Ad

Category: Religion

राम ही सत्य है इसी को नित जपिए.

मिथ्या है वाद विवाद विरोध , मिथ्या है वैर निंदा हठ क्रोध
मिथ्या द्रोह दुर्गुण दुःख खान, राम नाम जप सत्य निधान

व्याख्या : अन्य प्राणियों से वैर रखना, पर निंदा तथा क्रोध ये दुर्गुण हैं इनसे हमारे जीवन में दुःख आते हैं ,
केवल राम का नाम ही सत्य है इसी नाम को जपिए.
स्वामी सत्यानन्द जी महाराज द्वारा रचित अमृतवाणी का एक अंश
प्रेषक: श्री राम शरणम् आश्रम, गुरुकुल डोरली, मेरठ

शिव तुम सत्य हो इसीलिए सुन्दर भी हो|

हे शिव तुम सत्य हो इसीलिए सुन्दर भी हो
मेरे मन मंदिर की तुम पवित्र मूरत भी हो ||
आपकी गंगा या चन्द्रमा की इच्छा नहीं |
गाड पार्टिकल में अभी जागा विशवास नहीं||
हे शिव …..
गंगा तुम्हारी मैली हो रही नहीं कोई हवाल |
गंगा की शक्ति निकालने को बन रहे हैं बाँध||
चाँद तुम्हारा कब्जा कर अमेरिका हुआ निहाल|
मेरे मुल्क का मगर देखो हो रहा है बुरा हाल||
हे शिव……….
क्यूंकि तुम सत्य और सुन्दर भी हो इसीलिए शिव|
तुम्हारे चरणों में मात्र एक तुच्छ निवेदन है||
मुल्क में शान्ति और सुख का साम्राज्य हो |
इसीलिए साल में जलाभिषेक करते दो दो बार||
बुढापे में अब इससे ज्यादा की नहीं रही आस ||
हे शिव………..

शिव भक्तों की सेवा करके धर्म लाभ कमाते शिव भक्त

गंगाजल धारण करने वाले शिव भक्तों की सेवा करके धर्म लाभ कमाने वालों की भी कमी नहीं है |रूडकी रोड पर शिव भक्तों को प्रसाद वितरित करते शिव भक्त

सावन के दूसरे सोमवार को शिवालयों बड़ी संख्या में हुआ जलाभिषेक

सावन के दूसरे सोमवार को [आज] शिवालयों में बड़ी संख्या में शिव भक्तों ने शिव लिंग पर जल चड़ाया
जो लोग गंगाजल लेने नहीं जा सके वह और उनके पारिवार के सदस्यों ने अपने मोहल्ले +गली+कालोनिओं में स्थित शिवालयों में जल चड़ाया|
यूं तो इन शिवालयों में रोजाना ही जल चड़ाया जाता है मगर सोमवार और फिर सावन के सोमवार को
आम दिनों से कई गुना अधिक श्राधालुओं ने शिव दरबार में हाजरी भरी
कल शिवरात्रि है लाखों की तादाद में श्रद्धालू हरिद्वार|ऋषिकेश+गौमुख आदि से गंगाजल लेकर अपने
गृह छेत्रो को लौटने लगे हैं और कल शिव का जलाभिषेक किया जाएगा

अमरनाथ यात्रा में बड़ती मौतों पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई फटकार

बर्फानी बाबा अमर नाथ की कठिन यात्रा के प्रति सरकारों की उदासीनता को सुप्रीम कोर्ट ने संज्ञान में लेते हुए यात्रिओं को हर स्तर पर सुरक्षा मुहैय्या करवाने को कहा |
गौरतलब है की अमरनाथ यात्रिओं के लिए मेडिकल चेक अप और तमाम तरह की सुविधाएं मुहैय्या करवाने के निर्देशों के बावजूद भी यात्रा के दौरान मरने वालों की संख्या कम नहीं हो रही बीते वर्ष में हुई १०० मौतों से यह आंकड़ा पार कर चुका है |
हार्ट अटैक से मरने वालों की संख्या ७० तक पहुँच चुकी है|यातायात की समस्या के कारण हो रही दुर्घटनाओं में भी मरने वालों की संख्या में वृधि हो रही है|
सुप्रीम कोर्ट ने इसके लिए केंद्र+प्रदेश सरकारों को फटकार लगाई है और एक सप्ताह में रिपोर्ट प्रस्तुत करने के आदेश दिए हैं|इसके अलावा केन्द्रीय गृह+पर्यावरण एवं वन मंत्रालय+राज्य सरकार के सचिवों के साथ श्री अमर नाथ श्राईन बोर्ड के अध्यक्ष को भे अदालत में पेश होने को कहा गया है|

अमृत वाणी

जिस में राम नाम शुभ जागे, उस के पाप ताप सब भागें
मन से राम नाम जो उच्चारे, उस के भागें भ्रम भय सारे
व्याख्या: जिस प्राणी में राम नाम की ज्योति जग जाती है उसके सब कष्ट दूर हो जाते हैं तथा मन से राम नाम जपने से उसके सभी भ्रम एवं डर समाप्त हो जाते हैं.
स्वामी सत्यानन्द जी महाराज द्वारा रचित अमृतवाणी का एक अंश
प्रेषक: श्री राम शरणम् आश्रम, गुरुकुल डोरली, मेरठ

शिव भक्त बोले बम भोले

शिव रात्री में अपने शिव को प्रसन्न करने के लिए निकले शिव भक्त [ भोले ] अब अपने गंतव्य की और हरिद्वार से गंगा जल लेकर लौटने लगे हैं|इसीलिए सडकों पर अलग रंग +अलग स्टायल मगर भक्ति भाव एक ही दिखाई दे रहा है प्रस्तुत हैं कुछ फोटोस

कांवरियों का तांता शुरू

सावन माह की शिवरात्री के लिए गंगा जल लाने वालों के रिले शुरू हो गए है|राष्ट्रीय राजमार्ग[एन एच ५८] व्यस्तम मार्गों में है आईएस मार्ग के ट्रेफिक को बदल दिया गया है निजी वाहनों के अलावा पब्लिक सर्विस बस और ट्रेनों पर भी कावनिए दिखाई देने लग गए है| कावानिओं की सेवा के लिए श्र्धालूजन शिविर लगा रहे है \दवा और भोजन निशुल्क उपलब्ध कराया जा रहा है मेरठ

kanwariyaas are Crowding At City Railway Station Meerut

के स्कूलों की एक सप्ताह की छुट्टी घोषित हो चुकी है इसीलिए दिल्ली -देहरादून मार्ग के आम यात्री परेशानिओं से बचने के लिए ट्रेफिक बदलाव की जानकारे ले कर ही गंत्व्यस्थ्ल के लिए निकलें|