Ad

Tag: SAD

SAD Characterises Capt’s Two Years Govt as ‘Reneger’ on Poll Promises

[Chd,Pb]Capt Amarinder Govt ‘Reneged’ on Poll Promises: SAD
Amarinder Singh-led Congress government completing its two-year tenure
“The Congress government has cheated and betrayed the trust of the people of Punjab by reneging on each and every promise made to farmers, khet mazdoor, youth, dalits, industry and government employees during the last two years,” senior SAD leader Bikram Singh Majithia said while addressing media on the occasion of completion of two-year tenure of the Congress government.
“The government was characterised by repression, corruption, misgovernance, hypertaxation and non-performance,” he alleged.
“If there is one thing, the Congress government has delivered upon it is the politicisation of the probe into the Kotkapura and Behbalkalan incidents by first forming the Ranjit Singh Commission and now SIT which is controlled by the Congress party. All serious issues like forming a Lokpal, tabling assets of officers and providing legal aid to SC and BCs have been put on the back-burner,” the former Akali minister alleged.
Marking completion of two years of the Congress government as ‘Vishvasghat Divas’ (betrayal day) Saturday, Majithia accused the party of not only “failing” Punjabis, but also causing “untold misery and hardship” to the people by denying them social welfare benefits like Shagun scheme, old age pension, scholarships, mid-day meals.
“Never before in the history of the state has any government performed so poorly on all fronts. It seems there is no government in Punjab,” he claimed.
He charged the government with indulging in a public relations exercise to hide its “utter failure”.
“The first and foremost failure of the government was its inability to implement the Rs 90,000 crore complete loan waiver promise made by Amarinder. This failure resulted in an increase in farm suicides which crossed the 900 mark,” Majithia alleged.
The farm sector had suffered the most in the Congress rule with sugarcane farmers not being given their dues, which had accumulated to Rs 900 crore again, he alleged.
Stating that an entire generation of youth had been “betrayed” by the Congress government, Majithia said the youth were promised jobs in each household under the ‘Ghar Ghar Naukri’ scheme.
“What they got was fake job melas. Even Rs 2,500 per month unemployment allowance has not been given to anyone. In fact the government has played a cruel joke on youth by registering only 150 unemployed youth,” he alleged.
The workers of both the Shiromani Akali Dal and the Bharatiya Janata Party organised roadshows and ‘dharnas’ in all the assembly constituencies of the state Saturday, as per the party release.
The demonstrations were held in Amritsar, Bathinda, Jalandhar, Ludhiana, Patiala , Mohali and Gurdaspur.

मोदी की गुड़हाई के बाद अकालियों की पंजाब की सियासत में”एम्स” की खुरपी

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

अकाली चीयर लीडर

औए झल्लेया! ये हसाड़े पंजाब में क्या हो रहा है? कांग्रेसी कैप्टेन तंदरुस्त पंजाब के नाम पर क्या नौटंकी कर रहे हैं ? अरे केंद्र की सरकार पंजाबियों की सेहत के लिए बठिंडा में आल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंस [एम्स] अस्पताल बनाना चाह रही है लेकिन ये कैप्टेन की सरकार जमीन ही नहीं दे रही| औए ९२५ करोड़ रु के इस लोकहित प्रोजेक्ट को भी अटकाया+लटकाया+टरकाया जा रहा है

झल्ला

बनता है ! भाजी बनता है!!मोदी की गुड़हाई के बाद आपलोगों का खुरपी चलाना बनता है

“डोप टेस्ट” में नेताओं को छूट पर नेताओं ने कैप्टेन पर हमला बोला

[अमृतसर,चंडीगढ़] “डोप टेस्ट” में नेताओं को छूट पर नेताओं ने कैप्टेन पर हमला बोला
कैप्टेन को “डोप टेस्ट” के निर्णय पर विभिन्न नेताओं ने अपने अंदाज में घेरा |अकाली दल के सर्वोच्च नेता और पूर्व उपमुख्य मंत्री सुखबीर सिंह बादल और केंद्र में उनकी पत्नी हरसिमरत कौर ने नेताओं पर डोप टेस्ट अनिवार्य किये जाने की मांग की है|
सुखबीर सिंह बादल ने पंजाब सरकार द्वारा डोप टेस्ट की घोषणा का स्वागत किया गया है लेकिन इसके साथ ही उन्होंने नेताओं के डोप टेस्ट की भी मांग की है|
सुखबीर की पत्नी और केंद्र सरकार में कद्दावर मंत्री श्रीमती हरसिमरत कौर ने मुख्य मंत्री कैप्टेन अमरिंदर सिंह पर निशाना साधते हुए कहा हे के डोप टेस्ट का पालन सबसे पहले उन नेताओं को करना चाहिए जिन्होंने ७०% पंजाबियों को नशेड़ी कहा था|
गौरतलब हे के नशे पर बादलों के खिलाफ अभियान छेड़ने वाले कैप्टेन अमरिंदर सिंह ने पंजाब में सत्ता तो हथिया ली लेकिन नशे के कारोबारियों के लिए फांसी की मांग की और केंद्रीय गृह मंत्री को पत्र लिख करके इतिश्री कर ली |अब पोलिस और कर्मियों के लिए डोप टेस्ट अनिवार्य किया गया है लेकिन मंत्री+विधायक को इससे छूट दी गई है जिसे लेकर वे आजकल सभी के निशाने पर हैं| आम आदमी पार्टी के नेता एच एस फुल्का ने भी अपने अंदाज में सरकार को घेरते हुए कहा के वह भी डोप टेस्ट करवाने को तैयार हैं उन्हें इसके लिए निर्धारित लेबोरेटरी का पता बताया जाय

शाहकोट में अकालियों को शाह बनाने के लिए जालंधरी वालिया ने “आप” छोड़ी

[जालंधर,पंजाब]शाहकोट में अकालियों को शाह बनाने के लिए जालंधरी वालिया ने “आप” छोड़ी
शाहकोट में २८ मई को लोक सभा की सीट के लिए उपचुनाव होने हैं |इसमें कांग्रेस और अकालीदल में सीधे मुकाबिला है लेकिन आम आदमी [आप]पार्टी भी जी तोड़ कोशिश में हैं |आप की इसी कोशिश को आज तगड़ा झटका लगा|
आप के जालंधर केंट हल्का प्रभारी और प्रवक्ता एच एस वालिया ने उनके जालंधर कुञ्ज स्थित निवास पर आये सुखबीर सिंह बादल की उपस्थिति में पंजाब की प्रमुख विपक्षी अकाली दल का दामन थाम लिया |

Akali Raises Tytler’s Sting on Sikh Massacre

[New Delhi]Akalis Attacks Cong Raising Tytler’s Sting on Sikh Massacre
100 Sikhs Killing in the 1984 today figured in the Rajya Sabha
Sukhdev Singh Dhindsa (SAD), notice under Rule 267 was converted into a zero hour submission by Chairman M Venkiah Naidu .
Though Dhindsa also named another Congress leader, Naidu ruled that no names would go on record.
Dhindsa asked who were Tytler’s accomplices as one person could not have killed 100 persons.
Delhi Sikh Gurdwara Management Committee (DSGMC) president Manjit Singh GK had on Monday released a video of a purported sting operation recorded in 2011, which he said was received by him from an unknown man on February 3.
Dhindsa said the accused in the sting claims that no action was taken against him except a sham enquiry.
Congress leader Anand Sharma said rules of the House do not allow any matter which is sub-judice to be discussed.
The House cannot be converted into a trial court, he said.
Naidu said the SAD member and some others had met him and showed him the CD of the purported sting operation.
The chairman said he asked the MP to authenticate and now he was willing to do so and place it on the table of the House.

AAP’s 2 Punjabi Leaders with Associates Deserted To SAD

[Asr,Pb]AAP’s 2 Punjabi Leaders with 43 Associates Joined SAD
The AAP’s former Majha zone president Kanwalpreet Singh Kaki and former Backward Caste wing chairman Manmohan Singh Bhagowalia joined the SAD along with their supporters
Ex Dy CM Badal said their deserting the AAP left the party with zero presence in Majha.
He said that the competition in the municipal elections would now be between the Congress party and the SAD-BJP combine, and the AAP was out of the picture.

Pb Assembly,Without Cong,Moves Resolution Against SYL Construction

[Chandigarh,Punjab]Punjab Govt Moves Resolution Against Construction of SYL
Chief Minister Parkash Singh Badal today moved a resolution in Punjab Assembly against the construction of Sutlej Yamuna Link (SYL) canal
Opposition Congress members kepT away from the House.
Badal moved a resolution saying in the interest of the people of Punjab, the House unanimously directs the state government, Cabinet and all government officials not to hand over the state’s land for the construction of SYL canal and neither allow anybody to work on it, nor to cooperate for the purpose.
The resolution was moved amidst empty opposition benches
All 42 Congress MLAs had resigned from the state Assembly after the apex court’s decision on Thursday.
A special session of the state Assembly was convened after the Supreme Court held as “unconstitutional” the 2004 law passed by the Punjab government to terminate the SYL canal water sharing agreement with neighbouring states.
Yesterday, upping the ante against the construction of Sutlej Yamuna Link (SYL) canal, Punjab Cabinet announced that it will denotify the land acquired for the project and return it to the “original owners” at no cost

Cong Punjabi Captain Amarinder Erects For War On SYL’s Water Drops

[Abohar,CHD,Pb] Cong Punjabi Captain Amarinder Erects For War On SYL’s Water Drops
Hitting out at the Badal government over the Supreme Court’s ruling on the SYL issue, Punjab Congress chief Amarinder Singh today vowed to protect the last drop of the state’s water.
Addressing a rally at Khuian Sarwar village near Abohar, the tail-end of Sutlej Yamuna Link (SYL) Canal, he asked SAD MLAs to quit the Assembly and said the state polls should be held next month itself to prevent Chief Minister Parkash Singh Badal from further “vitiating” the atmosphere of the state.
He vowed to protect the “last drop” of Punjab’s water, and declared “not a drop will be spared” till their “last breath”.
On the Chief Minister’s assertion that he (Badal) is ready to face the bullet in order to protect Punjab’s water, Amarinder alleged that in 1984, Badal had made such claims but when the time came to fight for the state he went into hiding, leaving the people to fend for themselves.
He also alleged that the Chief Minister has “destroyed” the state out of “sheer personal greed” and cannot be allowed to remain in power.
Asserting that implementation of the SYL verdict will “finish off” the
2 lakh families and
2 lakh agricultural labourers who
farm 10 lakh acres of land in the state,
Amarinder alleged that SAD had 10 years to battle the case in the court effectively but failed to do anything.
“They (SAD) were only interested in creation of Punjabi Suba in order to rule a Sikh-dominated region for their vested interests,” he alleged.
“Why did Badal not tell the court that Punjab had no water to spare, with all the glaciers having melted,” the state Congress chief asked and reiterated his demand for the establishment of a new tribunal to assess the quantum of water available with the state.
Referring to the controversial Clause 5 of the Punjab Termination of Agreements Act, Amarinder alleged Badal is misleading the state on the issue by making fraudulent claims on scrapping it.
He accused Badal of playing with the sentiments of the people and alleged that removal of the clause would not be acceptable to the BJP-led Central government, of which SAD is a part.
Political temperatures have risen in Punjab after the Supreme Court held as “unconstitutional” the 2004 law passed by Punjab to terminate the SYL canal water sharing agreement with Haryana, Himachal Pradesh, Rajasthan, Jammu and Kashmir, Delhi and Chandigarh.

छिंदवाडिया कमलनाथ की पंजाब में नियुक्ति पर भड़के सत्तारूढ़ एसऐडी और “आप”

[चंडीगढ़,पंजाब] छिंदवाडिया कमलनाथ की पंजाब में नियुक्ति पर भड़के सत्तारूढ़ एसऐडी और “आप”
सी एम बादल ने इसे सिखों का घोर अपमान बताया |
आम आदमी पार्टी[आप] और शिरोमणि अकाली दल[एसऐडी] ने कांग्रेस नेता कमलनाथ को पंजाब में पार्टी का प्रभारी महासचिव बनाये जाने पर निशाना साधा और मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने इसे ‘सिखों का घोर अपमान’ करार दिया।
वयोवृद्ध बादल ने कहा, ‘‘यह सिखों के प्रति संवेदनहीनता की अविश्वसनीय शर्मनाक हरकत है और नवंबर 1984 में कांग्रेस के गुंडों द्वारा हजारों बेगुनाह सिख बच्चों, पुरषों और महिलाओं के नरसंहार के दोषियों को लेकर राष्ट्रीय राय का मूखर्तापूर्ण और अशिष्ट अपमान है।
मैं विश्वास नहीं कर सकता कि कोई राजनीतिक दल सिखों की भावनाओं के प्रति इतना संवेदनहीन हो सकता है।’’
उन्होंने कहा, ‘‘मैं इस बात से हैरान हूं कि कांग्रेस आलाकमान सिखों के जख्मों पर नमक छिड़कने की इस हद तक जा रहा है और वहीं उसी समय अपने पापों को लेकर प्रधानमंत्री के स्तर पर पछतावा दिखाने का नाटक कर रहा है।
क्या ये वास्तविक पछतावे के संकेत हैं या पुराने जख्मों को कुरेदा जा रहा है।’’
कांग्रेस पर निशाना साधते हुए 1984 के दंगा पीड़ितों के वकील और आप नेता एच एस फुलका ने कहा कि कमलनाथ को पंजाब का कांग्रेस प्रभारी बनाकर पार्टी ने पीड़ितों के जख्मों पर नमक रगड़ने का काम किया है।
उन्होंने कहा, ‘‘दो नवंबर, 1984 को एक राष्ट्रीय अखबार ने खबर प्रकाशित की थी कि रकाबगंज साहिब पर हमला करने वाली भीड़ की अगुवाई कमलनाथ कर रहे थे। तीन नवंबर को एक और राष्ट्रीय अखबार ने भी यही खबर छापी।’’ फुलका ने कहा कि कांग्रेस ने कमलनाथ की नियुक्ति के माध्यम से संकेत दिया है कि पार्टी को पीड़ितों की भावनाओं की कोई चिंता नहीं है।
उन्होंने कहा, ‘‘कांग्रेस केवल धनबल और बाहुबल वाले लोगों की फिक्र करती है।’

गायों [Cow]के कल्याण के लिए,एसऐडी रूल्ड,पंजाब लगाएगा गाय शुल्क

[चंडीगढ़,पंजाब ] गायों [Cow]के कल्याण के लिए पंजाब लगाएगा गाय शुल्क|पंजाब गौ सेवा आयोग के अनुसार राज्य में 472 गोशालाओं में 2.69 लाख गाये हैं, जबकि 1.06 लाख गायें सड़कों पर घूम रही हैं।
पंजाब सरकार राज्य में गायों के कल्याण के लिए वाहनों और बिजली सहित कई चीजों पर जल्द ही शुल्क लगाएगी।
पंजाब के स्थानीय निकाय मंत्री एवं अमृतसर से भाजपा विधायक अनिल जोशी के अनुसार ‘ राज्य में विभिन्न वस्तुओं पर गाय शुल्क लगाया जाएगा और इससे एकत्र राजस्व गाय और इसके कल्याण पर खर्च किया जाएगा।’’
स्थानीय निकाय विभाग ने
चारपहिया वाहन की खरीद पर 1,000 रुपये
दोपहिया वाहन की खरीद पर 500 रु
तेल टैंकर पर 100 रु ,
बिजली पर 2 पैसा प्रति यूनिट,
शादी-विवाह के आयोजन के लिए एसी हॉल की बुकिंग पर 1,000 रु
गैर एसी हॉल की बुकिंग पर 500 रु
सीमेंट की बोरी पर एक रु
भारत में बनी विदेशी शराब पर 10 रु प्रति बोतल और
पंजाब मीडियम शराब पर 5 रु प्रति बोतल की दर से गाय शुल्क लगाया जाएगा।
मंत्री के अनुसार 154 नगर निकायों में से 33 ने यह प्रस्ताव पारित कर दिया है, जबकि 10 में से 7 ने शुल्क लगाने के निर्णय का समर्थन किया है। इस संबंध में एक अधिसूचना 25 मई तक जारी की जाएगी।
पंजाब गौ सेवा आयोग के चेयरमैन कीमती भगत के अनुसार सबसे पहले प्रायोगिक आधार पर 2009 में बठिंडा में गाय शुल्क लगाया गया था, जबकि तीन महीने पहले मोहाली में यह शुल्क लगाया गया था।
अमृतसर नगर निगम द्वारा इस संबंध में एक प्रस्ताव पारित किया जाना बाकी है।
भगत ने कहा कि राज्य को इस शुल्क से सालाना करीब 90-100 करोड़ रु प्राप्त होंगे जिसे गायों के कल्याण पर खर्च किया जा सकता है।