । पुलिस ने गाड़ी तेज भगाने की कोशिश की जिससे वह डिवाइडर से टकराकर पलट गयी और उसमें बैठे पुलिसकर्मी घायल हो गये। उसी मौके का फायदा उठाकर दुबे ने पुलिस के एक जवान की पिस्तौल छीनकर भागने की कोशिश की और कुछ दूर भाग भी गया। ’’
‘‘ तभी पीछे से एस्कार्ट कर रहे एसटीएफ के जवानों ने उसे गिरफ्तार करने की कोशिश की और उसी दौरान उसने एसटीएफ पर गोली चला दी जिसके जवाब में जवानों ने भी गोली चलाई और वह घायल होकर गिर पड़ा। हमारे जवान उसे अस्पताल लेकर गये जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।’’
विकास दुबे को बृहस्पतिवार को मध्य प्रदेश के उज्जैन से गिरफतार किया गया था।

यूपी में कोविड 19 अस्पतालों में बेड की संख्या डेढ़ लाख ,टेस्टिंग 20000 प्रतिदिन होगी

(लखनऊ)यूपी में कोविड 19 अस्पतालों में बेड की संख्या डेढ़ लाख ,टेस्टिंग 20000 प्रतिदिन होगी
#यूपी में #कोविड 19 अस्पतालों में बेड की संख्या डेढ़ लाख होगी और #टेस्टिंग क्षमता प्रतिदिन 20000 की जाएगी
मुख्यमंत्री महंत #आदित्यनाथयोगी ने लोकभवन में उच्चस्तरीय बैठक में कोविड अस्पतालों की समीक्षा करते हुए कहा के कोविड अस्पतालों में वर्तमान बेड की संख्या को जून माह के आह्त तक दोगुना करके डेढ़ लाख की जाए और कोविड टेस्टिंग क्षमता को बढ़ा कर 20000 किया जाए
सीएम ने पब्लिकएड्रेससिस्टम के माध्यम से जनता को जागरूक करने के भी आदेश दिए

कूएँ की गैस से तीन सफाई कर्मियों की मौत,सीएम ने 2-2 लाख ₹ सहायता की घोषणा की

(आगरा,लखनऊ)कूएँ की गैस से तीन सफाई कर्मी मरे,सीएम ने 2-2 लाख ₹ सहायता की घोषणा की #सीएम महंत आदित्य नाथ योगी ने ताज नगरी #आगरा में कूएँ की जहरीली गैस से मरे सफाई कर्मियों के आश्रितों को ₹ 2-2 लाख आर्थिक सहायता की घोषणा की कूएँ की सफाई के दौरान जहरीली गैस रिसाव से तीन लोगों की मौत हो गई ।इन्हें दमकल कर्मियों द्वारा बाहर निकाला गया ।आक्रोशित परिजनों ने जाम लगा कर विरोध प्रगट किया
मुख्यमंत्री ने इस पर शोक व्यक्त किया और मृतकों के आश्रितों के लिए 2-2लाख ₹ की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की

२६०० करोड़ ₹ फंड्स घोटाले के ४५ हजार पीड़ितों ने आज भी कार्य का बहिष्कार किया

(लखनऊ,मेरठ,यूपी)फंड्स घोटाले के ४५ हजार पीड़ितों ने आज भी कार्य का बहिष्कार किया
उत्तर प्रदेश में बिजलीकर्मियों की भविष्य निधि का धन निजी संस्था में फंस जाने के विरोध में प्रदेश के 45 हजार विद्युतकर्मियों का 48 घंटे का कार्य बहिष्कार मंगलवार को दूसरे दिन भी जारी रहा।
विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति के पदाधिकारियों ने पुनः प्रदेश के मुख्यमंत्री से मांग की है कि वे प्रभावी हस्तक्षेप करें ताकि भविष्य निधि के भुगतान की जिम्मेदारी लेकर प्रदेश सरकार गजट अधिसूचना जारी करे। और बिजली कर्मचारी व अभियन्ता निश्चिन्त होकर अपने कार्य में पूर्ण मनोयोग से जुटे रह सकें।
समिति के संयोजक शैलेंद्र दुबे ने एक बयान में बताया कि 48 घण्टे के कार्य बहिष्कार के बाद संघर्ष समिति की कोर कमेटी की बैठक 20 नवम्बर को बुलायी गयी है। कार्यबहिष्कार के सफल ध्यानाकर्षण कार्यक्रम के बाद कल की बैठक में न्याय पाने हेतु संघर्ष के अगले कार्यक्रमों की घोषणा की जायेगी। संघर्ष समिति ने पीएफ घोटाले के विरोध में कनिष्ठ अभियंता संगठन द्वारा 20 नवम्बर से किये जाने वाले कार्य बहिष्कार कार्यक्रम का पुरजोर समर्थन किया।
संघर्ष समिति के दुबे ने एक बार फिर यह स्पष्ट किया कि वे 2,600 करोड़ रूपये की धनराशि के भुगतान की मांग नहीं कर रहे हैं अपितु उनकी मांग है कि इस धनराशि के भुगतान की गारण्टी सरकार ले और गारण्टी की अधिसूचना जारी करे। संघर्ष समिति ने यह भी मांग की है कि मुख्यमंत्री के दो नवम्बर की घोषणा के अनुपालन में भविष्य निधि घोटाले की सीबीआई जांच तत्काल प्रारम्भ हो ताकि शीघ्रातिशीघ्र घोटाले की जड़ तक पहुंचा जा सके। संघर्ष समिति की मांग है कि घोटाले के मुख्य आरोपी पावर कॉरपोरेशन के पूर्व चेयरमैन, जोकि ट्रस्ट के भी चेयरमैन थे को तत्काल बर्खास्त कर गिरफ्तार किया जाये।

योगी ने 25 आईपीएस अधिकारियों के तबादले किये :अयोध्या का कप्तान भी बदला

[लखनऊ]योगी ने 25 आईपीएस अधिकारियों के तबादले किये :अयोध्या के एसएसपी जोगेन्द्र कुमार को आगरा का एसएसपी बनाया गया है ।
लोकसभा चुनाव के बाद पुलिस महकमे में पहला बड़ा फेरबदल करते हुए उत्तर प्रदेश सरकार ने 25 आईपीएस अधिकारियों के तबादले कर दिये । इनमें अयोध्या, आगरा, मथुरा और रामपुर सहित कई जिलों के पुलिस कप्तान शामिल हैं ।
आगरा के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) अमित पाठक को मुरादाबाद का वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बनाकर भेजा गया है । वह जे रविन्द्र कुमार की जगह लेंगे, जिन्हें डीआईजी—एसआईटी बनाकर लखनऊ भेजा गया है ।
पुलिस अधीक्षक जौनपुर आशीष तिवारी अब अयोध्या के नये एसएसपी होंगे,
गोरखपुर पीएसी में तैनात शलभ माथुर अब मथुरा के एसएसपी होंगे ।
एलआईयू एसपी विपिन कुमार मिश्रा को जौनपुर का एसएसपी बनाया गया है ।
सोनभद्र पीएसी में तैनात रमेश को फतेहपुर का कप्तान बनाया गया है ।
पुलिस अधीक्षक :कार्मिक: प्रयागराज, अजयपाल को रामपुर का एसपी,
बलरामपुर एसपी अनुराग आर्य को मऊ का एसपी, जीआरपी,
प्रयागराज के एसपी हिमांशु कुमार अब सुल्तानपुर के नये एसपी होंगे । वह अनुराग वत्स का स्थान लेंगे, जिन्हें कानपुर देहात का एसपी बनाकर भेजा गया है ।
पीएसी मिर्जापुर में तैनात अवधेश कुमार पाण्डेय को मिर्जापुर का पुलिस अधीक्षक बनाया गया है ।
एलआईयू लखनऊ में एसपी श्रीपति मिश्र को देवरिया का एसपी नियुक्त किया गया है । साइबर क्राइम लखनऊ में एसपी सुनीति अब औरैया की एसपी होंगी ।
एसटीएफ का बेहतर पर्यवेक्षण सुनिश्चित करने के इरादे से चार जोन में तीन और पुलिस अधीक्षक तैनात किये गये हैं, जो एसटीएफ का नेतृत्व संभालेंगे ।
वाराणसी और मेरठ में एसपी एसटीएफ तैनात किये गये हैं जबकि लखनऊ के दो जोन में एक-एक एसएसपी एसटीएफ होंगे । चारों जोनल एसटीएफ प्रमुख सीधे आईजी एसटीएफ को रिपोर्ट करेंगे ।
सत्यार्थ अनिरुद्ध को लखनऊ में एसटीएफ का एसएसपी नियुक्त किया गया है । मिर्जापुर के एसपी रहे अमित कुमार को वाराणसी में एसटीएफ का एसपी नियुक्त किया गया है । झांसी पीएसी में तैनात कुलदीप नारायण अब मेरठ में एसटीएफ की कमान संभालेंगे

योगी ने यूपी के २१५ पीड़ितों को ३२९८७००० रु दिए

[लखनऊ,यूपी]योगी ने २१५ पीड़ितों को ३ करोड़ २९ लाख ७ हजार रु दिए
उत्तरा प्रदेश के मुख्य मंत्री योगी आदित्य नाथ ने मुख्य मंत्री विवेकाधीन कोष से २१५ लोगों को आर्थिक सहायता प्रदान की |सरकारी प्रवक्ता के अनुसार देवरिया+बहराइच+इटावा आदि के कैंसर+किडनी+हृदय+लिवर से पीड़ित २१५ लोगों को यह आर्थिक सहायता प्रदान की है|

योगी जी!आपके कोष से बरस रही आर्थिक सहायता लेकिन मेरठ में सूखा [व्यंग]

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

भाजपाई चेयर लीडर

औए झल्लेया! देखा ! हसाड़े योगी मुख्य मंत्री ने इस महीने भी विभिन्न रोगों से पीड़ित 75 लोगों को 95 लाख 32 हजार रु0 की आर्थिक सहायता प्रदान की है

झल्ला

योगी जी!आपके कोष से बरस रही आर्थिक सहायता लेकिन मेरठ में सूखा [व्यंग]
मेरे चतुर सेठ जी!बेशक आपजी के मुख्यमंत्री जी प्रत्येक माह ये सहायता बाँट रहे हैं लेकिन पश्चिमी यूपी विशेषकर मेरठ में तो सूखा ही नजर आ रहा है

मायावती ने कांग्रेस की एमपी और भाजपाई यूपी की सरकारों को बता डाला “आतंकी सरकार “

[लखनऊ,यूपी]मायावती ने कांग्रेसी कमलनाथ और भाजपाई योगी सरकार दोनों की ही कर दी आलोचना
सपा की नई नई वेलेंटाइन बनी बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष सुश्री मायावती ने मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार द्वारा गोहत्या के शक में अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों पर कथित ‘बर्बर’ कार्रवाई करने और उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में 14 छात्रों पर देशद्रोह का मुकदमा दर्ज किये जाने की निंदा की है।
मायावती ने ट्वीट किया ‘मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार ने पूर्ववर्ती भाजपा की तरह गोहत्या के संदेह में मुसलमानों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत बर्बर कार्रवाई की।’
दोनों सरकारी आतंक है और अति—निन्दनीय हैं। लोग फैसला करें कि दोनों सरकारों में क्या अंतर है?’
मालूम हो कि मध्य प्रदेश सरकार ने गोहत्या के संदेह के आधार पर अल्पसंख्यक समुदाय के कुछ लोगों के खिलाफ रासुका की कार्यवाही की है। वहीं, अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में कल 14 छात्रों पर देश विरोधी नारे लगाने के आरोप में देशद्रोह का मुकदमा दर्ज किया गया है।

सपा ने सडकों से लेकर विस और संसद[बजट सेशन]में तांडव मचाया उससे क्या लोक तंत्र बचा

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

समाजवादी चेयर लीडर

औए झल्लेया ये यूपी में क्या हो रहा है?
हसाड़े सोणे प्रदेश में दिनदहाड़े +खुलेआम लोक तंत्र का गला घौटा जा रहा है |हसाड़े संभ्रांत अध्यक्ष श्रीमान अखिलेश यादव जी को अपने ही प्रयागराज नहीं जाने दिया गया |औए अलाहाबाद विश्वविद्यालय के कार्यक्रम में ही नहीं जाने दिया गया| झल्लेया! लोक तंत्र खतरे में है

झल्ला

पहलवान जी !आपके अध्यक्ष जी को कानून व्यवस्था को बनाये रखने के लिए वर्तमान में अतिसंवेदनशील अलाहाबाद नहीं जाने दिया गया |प्रबंधन के आग्रह पर छात्र असंतोष में सुलगते विश्व विद्यालय में नहीं जाने दिया गया तो तो लोक तंत्र खतरे में आ गया |
लेकिन जरा सोचो के समाजवादियों ने सरेआम +खुलेआम+सुबह शाम सडकों से लेकर विधानसभा और संसद के दोनों सदनों में चल रहे बजट सेशन में तांडव मचाया | ड्यूटी बजा रहे पुलिस और पत्रकारों को पीटा |उससे क्या लोक तंत्र बचा ???

मुख्यमंत्री राहत कोष में पारदर्शिता के लिए लाभार्थियों का विवरण भी जरुरी है

[लखनऊ,यूपी]मुख्यमंत्री राहत कोष में पारदर्शिता के लिए लाभार्थियों का विवरण भी जरुरी है योगी आदित्यनाथ आज कल अपने [मुख्य मंत्री] कोष से प्रदेश के लोगों को इलाज करवाने के लिए सीधे धन वितरित कर रहे हैं | समाजकल्याण के लिए इतनी बढ़ी राशि का वितरण सराहनीय है लेकिन इसमें पारदर्शिता के लिए लाभार्थियों और अस्पतालों का विवरण भी अपलोड किया जाना जरुरी है|
सीएम आदित्यनाथ ने गंभीर बीमारियों से ग्रस्त ३३१ लोगों को इस माह के पहले सप्ताह के तीन दिनों में रु ४2236000 दिए |मुख्य मंत्री कोष से यह धन कैंसर+हृदय+किडनी+लिवर से संबंधित बीमारियों के लाज के लिए खर्च होगा|
तिथि लाभार्थी संख्या राशि वितरित
६ फरवरी ९३ लाभार्थी १४३३००००
५ फरवरी ९२ लाभार्थी १३५७६०००
४ फरवरी १४६ लाभार्थी २१०८३०००

महाराज गंज +बलरामपुर+ शामली+