Ad

Tag: BJP

पीएम की डिनर डिप्लोमेसी मिशन २०१९ के लिए अच्छी शुरुआत

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

भाजपाई चेयर लीडर

औए झल्लेया ! हसाड़े धाकड़ प्रधान मंत्री नरेंद्र भाई दामोदर दास मोदी जी ने मिशन २०१९ के तहत पार्टी के नेताओं के कसबल कसने शुरू कर दिए |उन्होंने आरएसएस और भाजपा के नेताओं को एक साथ आज डिनर पर बुलाया है

झल्ला

पीएम की डिनर डिप्लोमेसी मिशन २०१९ के लिए अच्छी शुरुआत कही जा सकती है|
आपके पीएम साहिब इफ्तार की दावत तो देने से रहे |अब चूँकि मिशन २०१९ शुरू हो चूका है ,सो भगवा ब्रिगेडों को एक जुट करने के लिए डिनर से अच्छी शुरुआत हो सकती है |

Ailing Vajpayee Admitted to AIIMS for Routine Check-up

[New Delhi] Ailing Vajpayee Admitted to AIIMS for Routine Check-up
Former prime minister Atal Bihari Vajpayee, who has been ailing for long, was today admitted to AIIMS for routine check-up
The 93-year-old leader will be under the supervision of AIIMS Director Randeep Guleria
The BJP stalwart ruled India as prime minister between 1998-2004. As his health deteriorated, he slowly withdrew from public life and has been confined to his residence for many years.
File Photo

प्रणब ने आरएसएस में हाजरी दी,शर्मिष्ठा ने विरोध ट्वीट कर दिया

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

कांग्रेसी चीयर लीडर

औए झल्लेया देखा कांग्रेसी आखिर कार कांग्रेसी ही होता है | प्रणब मुख़र्जी की बेटी शर्मिष्ठा मुखर्जी ने भी अपने पिता की आरएसएस की सभा में उपस्थिति को लेकर फैलाये जा रहे भरम पर आरएसएस और भाजपा को करारा जवाब दे दिया है |औए हमें तो पहले ही शक था के ये भगवा वाले पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुख़र्जी को लेकर कोई गेम खेलेंगे और इन्होने सोशल मीडिया पर प्रणब को गणवेश में दिखा कर उसे सही साबित भी कर दिया

झल्ला

ओ मेरे चतुर सुजान ! प्रणब मुख़र्जी ने आरएसएस की सभा में हाजरी दे दी | शर्मिष्ठा ने उसका
विरोध कर दिया |बोले तो “रिन्द के रिन्द रहे और जन्नत भी हाथ से ना गई” लेकिन आपलोगों के हाथों से आरएसएस को लेकर मोदी सरकार पर अटैक करने का मुद्दा निकल गया |
फाइल फोटो
प्रणब मुख़र्जी डॉ मनमोहन सिंह कोहली के साथ

कैराना में नलका चल गया, नूरपुर में साईकिल :कमल मुरझाया

[लखनऊ,यूपी]कैराना में नलका चल गया और नूरपुर में साईकिल :कमल मुरझाया
नवगठित विपक्ष ने आज प्रतिष्ठित कैराना लोकसभा सीट और नूरपुर विधानसभा सीट भाजपा से छीन ली । उत्तर प्रदेश में भाजपा के लिए यह एक भारी झटका है ।
दोनों ही सीटों के लिए संयुक्त विपक्ष की रणनीति ने काम किया । विपक्ष ने ध्यान स्थानीय मुद्दों पर ही केन्द्रित रखा, जिसका लाभ उसे मिला ।
सत्ताधारी भाजपा ने गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीटें हारने के बाद कैराना में पूरी ताकत झोंक दी थी । खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भाजपा प्रत्याशियों के चुनाव प्रचार की कमान संभाल रहे थे जबकि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कैराना के निकट ही रोड शो किया, जिसके बाद रालोद ने चुनाव आयोग से शिकायत की|
विपक्ष ने भी सुनियोजित रणनीति के तहत गन्ना बकाया और किसानों के संकट जैसे स्थानीय मुददों पर प्रचार केन्द्रित रखा ।
संयुक्त विपक्ष की कैराना सीट पर प्रत्याशी रालोद की तबस्सुम हसन ने भारी अंतर् से भाजपा को हराया|
हाल ही में विपक्ष ने गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीटों पर कब्जा किया था । इन सीटों पर क्रमश: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य काबिज थे लेकिन उपचुनाव में दोनों सीटें सपा के खाते में गयीं ।
भाजपा ने हालांकि कैराना और नूरपुर में पूरी ताकत झोंक दी थी विशेषकर कैराना में उसने बहुत मेहनत की थी ।
कैराना से भाजपा प्रत्याशी मृगांका सिंह ने भावुक होते हुए कहा कि केन्द्र और राज्य सरकारों ने काफी काम किये हैं लेकिन लगता है कि हम ये संदेश जनता तक नहीं पहुंचा पाये ।

BJPian Ganeshi Lal Sworn in as Odisha’s Governor

[Bhubaneswar]BJPian Ganeshi Lal Sworn in as Odisha’s Governor
Orissa High Court Chief Justice, Vineet Saran administered the oath of the office to Lal.
Odisha Chief Minister Naveen Patnaik, many state ministers and senior government officers were present during the oath taking ceremony.
Lal visited the Lord Jagannath Temple at Puri and offered prayers before taking the oath of governor.
Lal is a former Haryana BJP president and also former Haryana minister.
Bihar Governor Satya Pal Malik was given the additional charge of Odisha after completion of the five-year tenure of SC Jamir on March 21.
President Ram Nath Kovind had appointed Lal as the new governor of Odisha on May 25

Karnataka Assembly :Swami Wins Confidence BJP Walkout

[Bengaluru] Karnataka Assembly :Swami Wins Confidence BJP Walkout
The three-day old Kumaraswamy government in Karnataka today won the vote of confidence in the Legislative Assembly amid a walkout by the BJP MLAs.
The motion expressing confidence in the Kumaraswamy government was adopted by voice vote in the presence of JD (S)-Congress coalition MLAs and other lawmakers supporting the government.
The BJP members staged a walkout before the trust vote was taken.
Leader of the Opposition B S Yeddyurappa made a blistering attack on Kumaraswamy, describing the ruling coalition as “unholy”.
In his speech, Kumaraswamy said his government would carry all sections together, and would take into consideration suggestions made by the Opposition.
Kumaraswamy moved the one-line motion soon after the unanimous election of Ramesh Kumar as the speaker of the assembly.
With the numbers game in favour of the coalition, the 58-year old, who took oath as chief minister on Wednesday, looks set to win the trial of strength.
The Congress has 78 MLAs,
Kumaraswamy’s JD(S) 36, and
BSP 1.
The alliance has also claimed support of the lone KPJP MLA and an independent.
Kumaraswamy had won two seats.
BJP strongman B S Yeddyurappa had stepped down on May 19, two days after he assumed office as the chief minister, without going through the motions of a floor test.
The 224-member Assembly has an effective strength of 221. The election for Jayanagar seat was countermanded following the death of the BJP candidate, and deferred in RR Nagar over allegations of electoral malpractice.

कर्नाटक में तो सीएम से डिप्टी सीएम बढ़ा होता है जी [Satire]

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

कांग्रेसी चेयर लीडर

औए झल्लेया मुबारकां!औए हसाड़े राहुल गाँधी जी ने कर्नाटक में भाजपा को बाहर का रास्ता दिखा ही दिया और डिप्टी सी एम का पद भी हासिल कर लिया |हसाड़े रणनीतिकारों की क़ाबलियत मानता है के नहीं

झल्ला

वाकई चतुर सुजान जी ,आपजी ने 78 विधायक ला लेकर कर्नाटक में कमल को बाहर करके कमाल कर दिया |आपजी ने ३८ विधायकों वाली जेडीएस को सी एम पद देकर सोने पे सुहागा कर दिखाया |१०४ सीटों वाली भाजपा को पछाड़ कर आप डिप्टी सीएम का पद ले रहे हैं शायद आपलोगों ने सोचा होगा के सीएम में केवल १३ लेटर हैं जबकि डिप्टी सी एम में तो पुरे १९ लेटर हैं |जाहिर हैं १३ से १९ बढ़ा ही होता है

कांग्रेस को खरीदने वाले कुमारास्वामी ने भाजपा पर खरीदफरोख्त का ठीकरा फोड़ा

[बेंगलुरू] कांग्रेस को खरीदने वाले कुमारास्वामी दूसरों पर खरीदफरोख्त का ठीकरा फोड़ने में लग गए हैं
वइसे रब्ब झूट ना बुलवाये कुमारास्वामी के पिताश्री एच डी देवेगौड़ा भी कभी इसी रास्ते कुछ दिनों के पीएम बने थे ये और बात है
कांग्रेसी सीताराम केसरी [ OldMan ]ने उनके नीचे से कुर्सी खींच ली थी |
देवेगौड़ा के ३८ विधायकों वाले पुत्र एच डी कुमारास्वामी अब कर्नाटका में सी एम् पद की दौड़ में हैं| चुनावों में बहुमत खो चुकी कांग्रेस ने अब इन्ह्ने सी एम् बनाने का ऑफर दे दिया है|कांग्रेस के ७८ विधायक हैं
कुमारवामी ने अब १०४ विधायकों वाली भाजपा पर विधायकों की ‘खरीद-फरोख्त’ का आरोप लगाया है|
जद ( एस ) नेता एचडी कुमारस्वामी ने आज भारतीय जनता पार्टी ( भाजपा ) पर आरोप लगाया कि संख्या बल में कम होने के बावजूद उसे कर्नाटक में सरकार बनाने की ‘‘ जल्दी ’’ है और इसके लिए वह उनकी पार्टी के विधायकों को पैसे का लालच दे रही है और उनकी ‘ खरीद फरोख्त ’ करने की कोशिश कर रही है। यही डायलॉग तब इनके पिता देवेगौड़ा ने भी सीता राम केसरी पर भी लगाया था |उन्होंने संसद में विदेशी अखबार दिखते हुए कहा था के “ओल्ड मेंन इज इन हर्री ”
जद ( एस ) विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद यहां संवाददाताओं से बातचीत में उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा उनकी पार्टी के विधायकों को पैसे का लालच दे रही है।
कुमारस्वामी ने आरोप लगाया कि केंद्र में सत्ता रूढ़ भाजपा अपनी ताकत का गलत इस्तेमाल करने की कोशिश कर रही है।
उन्होंने कहा कि कांग्रेस – जद ( एस ) गठबंधन के पास 116 विधायकों के समर्थन के साथ ‘ स्पष्ट बहुमत ’ है।
उन्होंने पूछा , ‘‘ विधायकों की संख्या कम होने पर वह ( भाजपा ) सरकार कैसे बना सकती है ?’’
कुमारस्वामी ने कहा कि वह सत्ता के लिए उतावले नहीं हैं।
विधानसभा चुनाव में खंडित जनादेश मिला है। ऐसे में जद ( एस ) और कांग्रेस साथ आ गए हैं। उन्होंने राज्यपाल वजूभाई वाला से इस गठबंधन को सरकार बनाने की इजाजत देने का अनुरोध किया है।प्राप्त जानकारीके अनुसार कांग्रेस अपने विधायकों को सेफ प्लेस में ले जाने की योजना बना रही है|

Dethroned Siddaramaiah Resigns

[Bengaluru]Dethroned Siddaramaiah Resigns
Karnataka Chief Minister Siddaramaiah today resigned from his post after the Congress was voted out of power in the Assembly elections.
He met Governor Vajubhai Vala and handed over his resignation
The chief minister went to Raj Bhavan after announcing the Congress’ support to the JDS to form the government as the state headed for a hung assembly.
Siddaramaiah, who contested from two constituencies, won Badami, but lost Chamudeshwari in Mysuru

कांग्रेस के कर्नाटक में भी भाजपाई भगवा फहराया

[बेंगलुरू]कांग्रेस के कर्नाटक में भी भाजपाई भगवा फहराया
यह कांग्रेस की अपने इस दक्षिणी राज्य में भी अपमान जनक हार और भाजपा के लिए उत्साहवर्धक जीत है
कर्नाटक में सुबह 11 बजे तक की दलीय स्थिति इस प्रकार है:
दल आगे
भाजपा 112
कांग्रेस 57
जद(एस) + बसपा 39
अन्य 02