Ad

Tag: Satire

सियासी गठजोड़ की भी अब एक्सपायरी डेट फिक्स होनी चाहिए

#पंजाबी
ओए झल्लेया ये क्या हो रहा है?
ओए कृषिबिलों को लेकर हसाडा पँजांब सुलगने लगा है और ऐसी संकट की घड़ी में शिरोमणि अकाली दल और भजपा एक साथ हसाडे जख्मो पर मल्हम लगाने के बजाय तीन तलाक बोल रहे हैं
#झल्ला
भापा जी! आप जी ठीक ही फरमाते हो । सियासी गठजोड़ की भी अब एक्सपायरी डेट फिक्स होनी चाहिए ताकि सनद रहे और वक्त पर काम आए

वाह! पँजांब सरकार वाह! फण्ड के लिए रौना और खुद ही पँजांब बन्द कराना

#टैक्स पेयर
ओए झल्लेया! ये क्या हो रहा है?
ओए ये पँजांब में #कांग्रेस सरकार की मति मारी गई है जो खुद ही #पँजांबबन्द करवा रही है।एक ही दिन के बन्द में करोड़ों ₹ का नुकसान हो गया।जनता हलकान हुई सो अलग
#झल्ला#टैक्स पेयर
#झल्ला। वाह! पँजांब सरकार वाह! फण्ड के लिए रौना और खुद ही पँजांब बन्द कराना
भापा जी! ये तो हसाडे पंजाबियों का ही जिगरा है के उनके खुद की चुनी हुई सरकार फण्ड की कमी का रौना रोती है और पंजाबी खुद ही आर्थिक बन्द में शामिल हो जाते है

कोरोना को कुंद करने को सत्ता का बिल पास कराने+विपक्ष का बहिष्कार का मोह त्याग जरूरी

#दुखीनागरिक
ओए झल्लेया! ये क्या हो रहा है?
ओए हसाडे मुल्क में आये दिन मंत्री से लेकर सन्तरी तक #कोरोना का ग्रास बनते जा रहे हैं ।ओए करोड़ी बनने जा रही इस महामारी का कोई तो इलाज होगा?
#झल्ला कोरोना को कुंद करने को सत्ता का बिल पास कराने+विपक्ष का बहिष्कार का मोह त्याग जरूरी
भापा जी! जिस दिन सत्ता पक्ष द्वारा केवल बिल पास कराने और विपक्ष को बहिष्कार से सुर्खियां बटौरने का मोह समाप्त हो जाएगा तभी कोरोना को भी कोई कोना नही मिलेगा

पंजाबी तो 1947 से ही पार्लियामेंटेरियन्स की लूटखसोट भुगतता आ रहा है

#निराशमतदाता
ओए झल्लेया! ये क्या हो रहा है?? ओए जिस संसद को आधुनिक भारत का पवित्र मन्दिर कहा जाता है उसी के पवित्र राज्यसभा में वरिष्ठों और श्रेष्ठों ने सभी मर्यादाएं तार तार कर दी।उपसभापति और पत्रकार हरिवंश जी के माइक तोड़ डाले।रूल बुक फाड़ डाली। और तो और मार्शल से भी उलझ गए। ऐसे में सरकार बिल पास करवा कर अपनी पीठ थपथपा रही है ।
#झल्ला
भापा जी ! पंजाबी तो 1947 से ही पार्लियामेंटेरियन्स की लूटखसोट भुगतता आ रहा है
माननीयों की ये असलियत देश अब देख रहा है जबकि पंजाबी विस्थापित समाज तो 1947 से ही इनकी लूट खसोट +मारकाट देखता आ रहा है

पीएमएनआरएफ जिस उद्देश्य के लिए बना था उसे भजपा भी भूली

#भाजपाई चेयर लीडर
ओए झल्लेया!इन कांग्रेसियों ने 1947 के रिफ्यूजियों के कल्याण के लिए #पीएमएनआरएफ फण्ड में पैसे बटोरे और उसे एक ही परिवार की संस्थाओं में खपाने का घोर अपराध किया ।अब हसाडे माननीय नरेंद्र भाई दामोदरदास मोदी जी ने इस कलंक से छुटकारा पाने के लिए पीएम केअर फण्ड बनाया तो पूरी संसद ही सर पर उठाने को उतावले हो गए ।और तो और अपने हुक्मरानों को खुश करने के लिए पूरे #हिमांचलप्रदेश को ही गालियाँ देने लग गए
#झल्ला
Polish_20200920_055745850ओ मेरे चतुर सेठ जी! पीएमएनआरएफ जिस उद्देश्य के लिए बना था उसे भजपा भी भूली
आप लोग संसद में भी ये तो स्वीकर कर रहे हो कि #पीएमएनआरएफ रिफ्यूजियों के लिए बनाया गया था लेकिन आज भी हजारों रिफ्यूजी परिवार अपने हक के #कंपनसेशनक्लेम के लिए दर दर भटक रहे हैं और यह फण्ड पड़ा पड़ा चौड़ा हो रहा है और आप लोग भी खामोश हैं

एमएसपी की दुहाई देने वाली सरकार प्याज पर अपने नवीनतम आदेश देख लेते

#भाजपाई चेयर लीडर
ओए झल्लेया! ये विपक्ष मति क्यूँ मारी गई है
अरे हसाडी सरकार #फसल की #एमएसपी समापत किये बगैर ही किसानों को उनकी फसल कही भी बेचने के अधिकार दे रही है और ये विपक्ष वाले किसानों को ख्वाहमखा भड़काने में जुटे है
#झल्ला

Onion Rising to Topple Govt? :Wholesale Market SkyRocketing

Onion Rising to Topple Govt? :Wholesale Market SkyRocketing

सेठ जी!
काश!एमएसपी की दुहाई देने वाली सरकार प्याज पर अपने नवीनतम आदेश देख लेती

कॉरोनानुसरों से पस्त पँजांब “कांग्रेस” और “आप” मे नूरा कुश्ती

#कोरोनापीड़ित पंजाबी
ओए झल्लेया! ये क्या हो रहा है?
#कॉरोनानुसरों से अस्पताल वाले धनाढ्य हो रहे हैं हम लोग एक लाख ₹ रौजाना देकर भी शव लाने को अभिशिप्त है। मोये #कोरोना प्रोटोकॉल के नाम पर अपने प्रियजनों को विदाई छोड़ो घर मे पंडित+काम वाली बाई भी आने को तैयार नही है ।इस महामारी में ये कांग्रेस और आम आदमी पार्टी कुछ सकारात्मक करने के बजाय आपस मे ही उलझ रहे हैं और हमारे जख्मो पर नमक छिड़क रहे हैं।खाक हो जाएंगे हम इनको खबर होने तक।
#झल्ला
भापा जी!आप जी का यह दर्द जायज है।दरअसल पंजाब और दिल्ली प्रदेश में हालात पर सरकारों का नियंत्रण नही दिख रहा। कैप्टेन साहिब आखरी सियासी पारी खेल रहे हैं।हर तरफ भयावह आपदा को सुनहरी अवसर में तब्दील करने की हौड़ है यूपी भी इस दौड़ में आगे है।
ऐसे में हमारा ध्यान भटकाने के लिए सीमा पर चीन और भारत की तरह मुल्क में भी नूराकुश्ती जरूरी है

कोरोना से पस्त मंत्री अब इसके नाम पर बार मे अवसर ढूंढने लगे

#पँजांबकाँग्रेसनेता
ओए झल्लेया!#कोरोना की मार से त्रस्त होटल+रेस्टॉरेंट+बार को ना केवल जनता के लिए पूर्णतया खोल देना चाहिए वरन इनकी सालाना लाइसेंस फी भी माफ कर देनी चाहिए।इससे हसाडे प्रदेश की इकॉनमी को बल मिलेगा
#झल्ला
ओ मेरे चतुर भा जी !कोरोना से पस्त मंत्री अब इसके नाम पर बार मे अवसर ढूंढने लगे
कोरोना तो आपसे रुक नही रहा।मृत्युदर बढ़ती जा रही है और आप इसमे घी डालने को उतावले हुए जा रहे है

रेलवे में डेढ़ लाख नॉकरियाँ:ढोंग या लालच ?

Cong's National Spokesperson Priyanka Resigns,May Become ShivSainik

Cong’s National Spokesperson Priyanka Resigns,May Become ShivSainik

#उत्तेजितकांग्रेसी चीयर लीडर
ओए झल्लेया! ये मोदी सरकार क्या कुफ्र कमा रही है?ओए छह सालों में नॉकरियाँ खत्म करते रहे,बेरोजगारी बढाते रहे अब चुनाव सर पर आन पड़े तो #रेलवे जैसे संस्थान में भी डेढ़ लाख #नॉकरियाँ देने का लालच दिया जा रहा है। ये ढोंग कब तक चलेगा?
#झल्ला
ओ मेरे चतुर सुजान !
मत हो यूं ही हलकान !!
ये भी हैं तुम्हारे ही जैसे
करके ना देंगे ये भी कोई काम
कहने का भाव है कि केंद्रीय वित्तमंत्री ने मितव्यता का ढोल पीटते हुए कोरोनावधि में नए पद सृजन और रिक्तियों पर भर्ती पर रोक लगाई है ।अब जेडे लाहौर भेड़े ओ पिशौर वी भेड़े

यू पी में आबकारी विभाग की जरूरत ही क्या है

#आक्रोशितकांग्रेसी
ओए झल्लेया! ये योगी और मोदी ने बेरोजगारों के साथ क्या मजाक बना रखा है।नॉकरियाँ तो दे नही रहे उल्टे अब यूपी में आबकारी विभाग के 2% पद समाप्त करने पर तुल गए
ओए ठेके खोलते जा रहे हैं ।गांजा चरस इधर से उधर हो रहा है और ये विभाग में पद ही खत्म किये दे रहे है
#झल्ला
चतुर सुजान जी! शराब के ठेके अपनों के।नशे के तिजारती अपने ।तो फिर इस विभाग की जरूरत ही क्या है? थोड़ी बहुत छूट पर ही आप लोग नाक मुंह सिकोड़ने लग गए