Ad

Tag: DeputyCM

डिप्टी सीएम “शर्मा” ने चुनिंदा पत्रकारों के सभा में स्वस्थ पत्रकारिता की वकालत की

[मेरठ,यूपी]डिप्टी सीएम “शर्मा” ने चुनिंदा पत्रकारों के सभा में स्वस्थ पत्रकारिता की वकालत की|
प्रदेश के सक्रिय डिप्टी सीएम डा0दिनेश शर्मा ने शनिवार को अपने मेरठ में तूफानी दौरे में विभिन्न कार्यक्रमों में भाग लिया ।
डिप्टी सी एम ने चैंबर आफ कामर्स में आईडियल पत्रकार समिति द्वारा आयोजित कार्यशाला में भी भाग लिया।
इस कार्यशाला में उन्होने कहा कि हमें स्वस्थ पत्रकारिता करने की जरूरत है।
उन्होंने मीडिया कर्मियों का शोषण रोकने और उनके लिए कल्याणकारी नीतियों में सकारात्मक भूमिका निभाने का भी आश्वासन दिया | मालूम हो के नए अखबारों के शीर्षक के लिए बढ़ी संख्या में आवेदन वर्षों से मेरठ के सूचना विभाग की फाईलों में दबे हुए हैं | आर टी आई और फिर उसपर अपील का भी कोई जवाब नहीं दिया जा रहा

कर्नाटक में तो सीएम से डिप्टी सीएम बढ़ा होता है जी [Satire]

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

कांग्रेसी चेयर लीडर

औए झल्लेया मुबारकां!औए हसाड़े राहुल गाँधी जी ने कर्नाटक में भाजपा को बाहर का रास्ता दिखा ही दिया और डिप्टी सी एम का पद भी हासिल कर लिया |हसाड़े रणनीतिकारों की क़ाबलियत मानता है के नहीं

झल्ला

वाकई चतुर सुजान जी ,आपजी ने 78 विधायक ला लेकर कर्नाटक में कमल को बाहर करके कमाल कर दिया |आपजी ने ३८ विधायकों वाली जेडीएस को सी एम पद देकर सोने पे सुहागा कर दिखाया |१०४ सीटों वाली भाजपा को पछाड़ कर आप डिप्टी सीएम का पद ले रहे हैं शायद आपलोगों ने सोचा होगा के सीएम में केवल १३ लेटर हैं जबकि डिप्टी सी एम में तो पुरे १९ लेटर हैं |जाहिर हैं १३ से १९ बढ़ा ही होता है

अरुण जेटली को डिप्टी पी एम् बनाने के “बादली” शगूफे की काट के लिए कांग्रेसी चाय की प्याली में उबाल

झल्ले दी झल्लियां गल्लां

तपा हुआ भाजपाई

ओये झल्लेया ये कांग्रेसियों की नंगई तो देख|ओये चिट्टी दाड़ी वाले हसाडे सहयोगी प्रकाश सिंह बादल ने रब्ब दे घर अमृतसर में अरुण जैटली जी को सम्मान देते हुए जरा इतना असा ही कहा था कि अगर जेटली चुनाव जीत जातें हैं तो देश के डिप्टी पी एम् बनेंगे इस पर जेटलीजी ने खुद ही साफ़ कर दिया कि उनका ध्यान पद की तरफ नहीं हैं |इस जार सी बात को कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव और पंजाब प्रभारी शकील अहमद फरमा रहे हैं कि कांग्रेस ने कप्तान अमरिंदर सिंह को जेटली के खिलाफ मैदान में उतारा है इससे प्रकाश सिंह बादल डर गए हैं इसीलिए जनता को गुमराह करने के लिए यह बयान दिया गया है

झल्ला

अरे मेरे सेठ जी बादल साहब ने अपनी दाड़ी धूप में बैठ के सफ़ेद नहीं की है शकील अहमद जैसे कईयों को नीला काला कर दिया है|ये आप जी भी मान ही लो कि बादल साहब ने पूर्व सी एम् अमरिंदर सिंह की मजबूती के खिलाफ अमृतसर के जंवाई राजा जेटली की राह आसान करने के लिए जेटली को डिप्टी पी एम् बनाने का शगूफा छोड़ा था अब इस शगूफे को गुमराह करने के लिए कांग्रेस चाय की प्याली में तूफ़ान तो लाएगी ही