Ad

Tag: Satire

पंजाब सरकार में सिक्योरिटी चूक पर बिना आग के ही दुआं उडाया जा रहा है

झल्ले दी गल्लां
उत्तेजित पंजाबी कांग्रेसी
ओए झल्लेया! ये भगवाधारियों ने पूरे मुल्क में हमे बदनाम कर छोड़ा है। सूत ना कपास और जुलाहों में लठ्मलठ् वाली बात कर के रख दी।अरे इनके प्रधानमंत्री को ना तो काले झंडे दिखाए गए ,ना ही नारे तक लगे और ये चिल्ला रहे हैं की मोदी जी की जान को खतरा होसकता था
झल्ला
मेरे चतुर सुजान! इसका मतलब है कि बिना आग के ही आप लोगों ने धुआँ उड़ा दिया,
पहले मुख्यमंत्री पीएम के प्रोग्राम में नहीं पहुंचे,
फिर सुरक्षा चूक पर खेड प्रगट किया,
फिर फिरोजपुर के बेचारे पुलिस कप्तान को निलंबित किया
फिर सात आई पी एस अधिकारी बदल डाले ,
और तो और आपके चहिते और अकाली बिक्रम सिंह मजीठिया के खिलाफ एफ आई आर दर्ज कराने वाले अपने खासुलखास डी आई जी को भी हटा दिया ,उसके बावजूद कहते हो कि आग तो लगी ही नहीं Jhalle Di Gallan
Agitated Punjabi Congressman
Oh jealous! These saffron people have defamed us all over the country. They put it in cotton, cotton and weavers by talking lath
Jhalla
O My Dear Clever It means you blew smoke without fire,???
The first Chief Minister did not reach the PM’s program,
Then revealed the pit on the security lapse,
Then the poor police captain of Ferozepur was suspended
Then seven IPS officers changed,
Moreover, he has also removed his special DIG who lodged an FIR against your favorite Opponent and Akali Bikram Singh Majithia, despite that you say that the fire did Not Even Start

पंजाब में भजपा को दुश्मन के दुश्मन (कैप्टेन) का मिलेगा साथ

                                                 झल्ली गल्लां

भाजपाई चेयरलीडर

ओए झल्लेया ये तो कमाल हो गया।पंजाब में हुण दो राष्ट्रीय दल मिल कर राष्ट्र विरोधी शक्तियों को हसाडे सोण पंजाब से बाहर निकाल फेकेंगे।ओए पटियाला के राष्ट्रवादी महाराजा कैप्टेन अमरिन्दर सिंह जी ने विश्व की सबतों वड्डी भजपा पार्टी नाल मिल के पंजाब में चुनाव लड़ने की संभावनाओं को हवा दे दी है।।ओये अब तोपंजाब में भी  हसाडी सरकार बने ही बने

झल्ला

ओ मेरे चतुर सेठ जी

कैप्टेन की कांग्रेस की आला कमानऔर पंजाब प्रदेश के विवादित अध्यक्ष  से नवी नवेली  नाराजगी जगजाहिर है।चूंकि  राजनीति में दुश्मन का दुश्मन दोस्त होता है इसीलिए भाग्य से  छींका टूट सकता है।पंजाब में भजपा को दुश्मन के दुश्मन (कैप्टेन) का मिलेगा साथ

सिद्धू के दिल मे चर्चिल की आत्मा का डेरा (व्यंग)

                                                      झल्लेदीगल्लां

पंजाबीचिंतक

ओए झल्लेया! ये लाफिंग जट्ट नवजोतसिंह सिद्धू को कौन से दिल/हृदय/हार्ट का वरदान मिला हुआ है।एक के बाद दूसरी असफलता मिलने के बावजूद पंजाब की राजनीति में मजबूती से खड़ा हुआ है।पहले बादलों से पंगा,फिर आप के केजरीवाल को ना फिर भजपा के मोदी को टाटा बाय बाय । कैप्टेन अमरिन्दर से अदावत फिर कांग्रेस से बगावत।ये सिलसिला कब खत्म होगा।

झल्ला

ओ भापा जी! सिद्धू के दिल मे ब्रिटेन के प्रधान मंत्री रहे विंस्टन चर्चिल की मजबूत  आत्मा ने डेरा डाल लिया होणा है।तभी विफलताओं में भी सफलता तलाशने में लगे हुए हैं।अरे भाई !चर्चिल ने भी कभी कहा था कि सफलता की परिभाषा है , एक विफलता से दूसरी विफलता इसीलिए अपने लक्ष्य की और लगातार अग्रसर सिद्धू को विफल कहना प्रतिभाओं का अपमान होगा।

कस्टोडियन जी! कृपया Evacuee प्रॉपर्टी की भी जांच कर लीजिए

                                                   झल्लीगल्लां

विभाजन विभीषिका पीड़ित

ओए झल्लेया! मोदी जी ने आज दिल खुश कर दिया ! कस्टोडियन विभाग को नींद से जगा दिया गया है। कस्टोडियन/अमानती ने अपने अधीन शत्रु सम्पत्ति की जांच शुरू कर दी है।ओए आज केंद्र सरकार के इस विभाग के अधिकारियों ने मेरठ  शहर और देहात में करोड़ों ₹ मूल्य की सम्पत्ति का निरीक्षण किया।अब जल्द ही देश भर में शत्रु सम्पत्ति को  एक लाख करोड़ में  नीलाम करके राष्ट्र हित के कार्य किये जायेंगे।

झल्ला

भापा जी! Evacuee प्रॉपर्टी की भी जांच जरूरी है

 भापा जी!! ठीक है लेकिन जो सम्पत्तियों को एलॉट करके पीड़ितों को कब्जे नही दिए गए उस सम्पत्ति  को ना तो शत्रु सम्पत्ति में डाला गया और ना ही evacuee प्रॉपर्टी में ही दर्ज किया गया ।इसकी जांच भी तो करवाओ

 

कैप्टेन ने कप्तानी ही छोड़ी है अभी सियासी तलवार नही टांगी (व्यंग)

                                                  झल्लीगल्लां

कांग्रेसीचेयरलीडर 

ओए झल्लेया! हसाडी हाईकमान ने हथेली पर सरसों उगा के दिखा दी।ओए बगावती तेवर दिखा रहे कैप्टेन अमरिन्दर सिंह के नीचे से मुख्यमंत्री की कुर्सी खींच ली।अब तो 2022 को होने जा रहे चुनांवों में लगने जा रहे अनहोनी के ग्रहण से मुक्ति मिल जानी है।नया चेहरा ! नया चुनाव !! नई जीत

झल्ला

चतुर सुजाणा!बेशक एआप लोगों ने नवजोत के लिए इस पुरानी जोत को बुझा दिया मगर ये याद रखना की  कैप्टेन ने 79 वर्ष में भी अभी तलवार दीवार पर टांगी नही है।चुनांवों में नवजोतसिंहसिधू के खिलाफ म्यान से बाहर निकल भी सकती है

आप लोग सिद्धू बनाम कैप्टेन की लड़ाई में कूदे हो तो यह जान लो कि कैप्टेन ने कप्तानी ही छोड़ी है अभी सियासी तलवार नही टांगी ।समझे ?? के नही समझे???

राष्ट्र नायक राजा महेंद्र प्रताप सिंह विश्वविद्यालय से कई सियासी लकीरें छोटी हुई

झल्लीगल्लां

जाटभजपाई

ओए झल्लेया !

इबलो तो घणा मज़्ज़ा आ गया।उरे म्हारे धाकड़ पीएम माननीय नरेंद्र भाई दामोदर दास मोदी जी ने म्हारे भुलाए जा चुके राष्ट्र नायक राजा महेंद्र प्रताप सिंह जी को सम्मान देते हुए राजा जी के नाम पर अलीगढ़ में राज्यविश्वविद्यालय का शिलान्यास कर दिया।म्हारा सीना और चौड़ा हो गया

झल्ला

चौधरी साहब!

आपके मोदी जी ने राष्ट्र नायक राजा महेंद्र प्रताप सिंह विश्वविद्यालय से कई सियासी लकीरें छोटी कर दी

(1)AMU में  पाकिस्तान के संस्थापक और विभाजनविभिषिका के अपराधी मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर की पूजा करने वालों को आईना दिखा दिया

(2)प्रदेश में आपलोगों की 6% आबादी, जिसमे अनेकों विधायक जिताने की क्षमता है ,को अपनी तरफ मौड़ लिया

(3)रालोद के अध्यक्ष जयंत चौधरी को जाट वोटबैंक में भागदौड़ में पछाड़ दिया

(4)अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी का नाम बदले बगैर दूसरा नया विश्वविद्यालय खोल कर मुस्लिमो के दिल से भजपा का डर भी कम कर लिया

रक्षा बजट में 16000 करोड़ के उछाल से ₹1500000 की उम्मीद को भी पलीता लग ही गया

                                                    झल्लीगल्लां

भजपाईचेयरलीडर

ओए झल्लेया! मुबारकां !! ओए हसाडी सरकार बहुत जल्द अतिआधुनिक मिसाइल और हेलीकॉप्टर आदि खरीदने जा रही है।इसके लिए ₹ 16000 करोड़ खर्च करने को कमर कस ली गई है।ओये अब हसाडी रक्षा व्यवस्था ने चीन और पाकिस्तान के साथ ही तालिबानियों को नानी और दादी याद करा देणी है

झल्ला

चतुर सेठ जी!

अभी ₹ पांच लाख करोड़ की वसूली तो हुई नही कि उसमें छेद शुरू हो गए। आप लोगों के ये  तेवर देख कर लगता है कि ₹ 1500000 की उम्मीद को भी पलीता लग ही गया।

 

अफगान शरणार्थियों की सम्पत्ति का मुआवजा भी तालिबानी सरकार से वसूलो

                                                     झल्लीगल्ला

भारतीय गुरसिख

ओए झल्लेया!हिन्दू और सिखों को और कितने ज़ुल्म सहने होंगे!1947 में शुरू हुई पीड़ा का दर्द अभी भी हमे रुलाता है ।ऐसे में अब अफगानिस्तान से हसाडे लोगों का विस्थापन शुरू हो गया।ये तो भला हो भारत मे मोदी सरकार का जो ना केवल बचाव अभियान चलाए है बल्कि पीढ़ियों को शरण दे रही है और भारतीय नागरिकता भी देने के रास्ते साफ करती जा रही है।

झल्ला

अब समय आ गया है ।अब और विस्थापन रोकने को कमर कसनी ही होगी।इसके लिए

(1)पंजाब में होने जा रहे चुनांवों में सिख वोट बैंक और अंतराष्ट्रीय छवि मोह छोड़ कर शरणार्थी और घुंसपैठियो की  पहचान बारीकी से करनी होगी

(2)सीएए को तुरन्त लागू करना होगा

(3) पड़ोसी मुल्कों से भारत आ रहे शरणार्थियों की वहां छूट रही सम्पत्तियों का मुआवजा भीवसूलना होगा

(4)विस्थापितों को नागरिकता देने के साथ ही उन्हें बसाने के लिए तत्काल पर्याप्त ,सुरक्षित  यौजना बनानी होगी।

पँजांब के गन्ना किसान राज्य सरकार के असली दांत देख कर ही आंदोलन जारी रखें

अफगान शरणार्थी और घुसपैठियों की जांच परख में काईयाँपन दिखाना होगा

झल्लीगल्लां

चिंतित हिंदूवादी

ओएJhalla Cartoon झल्लेया! ये मोदी सरकार की मति मारी गई है जो अफगानिस्तान से शरणार्थियों को भारत के लिए e visa देने को  उदारता दिखा रहा है।देख तो  एनशिएन्ट Ancient राजा पोरस ने सिकन्दर के विरोधियों को  शरण दी और झेलम चिनाब की जंग हार बैठे। आधुनिक भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू ने दलाईलामा को शरण दी तो चीन का ड्रैगन आज तक फुंकार रहा है।अब अफगानिस्तान के तालिबान को भी उंगली करनी शुरू हो गई है।ये तो वोही बात हुई कि पैर पर कुल्हाड़ी नही लगी तो कुल्हाड़ी पर ही पैर दे मारो।

झल्ला

झल्लाओ भापा जी! खातिर जमीत रखो! शरणागत को शरण देने की परिपाटी का तो  आपने स्वयम बखूबी  बखान कर ही दिया ।वैसे एआप जी की चिंतावामिब है जिसके निराकरण के लिए भारत सरकार को शरणार्थी और  उनके भेष में घुसपैठियों की जांच परख में उदारता के बजायकाईयाँपन दिखाना होगा।

उन्हें एक स्थल पर ही पर्याप्त सुरक्षाघेरे में रख कर मूवमेंट पर सक्षम लगाम लगानी होगी।वरना तो समझो गई भैंस पानी में

अफगान शरणार्थी और घुसपैठियों की जांच परख में काईयाँपन दिखाना होगा
Read more