Ad

Tag: Aaj Ka Satire

टीएमसी ने पर्चा फाड़ने के लिए क्या नोटिस दिया था???व्यंग

23/7/2021

झल्ली गल्लां

टीएमसी ने पर्चा फाड़ने के लिए क्या नोटिस दिया था???व्यंग

टीएमसी का छुटभैय्या ;

ओये झल्लेया! देख संसद में  लोकतंत्र का कैसा मजाक उड़ाया जा रहा है। ओये बिना  सदन की कार्यसूची में शामिल किए बगैर हमारे  माननीय सांसद शांतनु सेन जी को निलंबित कर दिया।ओये हमने भी कच्ची गोलियां नही खेली हैं।अगर हमारे सेन दादा को तुरन्त बहाल नही किया गया तो हमने संसद के दोनों सदनो की कार्यवाही ठप्प कर  देनी है 

झल्ला

दादा! बात तो आप खूब भालो बोला।आपको तो  बीच दरिया से मछियां पकडने का हुनर भी मालूम है लेकिन इक गल दस्सो?

जासूसी मामले को भुनाने के चक्कर मे सेन दादा ने वरिष्ठ सदन(राज्यसभा )में जो मंत्री के हाथों से छीन कर वक्तव्य के पुर्जे पुर्जे करके चेयर की तरफ उछाल कर सीना चौड़ा किया,क्या यह टीएमसी के नोटिस में शामिल था?

——/——-/——/——/—–/

मोदीभापे जी !पेट्रोपदार्थों को बख्शो फ़ास्टफ़ूड की तरफ कहर बरपाओ

झल्ले दी  गल्लां

गुजराती निर्यातक

ओए झल्लेया! ये अंग्रेजों की मति मारी गई है क्या?देख तो ब्रिटिश पीएम बोरिस जॉनसन  इंग्लैंड में मीठे और नमकीन पर 300 ₹ से लेकर 600 ₹ तक शुगर टैक्स लगाने की सोच  रहे हैं।इससे बेशक इनका खज़ाना भर जाएगा लेकिन स्नैक्स टैक्स के ये  हजारों करोड़ रुपये तो उपभोक्ता से ही वसूले जाएंगे कि नही।इससे हमारा उत्पाद भी महंगा हो जाएगा और व्यवसायिक प्रतिस्पर्धा में हम पिछड़ जाएंगे।।

झल्ला

सेठ जी ! हसाडे पीएम माननीय नरेंद्र मोदी जी को भी अपने समकक्ष अंग्रेज मित्र से सबक लेकर पेट्रोपदार्थों को बख्श देना चाहिए और भारतीयों के खान पान को सुधारने के लिए फ़ास्टफ़ूड की तरफ कहर की दृष्टि  मौड़नी चाहिए।इससे विपक्ष का दबाब कम होगा और स्वास्थ्य सेवाओं पर खर्च सही दिशा में होगा

कोरोना पीड़ित के हिस्से में भी मुआवजा नही,जुमले और सिर्फ जुमले

झल्लीगल्लां
उत्तेजितसमाजसेवी
ओए झल्लेया!ये क्या हो रहा है?ओए मुल्क में सरकारें कोरोना महामारी में भी पीड़ितों के प्रति अपनी जिम्मेदारियों से भागने में ही लगी है। कोरोना संक्रमितों और उनकी मृत्यु के आंकड़े निरन्तर बढ़ते जा रहे है।अनेकों परिवारों में कमाने वाला कोई नही रहा।इलाज में व्यवसाय ठप्प हो गए।बच्चे अनाथ हो गए और केंद्र की सरकार कहती है कि पीड़ितों को मुआवजा नही देंगे। इस रवैये से दुखी होकर माननीय सुप्रीमकोर्ट ने कहा दिया है कि मुआवजा तो देना ही पड़ेगा।
झल्ला
झल्लाभापा जी!सरकारें तो स्मारकों पर अपने नाम के शिलापट लगाने को लालायित रहती आई है।इसीलिए बजट का बड़ा हिस्सा ऐसे ही कार्यों में जाता है और आम आदमी के हिस्से में आते हैं जुमले और सिर्फ जुमले ।अब देखो 1947 के रिफ्यूजी आज भी अपने हक का कंपनसेशन/रिहैबिलिटेशन क्लेम लेने को दर दर भटक रहे हैं

कोटकपूरा की पोलिस फायरिंग में बादल को घेरने में असमर्थ रहे पूर्व आईजी ने आप जॉइन की

झल्लीगल्लां
आपपार्टीचेयरलीडर
cartoon cheeyar leader aap partyओए झल्लेया! वोह मारा पापड़ वाले को।ओए पंजाब पुलिस के टॉप कॉप रहे कुंवर विजय प्रताप ने हसाडी पार्टी जॉइन कर ली है।ओए कुंवर साहब को पार्टी जॉइन करवाने के लिए हसाडे अरविंद केजरीवाल साहब दिल्ली से स्पेशली अमृतसर आये थे।अब तो 2022 के चुनांवों में हमे सत्ता मिले ही मिले
झल्ला
झल्लाओए चतुर सुजाणा!
इन कुंवर साहिब ने 2015 के कोटकपूरा और बेहबल कलां की पोलिस फायरिंग में तत्कालीन व्योवर्द्ध मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल को घेरने के लिए एसआई टी में एड़ीचोटी का जोर लगा लिया था।और जब उनके मनसूबे पूरे नही हुए तो रिटायरमेंट ले कर राजनीतिक चोला पहनने की जुगत लडानी शुरू कर दी।
अब बादलों को बैठे बिठाए आप और कांग्रेस पर गरजने और बरसने का मौका जरूर मिल गया।

.

1947 से शुरू हुए अवैद्ध कब्जे रोके जाते तो शायद अरावली कांड नही होता

झल्लीगल्लां
पर्यावरणविद
अरावली में अवैद्ध निर्माणओए झल्लेया! ये क्या हो रहा है?ओए ये अतिक्रमणकारियों ने मुल्क के पर्यावरण को पलीता लगाने की ठान ली है।हुकूमतें भी इन्हें रोकने में कोई रुचि नही दिखा रही।अब देख राजधानी से सटे फरीदाबाद के अरावली के जंगलों को काट करके अवैद्ध निर्माणों को समय रहते रोका नही गया जिसके फलस्वरूप अब 10000 अवैद्ध घर बस चुके हैं।सुप्रीम कोर्ट के आदेशों के पालन में भी फरीदाबाद निगम +हरियाणा सरकार का ढीला ढाला रवैय्या दिख रहा है।अवैद्ध खनन से त्रस्त इस वन छेत्र में अवैद्ध घरों के निर्माण में बैंक भी कर्ज देने में उदारता का परिचय देते रहते है।ओए ऐसे में कैसे मिलेगी हमे ऑक्सीजन +बचेगा हसाडा पर्यावरण और ओज़ोन लेयर ???
झल्ला
झल्लाभापा जी!ये अवैद्ध कब्जे तो 1947 से ही शुरू हो गए थे।जो बेचारे मुस्लिम भाई पाकिस्तान गए उनकी प्रॉपर्टी पर नाजायज कब्जे हुए फिर जो अभागे पाकिस्तान से हिन्दू आये उनके नाम पर लूट मचाई गई।इस अवैद्ध कब्जे के व्यवसाय को समाप्त करने के लिए 1947 से शुरुआत हो तो शायद यह काला गोरखधंदा बन्द हो सकेगा

पँजांब और पंजाबियत हमेशा बाहरी लोगों के इशारे पर ही क्यूँ जीतती हैं ?

झल्लीगल्लां
Jhalla Cartoonपंजाबकांग्रेसकाचेयरलीडर
ओए झल्लेया! मुबारकां!!ओए हसाडी सोणी कांग्रेस का अंदरूनी मसलाए हल होगया।सिद्धू और कैप्टेन का रगड़ा खत्म हुआ ही समझो। ओए हाईकमांड ने मल्लिकार्जुन खड़गे+हरीश रावत+जे पी अग्रवाल जैसे महारथियों से विवाद सुलझा लिया।ओए अब जीतेगा पंजाब +जीतेगी पंजाबियत और जीतेगा सच
झल्ला

भा जी! इस कमेटी में सभी बाहरी सदस्य हैं।ये सच ,पँजांब और पंजाबियत बाहरी लोगों के इशारे पर ही क्यूँ जीतती हैं

टीएमसी सरकार ने बंगाल में मादा क्रोकोडाइल को बचाया,चलो अब आंसूओं का ज्ञान मि जाएगा

झल्लीगल्लां
तृणमूल कांग्रेस का चेयरलीडर
TMC Cartoonओये झल्लेया!हमने कड़ी मेहनत से सुंदरबन से एक जिंदा मादा क्रोकोडाइल को बचा लिया ।पौनेदसफीटा यह जीव तूफान याश में बह कर भटक गया था
झल्ला
आपकी सीएम सुश्री ममता बनर्जी ने पीएम नरेंद्र मोदी की मीटिंग से अनुपस्थित रहने पर जो आंसू बहाये थे अब उन आंसूओं और इस बेजान के आंसुओं मेंअंतर खोजने केवलिये रिसर्च हो पाएगी।।हमे भी कुछ ज्ञान मिल पायेगा।

पँजांब में वर्दियों की कमीशन देने वाले वापिसी को दबाब तो नही बना रहे

झल्लीगल्लां
पंजाबीसरकारकाचेयरलीडर
ओए झल्लेया!देखा हसाडी पँजांब सरकार छात्रों की कितनी हमदर्द है।कोरोनासंकट में स्कूली छात्रों के भले के लिए गर्मियों की छुट्टी कर दी गई है और साढ़े तेरह लाख छात्रों को वर्दियां उनके घर पर पहुँचाने की घोषणा कर दी गई है।और तो और अंग्रेजी सुधारने के लिए ऑनलाइन प्रतियोगिता भी शुरू हो रही है
झल्ला
हवा में सरसराहट है कि वर्दियों की कमीशन देने वाले अपनी कमीशन वापिस लेने को दबाब बना रहे है।

ममता के मंत्रियों पर शिवसेना बिफरी,नारदा फ्रॉड की अदृश्य तार महाराष्ट्र में तो नही ?

झल्लीगल्लां
Shiv Sena Supports TMCशिवसैनिकचेयरलीडर
ओए झल्लेया! ये क्या झाला है?पश्चिम बंगाल में हमारी शेरनी ममता दीदी को गवर्नर जगदीप धनकड़ ख्वामखाह तंग करके अस्थिरता पैदा करने के प्रयास कर रहे है ।ओए हमारी पार्टी के अखबार सामना में भी लिख दिया गया है कि ममता दीदी की तृणमूल के चार नेताओं की सीबीआई द्वारा गिरफ्तारी से राजनीतिक बदले की बू आती है।इसीलिए लोक तन्त्र की रक्षा के लिए गवर्नर को तुरन्त हटाया जाना चाहिए
ओए 2014 के नारद स्टिंग ऑपरेशन में वे रिश्वत लेते कैमरे पर नजर आए थे। बाकी के दो आरोपी मुकुल रॉय और शुभेंदु अधिकारी जो अब भाजपा के साथ हैं उनके खिलाफ कोई कार्रवाई क्यों नहीं की गई। भाजपा के साथ आने से और ममता बनर्जी के खिलाफ चुनाव लड़ने से क्या वे बेदाग हो गए?
झल्ला
झल्लाभले मानुष !बंगाल के भ्र्ष्टाचार पर आपका मुम्बई में बौखलाना कुछ समझ से परे है।कही नारदा फ्रॉड की अदृश्य तार महाराष्ट्र में तो नही दिख रही

काश! सीएम योगी को तूफानी दौरे में दिव्यदृष्टि से कोरोनालूट दिख जाए

झल्लीगल्लां
भजपाईचेयरलीडर

कोरोनाकाल मेसीएम योगी का दौरा

कोरोनाकाल मेसीएम योगी का दौरा

ओए झल्लेया! ऐवें लोगी हसाडी सरकार के नाम पर नाक मुंह सिकोड़ते रहते हैं।देख मेरठ में कोरोना मरीजों की भलाई के लिए पहले माननीय स्वास्थ मंत्री सुरेश कुमार खन्ना जी आये फिर मेरठ के प्रभारी मंत्री जी आए और अब स्वयम मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी आ रहे हैं।थोड़ा सब्र रखो सब ठीक हो जाणा है
झल्ला
झल्लाचतुर सेठ जी! काश आपके योगी जी की दिव्यदृष्टि प्राइवेट अस्पतालों में जम कर लूट के बावजूद हो रही मौतों के कारण और सरकारी अस्पतालों के बाहर एड़िया रगड़ते मरीज और शवों को कांधों पर ढोते परिजन और कालाबजारी दिख जाए तो शायद कुछ सुधार हो जाये।