Ad

Tag: Narender Modi

AAP Party Demands Registration of an FIR Against Modi For Trying to Bribe Voters

AAP Party Has Demanded Registration of an FIR Against Modi For Trying to Bribe Voters
Aam Aadmi Party has filed a complaint with the EC against BJP’s Prime Ministerial candidate from Varanasi, shri Narendra Modi.
.Party Has alleged that Surat Merchants are distributing gifts In Bribe to Support Narendra Modi.
AAP party has furnished video/photo evidence along with the gift pack carrying Modi’s photo and address of the supplier in Surat. The party has demanded registration of an FIR under sections 171 B/E of the Indian Penal Code (IPC) against Shri Modi for trying to bribe voters
The AAP in a separate complaint to the EC has drawn its attention towards the fact that on April 24th the nomination procession/ rally of BJP Lok Sabha candidate from Varanasi Shri Narendra Modi incurred an
expenditure of around Rs 6 crore. The party’s complaint is based on the fact that Shri Modi
used a helicopter to arrive at the starting point of the rally and also to leave the city. The party has informed the EC that helicopter rental,
hoardings and cutouts bearing Modi’s photographs will have to be included in its election expenditure.
The cost of transportation of bringing and taking back people,
the distribution of caps T-Shirts, sarees, masks, flags and scarfs –
which were distributed in lakhs. according to BJP estimates need to be accounted for.

वल्ल्भ भाई के नाम पर इकट्ठे होंगे दो सरदार एक मन मोहणा ते दूजा भाजपाई सिपहसालार

वल्ल्भ भाई के नाम पर इकट्ठे होंगे दो सरदार
मन मोहणा ते दूजा भाजापाई सिपहसालार
वल्ल्भ भाई के स्मारक पर बनेगा विशाल स्टेचू

Dr Man mohan Singh

Dr Man mohan Singh

जिसका लोह कद होगा दुनिया में सबसे उदार
कहते हैं कि स्टेचू आफ लिबर्टी से ऊंचा होगा
लेकिन इसकी सुरक्षा का जिम्मा किसके सर होगा
स्टेचू आफ लिबर्टी को अंग्रेजी तोपों से बचाने को
किया गया था स्टेचू के नीचे एक दुर्ग का भी निर्माण
क्योंकि भारत में गुजरात पर है आतंक का साया
Narender Modi

Narender Modi


राज्य और केंद्र पर छाया अविश्वास का घना साया
अभी तो पटेल पर कांग्रेसी और भाजपाई कर रहे दावा
सरदार वल्ल्भ भाई पटेल टेड़ा है पर मेरा ही है लेकिन
अताताईयों से लोहा लेने का काम किसके जिम्मे आया ?

सपा के हरदोइये सांसद नरेश अग्रवाल ने ही मुसलमानों को नरेंदर मोदी का डर दिखाया और वोट मांगे

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

सपाई चीयर लीडर

ओये झल्लेया मजा आ गया !ओये हसाडे राष्ट्रीय महासचिव और सांसद हरदोइये नरेश अग्रवाल ने गोल टोपी पहन कर मुसलमानों के सम्मलेन में जम कर भाजपाई नरेंदर मोदी की उतारी और अल्प संख्यकों को समझा दिया कि अगर नरेंदर मोदी सत्ता में आ गया तो मुसलमानों का जीना हराम करदेगा |ओये अब तो मुस्लिम वोट हमसे अलग नहीं जाने वाले

झल्ला

ठप्पे रहो पहलवान जी ठप्पे रहो!आप ही कि पार्टी के पूर्व सांसद मौलाना महमूद मदनी की चेतावनी को आप लोग शायद बहुत जल्दी भूल गए|अरे पहलवान जी चलो में याद करवा देता हूँ | जनाब मदनी साहब ने फरमाया था कि मुसलमानों को नरेंदर मोदी का डर दिखा कर वोट मत मांगों और अब आप ही मुसलमानों को मोदी के नाम पर डरा रहे हो|ये अच्छी बात नहीं है

Gujarat is exemplary and Congress ruled Delhi Is Negatively at the top.SoCAG Reporting malnutrition is otherwise:B J P

Bhartiya Janata Party[ B J P] has ,today, come in support of Narender Modi and refuted the charges of malnutrition in Gujrat ,,and called Congress allegation ,a bundle of, falsehood. It has been claimed that by the b j p that The record of Gujarat is exemplary and Congress ruled Delhi Is Negatively at the top .So The CAG report is otherwise.
Ravi Shankar Prasad, MP & Deputy Leader of Opposition in Rajya, Sabha In a Press Briefing, said “entire campaign on the issue of malnutrition unleashed by the Congress against the Gujarat Government is false and malicious”
It may be noted that CAG report no. 22 of 2012-13 relating to performance audit of ICDS scheme (relating to malnutrition) is before the Parliament and is also available on the website of CAG. Annexure 6.4 of the said report contains State wise Nutritional Status of Children from the year 2006-07 to 2010-11. This shows that all the BJP State Government have done remarkably well in reduction of grade I & II malnutrition. Grade III & IV i.e. severe malnutrition is below 1% in all the States except two.
Gujarat has done remarkably well in reducing it from 70%(69.83) to 34%(34.21%) if the data of March 2013 is taken it is 25.09%. In comparison the record of all Congress led State Government except Maharashtra has been very poor in reducing it. The entire data was provided by the Ministry of Women and Child development. The comparative chart shown in Annexure 6.4 (refer to paragraph 6.3.2) of CAG report no. 22 of 2012-13 is reproduced below.
BJP State==2006-07======(Malnourished grade I & II)%===============2010-2011%=
[1][A]Chhattisgarh=============52.96===============================36.50
[B]Gujarat==================69.83===============================34.21
[C]Madhya Pradesh==========48.86===============================26.61
[D]Karnataka=================53.08=============================36.66
[2]Congress State
2006-07=================(Malnourished grade I & II)================2010-2011=
[A]Andhra Pradesh============53.10==============================48.63
[B]Assam===================38.72===============================30.86
[C]Haryana=================45.23================================42.90
[D]Kerala==================38.73================================36.83
[E]Maharashtra=============45.26=================================20.71
[F]Rajasthan===============53.82=================================42.80
[G]Delhi===================54.28=================================49.87
[3]Other Big State
2006-07=============(Malnourished grade I & II)====================2010-2011==[A]Bihar===================N/A===================================56.17
[B]Orissa==================55.72==================================49.71
[C]Uttar Pradesh==============52.07=================================40.72
The chart presented by Ravi Shanker Prasad shows that among the big States the BJP ruled have done very well in reducing the number of malnutrition. Gujarat has done indeed very well by reducing it from 70% to 34% and now to 25%. In Gujarat as per June 2013 percentage of severely underweight children has come down to 1.61%. on the contrary except Maharashtra the performance of all the Congress led Governments has been very-very poor in reducing malnutrition which stand confirmed by the data of the Ministry of Women and Child Development, Government of India.

भाजपा के प्रतीक्षारत कट्टर हिंदूवादी पी एम् मोदी ने कांग्रेस से मुद्दा छीनते हुए नया नारा दिया “पहले शौचालय,फिर देवालय”

[नयी दिल्ली] भाजपा के प्रधानमंत्री पद के प्रतीक्षारत उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस के हाथों से एक महत्त्व पूर्ण मुद्दा छीनते हुए बड़े साहस से कहा कि पहले शौचालय बनने चाहिए और मंदिर बाद में|
युवाओं के लिए आयोजित एक समारोह में गुजरात के मुख्य मंत्री श्री मोदी ने कहा कि हिंदुत्ववादी नेता की छवि होने के बाद भी उनमें यह बात कहने का साहस है। एनजीओ ‘सिटीजंस फॉर अकाउंटेबल गवर्नेंस’ द्वारा आयोजित युवा छात्रों के सम्मेलन में मोदी ने बुधवार को नया नारा दिया “पहले शौचालय, फिर देवालय।”
इस दौरान सेनिटेशन की समस्या से जुड़े सवाल पर उन्होंने कहा “मेरी छवि हिंदुत्ववादी नेता की। यह मुझे इस तरह कहने की इजाजत नहीं देती फिर भी मुझमें यह कहने का साहस है कि पहले शौचालय बनना चाहिए फिर देवालय बनाने चाहिए | महात्मा गांधी का संदर्भ देते हुए मोदी ने कहा कि ‘21वीं सदी में भी बहनों को खुले में शौच जाना पड़ता है यह , देश के लिए ज्यादा शर्मिंदगी की बात है |
दिल्ली के थ्यागराज स्टेडियम में आयोजित इस कार्यक्रम में करीब 200 कॉलेजों के 7 हजार छात्रों ने भाग लिया |
गौरतलब है कि महात्मा गाँधी जीवनपर्यंत शौचालयों की आवश्यकता पर बल देते रहे आज कल कांग्रेस के नेता जयराम रमेश भी बड चड . कर टॉयलेट्स के लिए वकालत करते फिर रहे हैं ऐसे में खुले रूप से मंदिर से टॉयलेट्स को प्राथमिकता का बयाँ देकर मोदी ने लगता है कि कांग्रेस के मुद्दे छीनने शुरू कर दिए हैं|

भाजपा के प्रधान मंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी के जन्मदिन को भाजयुमो विजय संकल्प दिवस के रूप में मनायेगी

भाजपा ने प्रधान मंत्री पद के लिए नरेन्द्र मोदी की घोषणा करने बाद अब मोदी का महिमा मंडन शुरू कर दिया है जिसके फलस्वरूप भाजयुमो द्वारा मोदी के जन्म दिन पर १७ सितम्बर को पूरे देश में विजय संकल्प दिवस के रूप में मनाने घोषणा की है|
भाजयुमो के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी दिनेश प्रताप सिंह ने बताया कि १७ सितम्बर को नरेन्द्र मोदी अपनी आयु के ६३ वर्ष पूरे करेंगे जिसे पूरे देश में उत्सव के रूप मनाने का निर्णय लिया गया है| इस अवसर पर नरेन्द्र मोदी के नारे [१]कांग्रेस मुक्त भारत[२]विकास युक्त भारत[३]नई सोच नई उम्मीद को साकार करने का संकल्प लिया जाएगा| मोर्चे के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनुराग ठाकुर ने युवाओं से इस संकल्प दिवस में शामिल होने की अपील की

नरेंदर मोदी के मीडिया मंत्र से प्रभावित होकर अरुण जेटली ने भी फेस बुक पर अपने पेज को लांच किया

नरेंदर मोदी के मीडिया मंत्र से प्रभावित होकर अरुण जेटली ने भी फेस बुक पर अपने पेज को लांच किया नरेंदर मोदी ने जब से भाजपा के पी em इन वेटिंग की पदवी ग्रहण की है तभी से पार्टी में उनके मीडिया मन्त्र का जाप होने लग गया है|राज्य सभा में भाजपा के नेता और वरिष्ठ वकील अरुण जेटली ने भी सोशल साईट फेस बुक पर अपने पेज को जग जाहिर कर दिया है| अभी तक भाजपा के वरिष्ठ नेताओं का पसंदीदा साईट ट्विटर ही रहा है| पार्टी के कार्यालय सचिव अरुण कुमार जैन ने बताया है कि श्री जेटली का पेज फेस बुक पर खुल गया है| जिसे देखने के लिए इस लिंक को क्लिक करना होगा| https://www.facebook.com/arunjaitley.

अब देखो मोदी के हाथों में मोदक आते ही पार्टी पर मरखने बने हुए येद्दुयुरप्पा भी अपनी भाषा बदलने लग गए हैं

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

एक दुखी भाजपाई

ओये झल्लेया ये हसाडे माननीय राजनाथ सिंह जी क्या हो गया ?उन्होंने तो पी एम् इन वेटिंग और लोह पुरुष के मायने ही बदल दिए अब देखो देश के पहले गृह मंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल को लौह पुरुष कहा जाता था और डाडा लाल कृषण अडवाणी को पी एम् इन वेटिंग लेकिन अब इन दोनों हस्तियों को खुडडे लाइन लगा कर इन दोनों की पदवियों के लिए नरेंदर मोदी का चुनाव कर लिया गया है|अब प्रधान मंत्री के लिए भाजपा के नरेंदर मोदी ही उम्मीदवार होंगे|ओये अब फिर भ्रष्टाचार +महंगाई+अपराध के बजाय कांग्रेस द्वारा सम्प्रदाईकता को ही मुद्दा बना कर जनता का ध्यान बंटाया जाएगा|

झल्ला

ओ मेरे भोले सेठ जी ये तो आप जी को भी पता है कि बाज़ार में जो बिकता है वोही चलता है |अर्थार्त जिसकी जैसी मांग होती है वोह उसी के अनुसार ही टिकता है |अब देखो मोदी के हाथों में मोदक आते ही पार्टी पर मरखने बने हुए येद्दुयुरप्पा भी अपनी भाषा बदलने लग गए हैं|

नरेन्द्र मोदी की ताजपोशी में सपा और रालोद उ. प्र. में अपने फायदे देखने लग गए हैं

भाजपा ने २०१४ में लोक सभा के चुनावों की वैतरणी पर करने के लिए नरेन्द्र मोदी को खिवैय्या बना दिया है | मोदी के हाथों से यह पतवार खींचने की कौशिश में बेशक वरिष्ठ नेता लाल कृषण अडवाणी असफल हो चुके हैं मगर उत्तर प्रदेश में समाज वादी पार्टी और रालोद इसमें अपना अपना फायदा देखने लगे हैं|
नरेन्द्र मोदी के विश्वस्त अमित शाह को उत्तर प्रदेश की कमान सौंपी गई है |अमित शाह ने प्रदेश में अपनी कार्यवाही भी शुरू कर दी है |यहाँ की भाजपा इकाई के उत्साह में कुछ वृद्धि भी दिखने लगी है लेकिन इसके ठीक उलट सपा और रालोद अपना फायदा बता रहे हैं|
सपा के प्रवक्ता और मंत्री राजेंदर चौधरी का कहना है कि मोदी की ताजपोशी भाजपा का अपना अंदरूनी मामला है|इसके असर के विषय में उनका कहना है कि मोदी के आने से भाजपा को उक्सान ही होगा इससे सपा पार्टी पर कोई असर नहीं पड़ने वाला | पार्टी अपना काम कर रही है और यह दिखने भी लगा है|पार्टी अपने काम के बल पर लोक सभा के चुनाव जीतेगी|
केंद्र में यूं पी ऐ के सहयोगी रालोद के प्रदेश अध्यक्ष मुन्ना सिंह चौहान का कहना है कि २००९ में भी मोदी ने उत्तर प्रदेश में प्रचार किया था मगर भाजपा और सिकुड़ गई थी इसका लाभ यूं पी ऐ को मिला था|मोदी के प्रदेश में आने से यूं पी ऐ फिर मजबूत होगा और पहले से अधिक ही सीटें जीतेंगे|
गौरतलब है कि प्रदेश में वोटों का ध्रुवीकरण होता आया है|सपा और रालोद का मुख्य वोट बैंक मुस्लिम वोट रहे हैं |भाजपा के लिए अयोध्या आन्दोलन लाभकारी रहा है|

एल के अडवाणी को क्या राजनीतिक सन्यास देने की तैय्यारी कर ली गई थी

गोवा में नरेन्द्र मोदी को चुनावी समिति का अध्यक्ष बनाये जाने के साथ ही भाजपा के पी एम् इन वेटिंग वरिष्ठ पत्रकार लाल कृषण अडवाणी को राजनीतिक सन्यास देने की तैय्यारी कर ली गई थी और इसकी भनक अडवाणी को लग गई तभी उन्होंने स्वयम ही इस्तीफा दे कर आर एस एस का सारा गेम ही उलटा कर दिया| | अपने ब्लॉग के टेलपीस (पश्च्यलेख) में उन्होंने इसका इशारा भी किया है|

प्रस्तुत है ब्लाग का सीधे टेलपीस (पश्च्यलेख):

फिल्म कलाकार कमल हासन ने जिस पुस्तक [ ग्रे वॉल्फ: दि एस्केप ऑफ एडोल्फ हिटलर ]का वायदा किया था, वह उन्होंने मुझे भेजी। 350 पृष्ठों वाली यह पुस्तक काफी शोधपरक है। दोनों लेखकों[ साइमन डूंस्टान+शोधपरक पत्रकार गेर्राड विलियम्स ]ने मिलकर सत्रह बार अर्जेन्टीना का दौरा किया, जहां माना जाता है कि 1962 तक वह वहां रहा। इस पुस्तक का पिछला आवरण इस रुप में सार प्रस्तुत करता है:
शोधपरक पत्रकार गेर्राड विलियम्स तथा सैन्य इतिहासकार साइमन डूंस्टान ने वर्षों के अपने शोध पर यह निष्कर्ष निकाला कि बर्लिन से एडॉल्फ हिटलर का पलायन-ऑपरेशन फ्यूरलैण्ड-को नाजियों ने 1943 से ही अत्यन्त गोपनीयता से तैयार किया था। इस सम्बन्ध में काफी प्रत्यक्षदर्शियों और साक्ष्यों के अनुसार यह आपरेशन सफल रहा और हिटलर दक्षिण अमेरिका को पलायन कर गया जहां वह 1962 में अपनी वास्तविक मृत्यु तक रहा।