Ad

Tag: Diwali

Saffrons & Broomers are Boomeranging Air Pollution

(New Delhi)Saffrons & Broomers are Boomeranging Air Pollution in Delhi
Delhi’s air pollution skyrocketed after Diwali. A layer of haze enveloped the national capital as the city’s air quality plummeted to the “severe” category for the first time this season.
The overall air quality index (AQI) stood at 463 at 11.30 am, according to the System of Air Quality and Weather Forecasting and Research (SAFAR).
The AQI at Pusa, Lodhi Road, Airport Terminal T3, Noida, Mathura Road, Ayanagar, IIT Delhi, Dhirpur, and Chandni Chowk was 480, 436, 460, 668, 413, 477, 483, 553 and 466, respectively. Ruling AAP on Monday said that the saffron party has “a habit of” opposing everything that the Kejriwal government does.
But Delhi BJP leader Vijender Gupta hit back, saying the Aam Aadmi Party is making these claims to “distract” people from its failures to curb air pollution to a manageable level.
Addressing a press conference, senior AAP leader and Rajya Sabha MP Sanjay Singh said BJP leaders should think about their families before bursting crackers.
He was apparently referring to Delhi unit BJP chief Manoj Tiwari, who posted a video on Twitter where he could be seen lighting earthen lamps and bursting firecrackers with people in unauthorised colonies.
Gupta said ,AAP is making such claims because its government has not done any ground work in Delhi. “Controlling pollution needs work all through the year. The AAP has not done that and now to distract people from its own failures it is making such comments.”

Prime Minister Modi Tweets Diwali Greetings

(New Delhi) Prime Minister Modi Tweets Diwali Greetings
Prime Minister of India Narendra Modi wished the people on the auspicious occasion of Diwali.
“May this festival of lights bring new light to the lives of all of us and our country will always be lighted with happiness, prosperity and good fortune”
देशवासियों को दीपावली के पावन अवसर पर बहुत-बहुत शुभकामनाएं। रोशनी का यह उत्सव हम सभी के जीवन में नया प्रकाश लेकर आए और हमारा देश सदा सुख, समृद्धि और सौभाग्य से आलोकित रहे।

शाहदरा [ऍनसीआर]में भीषण आग से तीन की मौत+१० झुलसे

[नयी दिल्ली]शाहदरा [ ऍन सी आर ]में भीषण आग से तीन लोगों की मौत+१० अन्य झुलसे
पूर्वोत्तर दिल्ली शाहदरा इलाके के एक मकान में आग लग जाने से तीन लोगों की आज मौत हो गई और 10 अन्य लोग झुलस गए।
पार्किंग स्थल में आज प्रातः लगी भीषण आग ने चार मंजिला इमारत लो लील लिया |
प्राप्त जानकारीके अनुसार दमकल की पांच गाड़ियों से आग पर सुबह साढ़े छह बजे काबू पाया गया।
मृतकों की पहचान किया जाना अभी बाकी है।
आग में झुलसे 10 लोगों का जीटीबी अस्पताल में उपचार किया जा रहा है।दिल्ली में इस दिवाली में लगभग ३०० स्थानों पर आग लगने की घटनाएं दर्ज की जा चुकी हैं |

Five Dayer Diwali Festival BeginsToday With Dhanteras:PM Greets

[New Delhi]Five Dayer Diwali Festival Starts Today With Dhanteras:PM Greets
PM Tweeted
“Dhanteras greetings to all of you. I pray that this very special day brings prosperity,happiness & good health in everyone’s lives”.
Dhanteras is the first day of the five-day Diwali Festival as celebrated primarily in Northern+ Western part of India.
The festival, known as “Dhanatrayodashi” or “Dhanvantari Trayodashi”.The word Dhana means wealth and Trayodashi means 13th day as per Hindu calendar.
It is celebrated on the thirteenth lunar day of Krishna paksha (dark fortnight) in the Hindu calendar month of Ashwayuja .
On Dhanteras, Goddess Lakshmi is worshiped to provide prosperity and well being. Dhanteras holds special significance for the business community due to the customary purchases of precious metals Like gold + silver articles + new utensilson this day.
Lord Kubera, the God of assets and wealth is also worshipped on this day.
Business premises are renovated and decorated. Entrances are made colorful with traditional motifs of Rangoli designs to welcome the Goddess of Wealth and Prosperity. To indicate her long-awaited arrival, small footprints are drawn with rice flour and vermilion powder all over the houses. Lamps are kept burning all through the night.

Meditate for SomeTime Daily And Enjoy Brilliant Godly Lights Forever:Sant Rajinder Singh Ji

[New Delhi] Meditate for some time daily And enjoy Brilliant Godly Lights Forever :Sant Rajinder Singh Ji Maharaj
The Spiritual Guru Sant Rajinder Singh Ji Maharaj Inspires To Meditate And Light The Soul
Head Guru Of Science Of Spirituality And Sawan Kripal Ruhani Mission Sant Rajinder Singh Ji Maharaj ,While Showing the importance of festivals ,says that The festival of Diwali, or “The Festival of Lights,” is a holiday in which families light lamps, which illumine the night.On Diwali, it is traditional to light candles and lamps But It is a time to reflect upon the importance of lighting our inner lamps—the light of the soul.
That light within us is the Light and Sound of God. Once lit it burns forever.The Light of God is within.
By meditating daily, we can see for ourselves the Light of God burning within. As we meditate and go within, we see the same Light of God that shines in us glowing in all other people as well. That sense of unity breaks down the outer divisions that typically divide people. Such holidays which are celebrated as one family are an expression of our sense of oneness both internally and externally.
This holiday is a time to remember to not only enjoy the outer lights but to go within to enjoy the inner Lights. Brilliant lights await us within.We need only to sit in meditation for some time daily to enjoy them.

झाड़ू के साथ फोटुएं खिंचवाने में माहिर भाजपा के स्थानीय न्रेतत्व के स्वछता के प्रति समर्पण भाव पर प्रश्न चिन्ह

[मेरठ]झाड़ू के साथ फोटुएं खिंचवाने में माहिर भाजपा के स्थानीय न्रेतत्व के स्वछता समर्पण भाव पर प्रश्न चिन्ह झाड़ू के साथ मीडिया में फोटुएं खिंचवाई +स्वछता अभियान में अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई+ ऐसे भाजपा के स्थानीय न्रेतत्व के अपने छेत्रों में त्योहारों पर भी सफाई अव्यवस्था हावी है जिसे लेकर इनकी सफाई के प्रति समर्पण भाव पर प्रश्न चिन्ह लगने शुरू हो गए हैं |जाहिर है कि जब मीडिया में फोटो छपवाने और होर्डिंग लगवाने से ही राष्ट्रीय न्रेतत्व की नजरों में चढ़ा जा सकता है तो गवर्नेन्स दिखा कर पसीना क्यूँ बहाएं ?कौन बहाये ??किसके लिए बहाएं???
अनेकों बार प्रयास करने पर भी मेयर हरिकांत अहलूवालिया और प्रदेश अध्यक्ष डॉ एल के वाजपई से फ़ोन पर सम्पर्क नहीं हो पायाजिसके फलस्वरूप उनका पक्ष नहीं रखा जा सका है|
मेरठ के मेयर हरिकांत अहलूवालिया +कैंट विधायक सत्यप्रकाश अग्रवाल +सांसदराजिंदर अग्रवाल +सभी भाजपा के हैं यहाँ तक कि इस राष्ट्रीय पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ लक्ष्मी कांत वाजपई भी मेरठ शहर से विधायक है| हिंदूवादी पार्टी के इतने सारे ध्वजवाहकों के वजूद के बावजूद दिवाली जैसे पावन त्यौहार पर भी गंदगी के ढेर इन नेताओं के स्वच्छ भारत के अभियान में सेंध लगाने के लिए पर्याप्त हैं| स्थानीय नेताओं के ऐसे गवर्नेन्स के फलस्वरूप विधान सभा के लिए हुए उपचुनावों में नरेंद्र मोदी और अमित शाह का जादू भी फीका ही साबित हुआ |
दीपावली पर्व पर खरीददारी+प्रकाश के साथ सफाई का भी पौराणिक काल से महत्व है |लेकिन सरकारी अफसरों को इसकी अहमियत बता पाने में भाजपा न्रेतत्व नाकाम साबित हो रहा है।पिछले दिनों भाजपा और नगर निगम कर्मियों में द्वन्द युद्ध तक हुआ|अपनी जुबान और हाथों पर काबू खोने वाले भाजपा के समर्थकों की कार्यालय में ही पिटाई भी हुई यहाँ तक दोनों पक्षों में थाना कचहरी जाने की भी स्थिति बन गई|इस अप्रिय स्थिति के पश्चात दोनों पक्षों में समझौता कराने के प्रयासकिये गए |भाजयुमों के कार्यकर्ताओं से माफ़ी मंगवाने पर अड़े कर्मियों ने सफाई के कार्य से हाथ खींच लिए |त्यौहारों के इस मौसम में स्थिति को काबू कराने के लिए भाजपा और प्रदेश में सत्तारूढ़ सपा कि तरफ से कोई कारगरप्रयासनही किये गए जिसके फलस्वरूप पुराने+नए+शहर में नरक चतुर्थी के पश्चात भी नरक के दृश्य आँखों से ओझल नहीं हो पाये |
आज काल खरीददारी के लिए सड़कें सजी हैं+बाजारों में ग्राहकों की जबरदस्त भीड़ है+रौनक है इसके बावजूद इसके शहर के अनेकों मुख्य मार्गों के साथ अनेकों भागों में गंदगी का साम्राज्य है। इस काले साम्राज्य के खात्मे के लिए नगर निगम में गुड गवर्नेंस सिरे से नदारद है |
अफसरों की शिथिलता और कर्मियों की लापरवाही का अंजाम लोगों को गंदगी के ढेर के रूप में झेलना पढ़ा है | गंगा नगर+ हापुड़ रोड + जैलचुंगी +गढ़ रोड,के साथ ही दिल्ली रोड पर विभिन्न इलाकों में गंदगी के ढेर लगे हैं । कुकुरमुत्तों की भांति उगे खत्ते और उन पर शासन करते बेलगाम पशुओं ने लोगों जीवन नरक बना रखा है | पुराने+ नए शहर में गवर्नेंस अनुपस्थित दिखाई देती है | साकेत एलआइसी+ बच्चा पार्क +रंगोली मंडप जैसे पॉश इलाकों के प्रवेश द्वारों के पास खत्ता साम्राज्य व्यवस्था की बदहाली की कहानी कहने के लिए पर्याप्त है । बुढ़ाना गेट से शाहपीर गेट+शास्त्रीनगर+जागृति विहार +अजंता कालोनी+ दामोदर कालोनी+पंजाबी पुरा+ब्रह्मापुरी आदि में भी गंदगी और कूडे़ के ढेरों के दर्शन किये जा सकते हैं |

आतंकवादी गतिविधियों की चेतावनी के बावजूद भारतीय पीएम कश्मीर में दीवाली मनाएंगे

[नई दिल्ली]आतंकवादी गतिविधियों की चेतावनी के बावजूद भारतीय पीएम कश्मीर में दीवाली मनाएंगे
प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय राजनीती में गवर्नेंस का नया अध्याय लिखते हुए दीवाली के पावन त्यौहार को जम्मू कश्मीर के बाढ़ पीड़ितों के साथ मनाने का फैंसला किया है|
भारत के पी एम श्री नरेंद्र मोदी ने आज ट्वीट करके बताया है कि २३ अक्टूबर को कश्मीर में बाढ़ पीड़ितों के साथ दीवाली मनाएंगे |गौरतलब है कि सुरक्षा एजेंसियों द्वारा त्यौहारों पर आतंकी हमले की आशंका जताई जा रही है|सीमा पर पाकिस्तानी सेना और आतंकवादियों की गतिविधियों के बावजूद, गम दर्द को बांटने के लिए पी एम का कश्मीर जाना अपने आप में सभी चुनौतियों को स्वीकार करना है|
केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने स्वयं कहा है कि देश में आतंकी हमले की आशंका को खारिज नहीं किया जा सकता| केंद्रीय गृह मंत्री ने महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए पर्यवेक्षक के रूप में महाराष्ट्र जाने के निर्णय को भी फ़िलहाल टाल दिया है |दिल्ली में रह कर स्थिति पर नजर रखेंगे |ऐसे में बाढ़ पीडितो के गम दर्द को बांटने के लिए पी एम का कश्मीर जाना सराहनीय कदम है

Michelle Obama Celebrated world’s oldest Festival Diwali

First Lady Michelle Obama, Like Every Year ,Celebrated Diwali In The White House
Michelle Obama welcomed guests to the White House for a Diwali celebration.
The celebration started with the First Lady suprising local students at a Bollywood dance clinic and trying out some moves herself.
First Lady spoke in the East Room:“We’ve celebrated this holiday here at the White House every year since Barack took office. And there’s a reason why we’ve done that,”
When we say that we want to make the White House the “people’s house,” we mean all people. We mean that we want to honor and embrace all of the many cultures and faith traditions that make us who we are as Americans. And Diwali is very much one of those traditions.
the First Lady said”Diwali is celebrated by members of some of the world’s oldest religions not just here in America but across the globe” “ It’s a time to come together with friends and family, often with dancing and good food,”
But Diwali is also a time for contemplation and reflection. It’s a time for us to think about our obligations to our fellow human beings, particularly those who are less fortunate than we are. And as we light the diya — the lamp — we recommit ourselves to the triumph of light over darkness, of good over evil.