Ad

Tag: India New Satire

कोरोना के भमबड़भूसे से त्रस्त सियासतदां मुल्क को लॉक डाउन की गदिघेड़ में डाल रहे

झल्लीगल्लां
चिन्तितनागरिक
Corona Lock Downओए झल्लेया! ये क्या हो रहा है? सियासतदां तो हसाडे सोण मुल्क को किस गदिगेड़ में डाले जा रहे हैं??
पहले कहते तो कि लॉकडाउन नही लगेगा ,और अब दिल्ली,उत्तरप्रदेश,हरियाणा,पंजाब ,राजस्थान आदि में किसी न किसी छद्म नाम से 17 मई तक लॉक डाउन बढ़ा दिया गया।ओये मजदूर बेचारे फिर पलायन को मजबूर होने लग गए
झल्ला
भापाझल्ला जी! कोरोना किसी के भी काबू में नही आ रहा शायद इसीलिए भम्भडभूसे में डाले रखना चाहते हैं।

O2 अलॉटमेंट को गठित टास्क फोर्स चरमराई व्यवस्था पर ही निर्भर रहेगी ?

झल्लीगल्लां
रिटायर्डन्यायाधीश
Judiciaryओए झल्लेया! आखिरकार अदालतों ने ही लोक तन्त्र की रक्षा करनी है ।कोरोना महामारी में तीनों स्तम्भ बेशक धाराशाई हो गए लेकिन सुप्रीमकोर्ट ने ऑक्सीजन अलॉटमेंट के लिए 10 डॉक्टरों वाली 12 सदस्यीय स्पेशल टास्क फोर्स बना कर सबको राहत दी है।ओए हुण ऑक्सीजन के लिए हायतौबा बन्द हो जाणी है
झल्ला
झल्लाभापा जी!ये तो सराहनीय है लेकिन टास्क फोर्स निर्भर तो उपलब्ध चरमराई व्यवस्था पर ही रहेगी

कोरोना संकट को सेना के पाले में डालने को सियासी उधेड़बुन शुरू

झल्लीगल्लां
चिंतितबुद्धिजीवी
ओए झल्लेया!ये क्या भम्बड़भूसे में मुल्क को धकेला जा रहा है।पहले तो सियासतदां मीलों लम्बे दावे करके सत्ता कब्जा लेते हैं फिर जरा सी मुसीबत गले पड़ते ही सेना की मदद की गुहार लगाने लगते है।यहां तक माननीय न्यायालय भी सेना की बात करने लग गए।दिल्ली राज्य और हरयाणा पहले ही हाथ खड़े कर चुके है।
झल्ला
भापा जी!
मुश्किल वक्तों में सेना ने हमेशा मुल्क को उबारा है और कॉरोनानुसरों के वर्तमान संकट में तो सेवानिवर्त डिफेंस डॉक्टर्स ने e संजीवनी पर ओ पी डी भी सम्भाल ली है लेकिन ये कोरोना संकट किसी एक छेत्र में आये भूकम्प/बाढ़ आदि का नही वरण समूचे राष्टीय आपदा का है और पूरे राष्ट्र की कमान आर्मी को देने के दुष्परिणाम भी हो सकते है।इसीलिए विपक्ष+सरकारों और जनता को मिल कर ही कोरोना से मुकाबिला करना होगा ।

नगर निकायों में बेशक कोविड हेल्प डेस्क बनाओ लेकिन गले मे घण्टी भी बांधो

झल्लीगल्लां
भजपाईचेयरलीडर
Jamos Cartoonओए झल्लेया!देखा हसाडी सरकार हर मोर्चे पर मुस्तैद है। कोरोना के विरुद्ध सुरक्षात्मक व्यवस्था खड़ी करने में हम सबसे आगे हैं।उत्तर प्रदेश के नगर विकास मंत्री श्री आशुतोष टण्डन जी ने सभी नगर निकायों में कोविड हेल्प डेस्क बनाने के आदेश जारी कर दिए है।ओये अब दफ़्तरों में भीड़ भाड़ नही होगी हेल्प डेस्क पर ही हेल्थ सम्बन्धी सभी मदद मुहैया करवा दी जाएगी।
झल्ला
झल्लाओ भोले सेठ जी!नगर निकायों में बेशक कोविड हेल्प डेस्क बनाओ लेकिन गले मे घण्टी भी बांधो
इन बिल्लियों के गले मे घण्टी बांधने की भी तो कोई व्यवस्था होनी चाहिए क्योंकि अभी तक अधिकांश हेल्प डेस्क के खिलाफ ही खबरें आ रही हैं।

बादल गरजे मगर बरसे नही ,मोदी भी टीवी पर उपदेश देकर निकल लिए

झल्लीगल्लां
भजपाईचेयरलीडर
ओएJamos cartoon झल्लेया!देखा हसाडे कर्मठ+समर्पित पी एम नरेंद्र भाई दामोदर दास मोदी जी की सक्रियता। कोरोना के विरुद्ध संघर्ष में वोंह फ्रंट पर लड़ाई लड़ रहे हैं।उन्होंने एक ही दिन में जहां कोरोना वैक्सीन निर्माताओं से वार्ता की तो रात्रि में देश के नाम सन्देश देकर सबका हौंसला बढाया।ओये है कोई इन जैसा नेता देश में?
झल्ला
Jhallaa Cartoonचतुर सेठ जी!रात दो बातें समान हुई।
रात को बादल गरजे और बिजली भी खूब चमकी मगर निकल ली सूखे सूखे।ऐसे ही आपके मोदी जी भी टीवी पर जोरदार उपदेश दे कर निकल गए बिना कुछ दिए

पँजांब में जनहित की फाइलें दबाने वाले एक्सीलेंस अवार्ड मैनेज करने में जुटे

झल्लीगल्लां
पँजांबकांग्रेसीचेयरलीडर

Cs Taking Charge

Cs Taking Charge

ओए झल्लेया!मुबारकां!! ओये हसाडी कर्मठ चीफ सेक्रेटरी सुश्री विनी महाजन जी को एक्सेलेन्स एडमिनिस्ट्रेटर वुमन के खिताब से नवाजा गया है ।ओये हसाडे कैप्टेन साहब की कप्तानी की हर तरफ प्रशंसा हो रही है और विपक्ष वाले बेफालतू में कुढ़ते जा रहै हैं
झल्ला
Jhallaa Cartoonचातुर सुजाण जी!
#1947 के रिफ्यूजियों के हक के कंपनसेशन/रिहैबिलिटेशन वाली फाइलें ना जाने किस कोने में दबा कर रखने वाले अवार्ड की सीना ठोक कर गल करते चंगे नही लगते ।इससे तो आप जी की सरकार और अवार्ड दाता की विश्वसनीयता पर स्वाभाविक प्रश्न चिन्ह लग जाता है

महाकुंभ स्नान के प्राचीन अमृत ज्ञान संग आधुनिक कोरोना विज्ञान का भी सहारा जरूरी

झल्लीगल्लां
आस्थावानहिन्दू

Mahakumbh

Mahakumbh

ओए झल्लेया मुबारकां! ओये आज के पवित्र ध्याड़े हरिद्वार में महाकुंभ मेला शुरू होने जा रहा है।ओये तुझे मलूम है कि अब की बार बारह के बजाय ग्यारह बरस में ही यह पवित्र मेला शुरू हो रहा है।यहां हसाडी प्राचीन संस्कृति की भव्यता के दर्शन और स्नान लाभ मिल सकेंगे। ओये हरिद्वार में ही कल्याणकारी अमृत की बूंदे गिरी थी ।यहीं देवताओं ने कुम्भ घटक दबाया हुआ है ।ओए कुम्भ स्नान से हसाडा जीवन सफल हो जाणा है
झल्ला
झल्लाभापा जी! आस्था के इस महाकुंभ की आप जी को भी लख लख वधाइयाँ। वैसे तो व्यवस्थापक आज कल कोरोना महामारी की आपदा में भी अवसर बनाने पर तुले हैं लेकिन आम नागरिक इन अवसरों में आपदा लेकर घरों को लौटते हैं इसीलिए झल्लेविचारानुसार प्राचीन अमृत ज्ञान के साथ साथ आधुनिक कोरोना विज्ञान का पालन करते हुए ही अवसरों का लाभ लेने को कदम बढाने चहिए इसीलिए कोरोना प्रोटोकॉल जरूरी है

पुलिस पर कब्जे को “आप”का संघर्ष मुम्बई की उगाही कांड का असर तो नही

झल्लीगल्लां
cartoon cheeyar leader aap partyआमआदमीपार्टीचेयरलीडर
ओए झल्लेया! ये क्या हो रहा है? ओए दिल्ली में हसाडी चुनी हुई सरकार के सीमित अधिकारों को भी एलजी की झोली में डाला जा रहा है। पार्लियामेंट में विपक्ष के विरोध के बावजूद केंद्र में सत्तारूढ़ सरकार ने राज्यसभा मे राष्ट्रीय राजधानी राज्य छेत्र शासन ( संशोधन )बिल पारित करवा लिया।बेशक राज्य सभा मे हम अल्पमत में थे फिर भी दिल्ली के दो करोड़ लोगों आवाज बने 83 के मुकाबिले 45 मतों की भावना का आदर किया जाना चाहिए था।इसीके विरोध में मल्लिकार्जुन खड़गे जी सदन से वाकआउट कर गए।
ये केंद्र वाले हम पर कानून व्यवस्था का ठीकरा फोड़ते रहते हैं लेकिन दिल्ली पुलिस की कमान हमे सौंपने को तैयार नही होते।गृह राज्यमंत्री जी किशन रेड्डी इसे संवैधानिक बता रहे हैं।
झल्ला आपसे पूर्ण सहानुभूति है। नोटबन्दी के पश्चात अब पुलिस का झल्लासबइंस्पेक्टर ही 100 करोड़ ₹ की उगाही प्रतिमाह करवा सकता है और पार्टी चलाने के लिए पैसा जरूरी है।इसीलिए पुलिस पर कब्जा भी जरूरी है।

गडकरी ने गाड़ियों में जीपीएस लगवा दिया तो किसान टोलप्लाजा कैसे घेरेंगे

झल्लीगल्लां
टोलप्लाजाऑपरेटर
toll plaza MEERUTओए झल्लेया!मुबारकां!!ओए अब शहरों के अंदर से टोल हटाने का काम शुरू हो गया है जोएक साल में पूरा हो जाएगा।
केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने बृहस्पतिवार को लोक सभा मे प्रश्नकाल के दौरान गुरजीत औजला, दीपक बैज और कुंवर दानिश अली के पूरक प्रश्नों के उत्तर में कहा कि पिछली सरकारों के दौरान कई स्थानों पर शहरी इलाकों के भीतर टोल बनाए गए जो ‘गलत और अन्यायपूर्ण’ हैं और इन्हें हटाने का कार्य एक साल में पूरा हो जायेगा। उन्होंने कहा कि शहरों के भीतर पहले बनाए गए टोल एक साल में हटा दिए जाएंगे। इस तरह के टोल में ‘चोरियां’ बहुत होती थीं।
झल्ला
झल्लाभापा जी!आपको तो कोई आर्थिक हानि नही होण्णी क्योंकि गाड़ियों में जीपीएस सिस्टम लगाया जाएगा जिसकी मदद से टोल शुल्क का भुगतान तो हो ही जायेगा।। हाँ टोलप्लाजा को घेर कर जाम करके बैठने वाले किसानों को जरूर मायूसी हो सकती है।इसके अलावा टोल प्लाजा के लिए घेरी गई जमीनों का क्या होगा???
फ़ाइल फोटो

संसद में वाहन कमेला उठा:स्वार्थसिद्धि का केंद्र योगी सरकार है या कमेला

झल्लीगल्लां
मेरठीभजपाई
jamos cartoonओए झल्लेया!ये सोतीगंज में चल रहे कुख्यात वाहन कमेले से ,मेरठ पोलिस को क्या मिलता है जो इस जघन्य अपराध में आकंठ डूबे वाहन कमेले का जड़मूल नाश नही कर रहे।कभी नया ऑफिसर आता है तो छापे की ओपचारिकता जरूर निभा ली जाती है।अखबारों में फोटो छपवा कर अपनी छवि का प्रदर्शन कर लिया जाता है।अब तो इसकी जड़े सोतीगंज से बाहर भी फैल चुकी हैं।ओए इसीलिए हसाडे कर्मठ+ईमानदार सांसद श्री राजेन्द्र अग्रवाल जी को इस मामले को संसद में उठाना पड़ गया।माननीय सांसद जी ने राज्य स्तर पर विशेष पोलिस टीम बनाने की मांग भी की है।
झल्ला
Jhallaa Cartoonचतुर सेठ जी!संसद में गृह राज्यमंत्री जी किशन रेड्डी ने राष्ट्रद्रोह जैसे विषय को राज्यों की जिम्मेदारी बता कर अपना पल्ला झाड़ लिया। पैट्रोलमंत्री धर्मेंद्रप्रधान और वित्तमंत्री श्रीमती निर्मलासीतारमण जी ने महंगाई का ठीकरा राज्यों के सर् फोड़ दिया । सर्वविदित है कि कानून व्यवस्था राज्यों की जिम्मेदारी है ।इसीलिए कहा जाता है कि सोती गंजं वाहन कमेले के मामले में राज्य सरकार सोई हुई है और इसकी शिकायत सांसद जी ने संसद में की है
प्रदेश में अपनी सरकार की शिकायत के पीछे कुछ राजनीतिक स्वार्थ जरूर होंगे लेकिन इसका उत्तर आना जरूरी है कि इस स्वार्थ सिद्धि का केंद्र बिंदु राज्य सरकार है या फिर सोतीगंज के वाहन कमेले