Ad

Tag: Haryana Govt

Khattar Accuses Capt’s Punjab,Govt of Fueling Farmers Unrest

(Chd,Haryana)Khattar Accuses Capt’s Punjab,Govt of Fueling Farmers Unrest

Haryana Chief Minister Manohar Lal Khattar on Monday accused the Capt Amarinder Singh government in Punjab, besides the Congress and the Left, of fueling farmers’ unrest against the Centre’s three farm laws in his state.,Khattar also cautioned the agitating farmers against resorting to violent ways and means of protest which may harm their agitation and turn the society against them.
On Karnal SDM Ayush Singh, who was caught on camera purportedly telling police to break the heads of agitating farmers, Khattar said the IAS officer’s choice of word was inappropriate but defended the police action.
Deputy CM and JJP leader Dushyant Chautala had on Sunday promised action against Sinha amid mounting opposition’s attack against the Khattar government over the Saturday lathi-charge on farmers and their demand of strict action against the magistrate.
The government will definitely take whatever action is deemed fit, he said.
Addressing media on the completion of 2,500 days of the BJP-JJP combine government in Haryana, Khattar insisted on the Punjab government’s role in making farmers choose Haryana to protest against the farm laws.
also hit out at his Punjab counterpart Amarinder Singh for seeking his resignation over the police action against farmers protesting against the farm laws in Karnal on Saturday.
He said rather Punjab CM Amarinder Singh should resign as most of the people sitting at the Tikri and Singhu borders — I would say around 80 per cent — are from Punjab .

पंजाबी फिल्म ‘शूटर’ के प्रदर्शन पर हरियाणा में तत्काल रोक

(चंडीगढ़,) हरियाणा सरकार ने पंजाबी फिल्म ‘शूटर’ के प्रदर्शन पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी है।
 राज्य सरकार के एक बयान के अनुसार  फिल्म को राज्य में “अप्रमाणित” माना जाएगा।
बताया गया है कि फिल्म में हिंसक सामग्री और अपराध की अंधेरी दुनिया के चित्रण से स्कूल और कॉलेज के छात्रों पर नकारात्मक प्रभाव पड़ने की आशंका है क्योंकि वे अपराध और हिंसा के महिमामंडन से प्रभावित हो सकते हैं।

कोरोना के भमबड़भूसे से त्रस्त सियासतदां मुल्क को लॉक डाउन की गदिघेड़ में डाल रहे

झल्लीगल्लां
चिन्तितनागरिक
Corona Lock Downओए झल्लेया! ये क्या हो रहा है? सियासतदां तो हसाडे सोण मुल्क को किस गदिगेड़ में डाले जा रहे हैं??
पहले कहते तो कि लॉकडाउन नही लगेगा ,और अब दिल्ली,उत्तरप्रदेश,हरियाणा,पंजाब ,राजस्थान आदि में किसी न किसी छद्म नाम से 17 मई तक लॉक डाउन बढ़ा दिया गया।ओये मजदूर बेचारे फिर पलायन को मजबूर होने लग गए
झल्ला
भापाझल्ला जी! कोरोना किसी के भी काबू में नही आ रहा शायद इसीलिए भम्भडभूसे में डाले रखना चाहते हैं।

1947 से कंपनसेशन/#रिहैबिलिटेशन क्लेम की सरकारी लूट अभी भी जारी

#मोदीभापे
हमे वक्त के साथ चलना ना आया
लुटेरों को”जी हुज़ूर”कहना ना भाया
कश्ती हमारी भंवर में ही रही
कोई मांझी बन कर सियासत ना आया
Polish_20210124_133318173#कंपनसेशन/#रिहैबिलिटेशन क्लेम की सरकारी लूट अभी भी जारी
1947 में मुल्क के बंटवारे के फलस्वरूप #जम्मूकश्मीर आ कर बसे हिन्दू+सिखों को 72 साल पश्चात नागरिकता तो दे दी गई लेकिन उनके कल्याण के लिए केंद्र की तरफ से जारी 200 करोड़ ₹ की राशि को राज्य में खुर्दबुर्द कर लिया गया है । इसके लिए कागज़ात मांगे जा रहे है
उत्तरप्रदेश में बिजनोर में 1947 में आकर बसे हिन्दू सिखों को अब उनके द्वारा स्वर्ग बनाई गई भूमि को छोड़ने का दबाब बनाया जा रहा है।यह भूमि जंगल थी खादरथी बंजर पहाड़ी थी लेकिन अब सोना उगलने वाली बेशकीमती जमीन है
#पंजाब में तो लूट की हद हो चुकी है ।कागजात दिखाए जाने के उपरांत भी कंपनसेशनक्लेम नही दिए जा रहे। इस लूट को कवर करने के लिए 2005 में काला एक्ट थौपा गया।और अब तो #RTI के अंतर्गत सूचना भी नही दी जा रही।केंद्र के पत्राचार को डस्टबिन में फेंका जा रहा है
#PMOPG/E/2016/0125052

Farmers Protesting Should End Their Agitation Now ;Khattar

(Chd,Hary) Farmers Protesting Should End Their Agitation Now ;Khattar
Chief Minister Manohar Lal Khattar on Tuesday said the farmers protesting at Delhi’s borders should end their agitation now following the formation of a committee by the Supreme Court over the new farm laws.
The ball is now in the court of the SC and I feel whatever is its decision, it will be acceptable to all, he said, welcoming the SC order.
The Supreme Court stayed till further orders the implementation the three central agri-marketing laws over which farmers from Punjab and Haryana have been protesting for weeks.
The court also announced the formation of a four-member committee to resolve the deadlock over the new laws between the Centre and farmers’ unions.
On the farmer unions’ refusal to call off their protest after the SC order, Khattar said there was no reason now for them to continue with it.
Khattar has been targeted by farmer unions for supporting the new laws enacted at the Centre in September.
On Sunday, protesters in Karnal vandalised the venue of the kisan mahapanchayat the chief minister had planned to address in support of the laws.

मनोहारी खट्टर तो हरियाणवी कांग्रेस की आंखों में शुरू से ही खटक रहा है

#हरियाणवीभजपाई
ओए झल्लेया!ये कांग्रेस और वामपंथियों की मति मारी गई है क्या?#किसानआंदोलन के नाम पर हसाडे कर्मठ और समर्पित सीएम श्री #मनोहरलालखट्टर जी का अपमान करने के लिए करनाल में सी एम की महापंचत मंच ही तोड़ डाला+कुर्सियां उछाल डाली और तो और हेलीपेड पर भी कब्जा कर लिया
ओए !सुप्रीम कोर्ट में किसानी कानूनों पर सुनवाई चल रही है+केंद्र सरकार नोवीं वार्ता के लिए तैयारी कर रही है और इधर गुरनाम सिंह चढूनी समर्थकों ने केमला महापंचायत ही नही होने दी जिसमे खट्टर साहिब 100 करोड़ ₹ की विकास यौजनाओं की घोषणा करने वाले थे।ओए ये लोग हिंसा से जमीन हथिया पाएंगे??
#झल्ला
चतुर सेठ जी!तवाडा खट्टर साहब तो इनकी आंखों में शुरू से ही खटक रहा है!याद करो कि जब मनोहरलालखट्टर ने हरियाणा के मुख्यमंत्री का कार्यभार संभाला था तब ऐसे ही लोगों ने कितनी तोड़ फोड़+लूटमार मचाई थी ।करनाल हाइवेज के ढाबों से गुजरने वाले आज भी सिहर जाते होंगे
सोर्स लिंक http://www.bhasha.ptinews.com/news/2110640_bhasha

खट्टर ने विकास के लिए किसान महापंचायत बुलाई लेकिन विरोधियों ने तोड़फोड़ की

(चंडीगढ़,हरियाणा)खट्टर ने विकास के लिए किसान महापंचायत बुलाई लेकिन विरोधियों ने तोड़फोड़ की
करनाल जिले के कैमला गांव में प्रदर्शनकारी किसानों ने ‘किसान महापंचायत’ के कार्यक्रम स्थल पर तोड़फोड़ की जहां मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर लोगों को केंद्र के तीन कृषि कानूनों के ‘‘फायदे’’ बताने वाले थे।सी एम मनोहरलाल खट्टर के अनुसार उन्होंने इस छेत्र के लिए 100 करोड़ ₹ की यौजनाओं की घोषणा भी करनी थी जो अब भविष्य में किसी अन्य कार्यक्रम में कई जाएंगी।
इससे पहले पुलिस ने कैमला गांव की ओर किसानों के मार्च को रोकने लिए उन पर पानी की बौछारें कीं और आंसू गैस के गोले छोड़े।
बहरहाल, प्रदर्शनकारी कार्यक्रम स्थल तक पहुंच गए और ‘किसान महापंचायत’ कार्यक्रम को बाधित किया।
उन्होंने मंच को क्षतिग्रस्त कर दिया, कुर्सियां, मेज और गमले तोड़ दिए।
किसानों ने अस्थायी हेलीपेड का नियंत्रण भी अपने हाथ में ले लिया जहां मुख्यमंत्री का हेलीकॉप्टर उतरना था।
किसानों के इस हुड़दंगी व्यवहार के लिए बीकेयू नेता गुरनाम सिंह चरूनी पर आरोप लगाए जा रहे है
भारतीय किसान यूनियन (चरूनी) के तत्वावधान में किसानों ने पहले घोषणा की थी कि वे ‘किसान महापंचायत’ का विरोध करेंगे। वे तीन कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग कर रहे हैं।
कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने किसानों पर पानी की बौछारें छोड़ने और आंसू गैस के गोले दगवाने के लिए मुख्यमंत्री खट्टर की आलोचना की।

Firebrand Anil Vij ,After Defeating Corona,Discharged from Hospital

(Chd,Hary) Anil Vij Discharged from Hospital
Haryana Home Minister Anil Vij was on Wednesday discharged from Gurgaon’s Medanta Hospital where he had undergone treatment for COVID-19.
Minister Tweeted He will now stay at his Ambala residence on oxygen support,
Over the past some days, Vij had been showing steady improvement. He was admitted to Medanta hospital on December 15. Earlier He was Shifted from ICU to Room
Vij, a BJP MLA from Ambala Cantt, had tested positive for COVID-19 on December 5. Initially, he was admitted to the Civil Hospital at Ambala and later shifted to the PGIMS, Rohtak, before being hospitalised at Medanta.
The firebrand BJP leader had offered to be the first volunteer in the phase three trials for Covaxin, an indigenous potential vaccine being developed by Bharat Biotech against COVID-19.
He was administered a dose on November 20 at the Civil Hospital in Ambala Cantonment.
Bharat Biotech had said that clinical trials of the vaccine are based on a two-dose schedule, given 28 days apart. The vaccine efficacy will be determined two weeks after the second dose,
Covaxin has been designed to be protective two weeks after volunteers receive the second dose.
The Union health ministry had also stepped in to say that Covaxin is a two-dose anti-coronavirus vaccine and that Vij was given only the first dose a fortnight before he tested positive.
File Photo

पंजाब सरकार ने पडौसार्थ गड्डा खोदा तो खुद के लिए जीएसटी की खाई तैयार कर ली

#पीड़ितनागरिक
ओए झल्लेया ये क्या हो रहा है?32 दिन से आंदोलन के नाम पर #किसानों ने पँजांब में 1400 मोबाइल टावर्स के कनेक्शन काट दिए।#हरियाणा का #टोल फ्री करवा रहे हैं ओए इस नुकसान की भरपाई के लिए सरकारों ने हम पर और टैक्स लाद देने हैं
#झल्ला
भापा जी !पँजांब सरकार ने हरियाणा और केंद्र सरकार के लिए गड्डा खोदा और किसानों को उनकी तरफ डाइवर्ट कर दिया ।अब खुद पँजांब के लिए भी खाई खुद रही हैं।मोबाइल और टोल से प्राप्त होने वाला #जीएसटी भी घटेगा सो उसमें राज्य का हिस्सा भी तो घटेगा

One IAS, 3 IPS Officers Shuffled in Haryana

(Chd,Hary)One IAS, 3 IPS Officers Shuffled in Haryana
G Anupama, Secretary to Governor, Haryana, Chief Administrator, Trade Fair Authority of Haryana, New Delhi, Principal Secretary, Forests and Wildlife Department has been appointed as Nodal Officer for International Gita Mahotsav-2020, in addition to her present duties.
Naazneen Bhasin, Superintendent of Police Recruitment Training Centre (RTC) Bhondsi with additional charge of Commandant second Indian Reserve Battalion, Bhondsi has been given additional charge of SP, State Vigilance Bureau.
Rajesh Duggal, SP, Kurukshetra has been posted as Superintendent of Police, Jhajjar while Himanshu Garg, SP, Jhajjar has been posted as SP, Kurukshetra,