Ad

Tag: NarendraModi

महात्मा गाँधी को श्रद्धांजलि देने के लिए १९४७ के बंटवारे में हुई गलती को सुधारो

महात्मा गाँधी को श्रद्धांजलि देने के लिए १९४७ के बंटवारे में हुई गलती को सुधारो

महात्मा गाँधी को श्रद्धांजलि देने के लिए १९४७ के बंटवारे में हुई गलती को सुधारो

[नई दिल्ली ] महात्मा गाँधी को श्रद्धांजलि देने के लिए १९४७ के बंटवारे में हुई गलती को सुधारो
महात्मा गांधी बने मोहन दास की आज जयंती है सो सबको बधाई| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी+विपक्ष के श्रीमती सोनिया गाँधी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी इनकी समाधि पर श्रद्धा सुमन अर्पण कर स्वयं को धन्य कर रहे हैं |
विलायत पास मोहन दास ने आधी धोती और एक कमजोर सी लाठी लेकर अपने मुल्क में शक्तिशाली अंग्रेजों के खिलाफ आजादी की मुहीम छेड़ी |
लेकिन इसके साथ ही 1947 में एक गलत निर्णय लेकर बिना किसी तैयारी के देश का बंटवारा स्वीकार कर लिया
यह विभाजन सबसे बढ़ी त्रासदी के रूप में सामने आया| बंटवारे से दोनों तरफ के लाखों भारत वासियों के जान माल को हानि पहंची | दोनों तरफ के दबंगों ने संपत्ति की लूट मचाई लेकिन इसके पश्चात् भारत में पुनर्वास के लिए तैनात अधिकारीयों ने भी कोई कसर नहीं छोड़ी |दोनों तरफ के विस्थापितों द्वारा अपनी चल अचल सम्पत्ति को त्याग कर दूसरे अनजान देश में असहाय जाना पढ़ा
इनको अचल सम्प्पति को एक दुसरे की संपत्ति से एडजस्ट किया गया |मसलन पाकिस्तान में छोड़ कर आये हिन्दुओं की सम्पत्ति को भारत में छोड़ी गई मुस्लिमों की सम्पत्ति से एडजस्ट किया गया |यह सब सरकारी स्तर पर हुआ |लुटे पिटे आये हिन्दुओं ने अपनी रोजी रोटी के जुगाड़ में जुट गए ऐसे अधिकांश लोगों को केवल कागजों में ही संपत्ति दी गई और कुछ समय पश्चात् उसे भी कागजों में ही निरस्त कर दिया गया |पकिस्तान में छोड़ी गई सम्पत्ति की एवज में भारत में मुआवजा लेने के पश्चात् भी पीड़ितों को नहीं दिया जाना किसी भी सामाजिक आर्थिक और कानूनी अपराध से कम नहीं आंका जा सकता मगर दुर्भाग्य से इस अपराध पर पर्दा डालने के लिए २००५ में काला एक्ट ला कर इस व्यवस्था को ही समाप्त कर दिया गया| प्रधान मंत्री और हरियाणा +पंजाब के मुख्य मंत्रियों द्वार संचालित ग्रीवांस सेल्ल भी कोई न्याय नहीं दिला पा रहे हैं |इसी के नतीजतन शिकायतें केवल कम्प्यूटरों में रखे हैं और आज भी बढ़ी संख्या में पीड़ित अदालतों और ओल्ड लैंड रिकॉर्ड कार्यालय में चक्कर लगा रहे हैं |
गलती पर पर्दा डालने को आज भी हजारों पीड़ितों को उनके हक के रिहैबिलिटेशनक्लेम से वंचित रखा जा रहा है
इसी एक महा गलती को सच्चे मन से सुधार कर बापू को सच्ची श्रद्धांजलि देनी होगी |
फाइल फोटो

प्रधानमंत्री मोदी ने लाखों ट्रिपल “ऐ” कार्यकर्ताओं के लिए खजाना खोला

[नई दिल्ली] प्रधानमंत्री मोदी ने लाखों ट्रिपल ऐ कार्यकर्ताओं के लिए खजाना खोला |पी एम ने इनके वेतन मान+मानदेय+मानधन में एक अक्टूबर से बढ़ोत्तरी करने की घोषणा की |इसे उन्होंने दिवाली गिफ्ट का नाम दिया
प्रधान मंत्री मोदी ने आज लाखों आशा+ऐऍनएम +आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के लिए खजाना खोला | अनेको राज्यों में आशा और कार्यकर्ताओं ने वेतन मान में सुधार के लिए आंदोलन छेड़ा हुआ है |
प्रधान मंत्री ने कहा के आँगनबाड़ी
१५०० रु पाने वाले कार्यकर्त्ता को २२५० रु मिलेंगे
रु २२५० पाने वालों को रु ४५०० मिलेंगे उन्होंने बताया के कार्यकर्ताओं को मिल रही प्रोत्साहन राशि में केंद्र के योगदान को दोगुना कर दिया गया है||
भारत के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने आज आशा+ऐऍनएम +आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं सेसीधा संवाद कायम किया और उनके मानदेय में केंद्र के योगदान को दोगुना+ड्योडा करने की घोषणा की | पीएम ने सभी के लिए निशुल्क रु ४ लाख की बीमा योजनाओं की घोषणा की
श्री मोदी ने आशा और आँगन बाड़ी कार्यकर्ताओं के योगदान को सराहा और देश के दूरदराज इलाकों में भी आयोडीन+आयरन +नवजात शिशुओं और प्रसूति माताओं के कल्याण में जुटे लगभग २४ लाख से अधिक कार्यकर्ताओं को नमन किया
पी एम ने कहा के अब आशा वर्कर को १५ महीने में ११ बार बच्चे के घर जाना होगा| पहले ४२ दिन में ६ बार जाना होता था|

पीएम और डीएम ने भी रक्षाबंधन की बरसाई बधाइयां

[मेरठ यूपी] पीएम और डीएम ने भी रक्षाबंधन की बरसाई बधाइयां
भाई बहन के प्यार और त्याग का प्रतीक रक्षा बंधन का पावन पर्व आज हर्षोंल्लास से मनाया जा रहा है|
प्रधान मंत्री से लेकर जिलाधिकारी तक के नेता और अधिकारीयों द्वारा सोशल मीडिया पर बधाइयां दी जा रही है
प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया
“सभी देशवासियों को रक्षाबंधन के पावन पर्व की बहुत-बहुत शुभकामनाएं। Greetings on Raksha Bandhan.”
श्री मोदी ने बीते वर्ष भी रक्षाबंधन पर महिलाओं+बच्चों से राखियां बंधवाई थी
मेरठ के जिलाधिकारी अनिल ढींगरा ने अपने ट्विटर पेज पर रक्षण बंधन की इमेज के साथ लिखा है
“जिला प्रशासन मेरठ की ओर से सभी जनपदवासियों को #रक्षाबंधन की हार्दिक शुभकामनाएं”
बीते वर्ष की फाइल फोटो

वाजपई ने अंतिम सांस ली: पीएम ने शोक व्यक्त किया

[नई दिल्ली] प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने अटल बिहारी वाजपई की मृत्यु पर इन शब्दों में शोक व्यक्त किया
“मैं नि:शब्द हूं, शून्य में हूं, लेकिन भावनाओं का ज्वार उमड़ रहा है। हम सभी के श्रद्धेय अटल जी हमारे बीच नहीं रहे। अपने जीवन का प्रत्येक पल उन्होंने राष्ट्र को समर्पित कर दिया था। उनका जाना, एक युग का अंत है।
लेकिन वो हमें कहकर गए हैं- “मौत की उमर क्या है? दो पल भी नहीं, ज़िन्दगी सिलसिला, आज कल की नहीं मैं जी भर जिया, मैं मन से मरूं, लौटकर आऊँगा, कूच से क्यों डरूं?”
अटल जी आज हमारे बीच में नहीं रहे, लेकिन उनकी प्रेरणा, उनका मार्गदर्शन, हर भारतीय को, हर भाजपा कार्यकर्ता को हमेशा मिलता रहेगा। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे और उनके हर स्नेही को ये दुःख सहन करने की शक्ति दे। ओम शांति !

मोदी ने केजरीवाल के अर्ध शतकीय जन्मदिन पर बधाई दी

[नई दिल्ली]मोदी ने केजरीवाल को अर्ध शतकीय जन्मदिन की बधाई दी
भारत के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री तथा आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक अरविंद केजरीवाल को आज उनके जन्मदिन पर बधाई दी।
मोदी ने ट्वीट किया, “ दिल्ली के मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल जी को जन्मदिन की बधाई। कामना करता हूं कि वह लंबा और स्वस्थ जीवन जिएं।”
केजरीवाल ने शुभकामनाओं के लिए मोदी को धन्यवाद दिया ।
उन्होंने ट्वीट कर कहा, “बहुत-बहुत धन्यवाद सर।”
केजरीवाल आज 50 वर्ष के हो गए।
फाइल फोटो

नन्हें शेरो के उत्साह के सामने ५६ इंची बब्बर शेर को कदम पीछे हटाने पढ़े

[दिल्ली]नन्हें शेरो के उत्साह के सामने आज भारत के ५६ इंची बब्बर शेर को कदम पीछे हटाने पढ़े |लाल किले की प्राचीर से अपना ८० मिनट का भाषण समाप्त करके भारत के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी मैदान में बैठे लगभग ५००० बच्चों के बीच जा पहुंचे |अपने बीच पी एम को पा कर तीन रंगों में रंगें बच्चे उत्साह में सभी प्रोटोकॉल भुला कर अपने प्रिय नेता की तरफ लपके और हाथ मिलाने लग गए |इस प्रेम को देख कर पी एम अविभूत तो दिखाई दिए लेकिन बच्चों से हाथ मिलते समय अपना शारीरिक संतुलन बनाये रखने के लिए दो बार कदम पीछे करते भी दिखाई दिए |मोदी की यह स्थिति देख कर सुरक्षा कर्मियों ने पीएम् के चारों तरफ के घेरे को और संकरा कर उत्साही बच्चों को शांत करने में जुट गए|

मोदी के हरि ने राज्यसभा के उपसभापति पद के लिए कांग्रेस के हरि को हराया

[नयी दिल्ली]मोदी के हरि ने कांग्रेस के हरि को राज्य सभा के उपाध्यक्ष पद के लिए हराया
वरिष्ठ पत्रकार और चम्पारण के समाजसेवी हरिवंश नारायण सिंह ने बी के हरि को हरा कर अपर हाउस का उपसभापति पद जीता
ऍनडीऐ के घटक जदयू के राज्यसभा सदस्य हरिवंश को आज उच्च सदन के उपसभापति पद के लिए चुना गया।
उन्हें विपक्ष की ओर से कांग्रेस के उम्मीदवार बी के हरिप्रसाद को मिले 105 मतों के मुकाबले 125 मत मिले।
सदन की कार्यवाही शुरु होने पर सभापति एम वैंकेया नायडू ने सदन पटल पर आवश्यक दस्तावेज रखवाने के बाद उपसभापति पद की चुनाव प्रक्रिया शुरु करवायी। हरिवंश के पक्ष में 125 और हरिप्रसाद के पक्ष में 105 मत पड़े। मतदान में दो सदस्यों ने हिस्सा नहीं लिया। सदन में कुल 232 सदस्य मौजूद थे।
हरिवंश के पक्ष में जदयू के आर सी पी सिंह, भाजपा के अमित शाह, शिव सेना के संजय राउत और अकाली दल के सुखदेव सिंह ढींढसा ने प्रस्ताव किया। वहीं हरिप्रसाद के लिये
बसपा के सतीश चंद्र मिश्रा,
राजद की मीसा भारती,
कांग्रेस के भुवनेश्वर कालिता,
सपा के रामगोपाल यादव और
राकांपा की वंदना चव्हाण ने
प्रस्ताव पेश किया। इन प्रस्तावों पर मतविभाजन के बाद सभापति नायडू ने हरिवंश को उपसभापति निर्वाचित घोषित किया। इसके बाद हरिप्रसाद ने हरिवंश को उनके स्थान पर जाकर बधाई दी। नेता सदन अरुण जेटली, नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद, संसदीय कार्यमंत्री अनंत कुमार और संसदीय कार्य राज्यमंत्री विजय गोयल ने हरिवंश को बधाई देते हुये उन्हें उपसभापति के निर्धारित स्थान पर बिठाया। इसके बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने हरिवंश को शुभकामनायें देते हुये उनके विभिन्न क्षेत्रों के अनुभव के हवाले से उनके निर्वाचन को सदन के लिये गौरव का विषय बताया।
उल्लेखनीय है कि कांग्रेस सदस्य पी जे कुरियन के पिछले महीने सेवानिवृत्त होने के बाद उपसभापति का पद खाली हुआ था।

मंत्री+संतरी भी आम आदमी की तरह ही “पीएम” से नहीं मिल सकेंगे

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

भाजपाई चेयर लीडर

औए झल्लेया !हसाड़े धाकड़ पीएम नरेंद्र भाई दामोदर दास मोदी पर सबसे अधिक अज्ञात खतरा मंडरा रहा है|इसीलिए उनकी सुरक्षा बढ़ा दी गई है |अब मंत्रियों एवं अधिकारियों तक को भी विशेष सुरक्षा समूह (एसपीजी) की इजाजत के बगैर प्रधानमंत्री के बेहद करीब पहुंचने की अनुमति नहीं होगी।

झल्ला

सेठ जी! अच्छा है |इन मंत्रियों और संतरियों तक आम आदमी की पहुँच नहीं थी\अब इन्हें शायद आम आदमी के दर्द का अहसास भी हो जाएगा|
फाइल,सिंबॉलिक ,फोटो

मोदी ने “मन की बात” को अफगानिस्तान के साथ क्रिकेट मैच के उल्लेख से किया

[नई दिल्ली]मोदी ने अपने “मन की बात” को अफगानिस्तान और भारत के बीच हुए क्रिकेट मैच के उल्लेख से किया |प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने खिलाड़ियों के स्पोर्ट्समैन स्पिरिट की प्रशंसा करते हुए भविष्य में भी एक जुट होकर अंतरष्ट्रीय एकता के लिए प्रयास करने का आह्वाहन किया|

पीएम की डिनर डिप्लोमेसी मिशन २०१९ के लिए अच्छी शुरुआत

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

भाजपाई चेयर लीडर

औए झल्लेया ! हसाड़े धाकड़ प्रधान मंत्री नरेंद्र भाई दामोदर दास मोदी जी ने मिशन २०१९ के तहत पार्टी के नेताओं के कसबल कसने शुरू कर दिए |उन्होंने आरएसएस और भाजपा के नेताओं को एक साथ आज डिनर पर बुलाया है

झल्ला

पीएम की डिनर डिप्लोमेसी मिशन २०१९ के लिए अच्छी शुरुआत कही जा सकती है|
आपके पीएम साहिब इफ्तार की दावत तो देने से रहे |अब चूँकि मिशन २०१९ शुरू हो चूका है ,सो भगवा ब्रिगेडों को एक जुट करने के लिए डिनर से अच्छी शुरुआत हो सकती है |